35+ मुद्दत शायरी 2 लाइन - Muddat Status in Hindi



दोस्तों हिंदी उर्दू शायरी के इस Post की  Topic "Muddat Shayari" हैं. इसमें आप पढ़ सकते हैं मुद्दत शायरी 2 लाइन, मुद्दत शायरी in Urdu, मुद्दत Status, मुद्दत शायरी 4 लाइन, पर बनी बेजोड़ शानदार शायरी को, मित्रो आशा करता हूँ कि यह पोस्ट आप सभी शायरी के चाहने वालो को बेहद पसंद आएगी.

Muddat-Shayari-2-Line
Muddat Shayari 2 Line


आईये अब पढ़ते यहीं और शुरुआत करते हैं  "Muddat Shayari" के इस कलेक्शन की और अपनी  मनपसंद शायरी को शेयर करते हैं हैं बिछड़े हुए प्यार को जो एक मुद्दत के बाद मिली हैं.

35+ मुद्दत शायरी 2 लाइन - Muddat Status in Hindi


1
जिसे शिद्दत से चाहो वो मुद्दत से मिलता है
बस मुद्दत से ही नहीं मिला कोई शिद्दतसे चाहने वाला

2
वो मुझे भूल ही गयी होगी…
इतनी मुद्दत कोई खफा नहीं रहता।

Wo Mujhe Bhul Gayi Hogi,
Itani Muddat Koi Khafa Nahi Rahata 

3
पूछा था हाल उन्हॊने बड़ी मुद्दतों के बाद.
कुछ गिर गया है आँख में कह कर हम रो पड़े

Puchha Tha Haal Unhone Badi Muddaton Ke Baad,
Kuchh Geer Gaya Hai Ankhn Me Kah Kar Ham Ro Pade

4
मुद्दतों से उसके इंतजार में हुँ यारों,
कही पढ़ लिया था कि सच्ची मोहब्बत
लौटकर आती है

   मुद्दत शायरी in Urdu   

5
मुद्दत हो गयी, कोइ शख्स तो अब ऐसा मिले,
बाहर से जो दिखता हो, अन्दर भी वैसा ही मिले

Muddat Ho Gayi Koi Shaks To Ab Mile,
Baahar Se Dikhata Ho, Andar Bhi Wesa Mile
____________________________________

6
खटखटाए न कोई दरवाजा, बाद मुद्दत मैं खुद में आया हूँ.
एक ही शख़्स मेरा अपना है, मैं उसी शख़्स से पराया हूँ

7
चलो के आज बचपन का कोई खेल खेलें।
बडी मुद्दत हुई बेवजाह हँसकर नही देखा

Chalo Ke Aaj Bachapan Ka Koi Khel Khele,
Badi Muddat Huyi Bevajah Hanskar Nahi Dekha

   मुद्दत शायरी 4 लाइन   

8
सिर्फ साँसों की डोर जारी हैं,
वरना मुद्दत हुई हमें गुजरे हुये


9
एक मुद्दत से लिख रहे हैं हम इश्क़ के तराने,
न मोहब्बत वापस लौटी न गुज़रे ज़माने

10
मुद्दत हुई है बिछड़े हुए अपने-आप से,
देखा जो आज तुम को तो हम याद आ गए

Muddat Huyi Hain Bichhade Huye Aapane-Aap Se,
Dekha Jo Aaj Tum Ko To Ham Yaad Aa Gaye

11
बड़ी मुद्दत से चाहा है तुम्हें,
बड़ी दुआओं से पाया है तुम्हें,
तुम ने भुलाने का सोचा भी कैसे,
किस्मत की लकीरों से चुराया है तुम्हें

12
एक मुद्दत से मेरी माँ सोयी नही है,
मैने एक बार कहा था मुझे डर लगता है

Ek Muddat Se Meri Maa Soyi Nahi
Maine Ek Baar Kaha Tha, Mujhe Dar Lagata Hai

13
मुद्दतें हो गयीं हैं चुप रहते-रहते,
कोई सुनता तो हम भी कुछ कहते

Muddate Ho Gayi Hai Chup Rahate-Rahate,
Koi Sunata To Ham Bhi Kuchh Kahate

14
न छेड़ो मेरी नींदों को, मैं ख़्वाब में हूं,
बाद मुद्दत के, मैं मुलाकात में हूं

15
मुद्तों के बाद उसको किसी के साथ खुश देखा तो एहसास हुआ,
काश की उसको बहुत पहले ही छोड़ दिया होता
____________________________________

16
हालात मेरे मुझसे ना मालूम कीजिये,
मुद्दत हुई मुझसे मेरा ही कोई वास्ता नहीं

17
आओ के तुम्हें देखकर इफ़्तार कर लें हम,
एक मुद्दत हो गई है, इन आँखों को रोज़ा रखे हुए

18
बेरुख़ी इससे बड़ी और भला क्या होगी,
एक मुद्दत से हमें उस ने सताया भी नहीं

19
एक मुद्दत से तेरी याद भी आई न हमें,
और हम भूल गए हो तुम्हे ऐसा भी नही

20
मुद्दत के बाद उस ने जो की लुत्फ़ की निगाह,
जी ख़ुश तो हो गया मगर आँसू निकल पड़े

21
लिखी नहीं मुद्दत से कोई नज्म कलम ने,
डर है कोई न बेंच दे मेरे ग़म बाज़ार में

22
जुदा होकर भी जी रहे हैं एक मुद्दत से,
कभी दोनों ही कहते थे जुदाई मार डालेगी

Juda Hokar Bhi Jee Rahe Hai Ek Muddat Se,
Kabhi Dono Hi Kahate The Judayi Maar Dalegi

23
हम सोच रहें हैं मुद्दत से अब उम्र ग़ुज़ारें भी तो कहाँ,
सेहरा में खुशी के फूल नहीं शहरों में ग़मों के साये हैं

24
लिखा है अपने नाम से अपने पते पर खत,
मुद्दत के बाद अपनी खबर चाहती हूँ मैं

   मुद्दत शायरी 2 लाइन   

25
मुद्दत के बाद उसने जो आवाज़ दी मुझे,
कदमों की क्या बिसात थी, साँसे ठहर गयीं

26
चलो आँखों में फिर से नींद बोएँ,
कि मुद्दत से तुझे देखा नहीं है

   मुद्दत शायरी 4 लाइन   

27
मुद्दत हुई एक शख़्स ने दिल तोड़ दिया था,
इस वास्ते अपनों से मोहब्बत नहीं करते

   मुद्दत शायरी in Urdu   

28
मुद्दत हुई कि ज़िंदा हूँ देखे बग़ैर उसे
वो शख़्स मेरे दिल से उतर तो नहीं गया

29
दूर रहकर ना करो बात क़रीब आ जाओ
याद रह जाएगी ये रात क़रीब आ आ जाओ,

एक मुद्दत से तमन्ना थी तुम्हें छूने की
आज बस में नहीं ज़ज़्बात क़रीब आ जाओ


30
जल जाते हैं मेरे अंदाज़ से मेरे दुश्मन
क्यूंकि एक मुद्दत से मैंने न 
मोहब्बत बदली और न दोस्त बदले

35+ मुद्दत शायरी 2 लाइन - Muddat Status in Hindi


31
मुद्दतों बाद जब उनसे बात हुई तो 
बातों बातों में मैंने कहा,

कुछ झूठ ही बोल दो और वो हँस के बोले 
तुम्हारी याद बहुत आती है

____________________________________


32
आज फिर पूरा दिन तेरी यादों को दे दिया  तेरा संदेशा ना आया,
और शाम भी ढल गया मुझे मालूम है की एक मुद्दत से बेवफा है तू
 फिर क्यों इस बार भी तुझ पर भरोसा कर लिया.

33
कभी आना तुम मेरी गली से होकर गुज़ारना,
एक मुद्दत हो गयी मुझे ज़िन्दगी देखे हुए

=
दोस्तों आशा करता हूँ की "35+ मुद्दत शायरी 2 लाइन - Muddat Status in Hindi" यह भी पोस्ट पसंद आया होगा आप सभी को और आपने पढ़ा होगा "मुद्दत Shayari" मुद्दत शायरी in Urdu, मुद्दत Status, मुद्दत शायरी 4 लाइन, के इस कलेक्शन को दोस्त अगर यह पोस्ट आपके दिल को छू लिया हो तो इसे जरूर से शेयर करे ताकि इस कलेक्शन को और भी दोस्त पढ़ सके. धन्यवाद आप सभी का आपने इस पोस्ट को अपना प्यार दिया.



No comments