70+ काजल शायरी 2 लाइन - काजल Status




दोस्तों हिंदी उर्दू शायरी के इस Post की Topic हैं "काजल Shayari" . इसमें आप पढ़ सकते हैं काजल शायरी 2 लाइन, काजल शायरी in Urdu, काजल Status काजल शायरी Hindi  काजल शायरी 4 लाइन, पर बनी बेजोड़ शानदार शायरी को, मित्रो आशा करता हूँ कि यह पोस्ट आप सभी शायरी के चाहने वालो को बेहद पसंद आएगी.

Kajal-Shayari-2-Line
Kajal Shayari 2 Line


दोस्तों  आज की Kaajal Shayari पोस्ट का हम सब लुफ्त उठाते हैं और पढ़ते हैं "काजल Hindi Urduशायरी के इस लाज़वाब पोस्ट को और कजरारी आँखों की तारीफ करते हैं मनपसंद शायरी से अपनी मेहबूबा की तो देर कैसी आईये पढ़ते हैं इस संग्रह को और शेयर करते हैं अपने दोस्तों में.

70+ काजल शायरी 2 लाइन - काजल Status 


1
तेरी नशीली आंखे 
और उनमे लगा काजल,

हाय, तुझको देखते ही 
हो जाते हैं हम तो घायल.

2
बावरा हुआ जाता हूँ 
तेरी अखियों में इश्क देखकर,


मेरी उम्मीदों का मक़सद 
तेरी आँखों का काजल ही तो है.

3
याद है अब तक 
तुझसे बिछड़ने की वो अँधेरी शाम मुझे,


तू ख़ामोश खडी थी 
लेकिन बातें करता था काजल.

4
हौंसला तुझ में न था 
मुझसे जुदा होने का,


वरना काजल तेरी आँखों का 
न यूँ फैला होता.

5
महिफल मे आज फिर 
क़यामत की रात हो गई,

हमने लगाया अपने आखो मे काजल 
और बिन बादल बरसात हो गई.

6
शायद किसी रोज तुम समझ पाओ 
इस दिल की बेकरारी,

और तुम्हारी आंखों के काजल का 
कोई बहुत गहरा रिश्ता है.

7
चांदनी रात भी जल जाये 
जब तू काजल लगा के आए.

ये दिल भी मेरा हलचल मचाये 
जब तू काजल लगा के आए.


____________________________________

न्हे भी पढ़े:-


8
काजल रखो आँखों में, 
इंतज़ार ना रखो.

खूबसूरत हो तुम, 
खूबसूरत रहो, 


काजल शायरी Hindi

9
बांटू ना किसी से साया भी तेरा,
काजल जहाँ वहाँ तेरा बसेरा.

10
शाम की लाली रात का काजल 
सुबह की तक़दीर हो तुम,

हो चलता फिरता ताजमहल 
सांसे लेता कश्मीर हो तुम.



11
गाँव छोड़ा तो कई आँखों में काजल फैला
शहर पहुँचा तो किसी माथे पे झूमर झूमा 
बशीर बद्र

12
मुझे उसके इश्क का घना बादल बना देता,
मुझे उसकी आँखो का काजल बना देता,

तुझसे बिछड़ना अब मुझे मौत की तरफ ले जाता है,
ऐ रब इससे अच्छा तू मुझे पागल बना देता.

13
गुलाबी होठ, बिखरी जुल्फे,
और कजरारी आँखे
इस खूबसूरती ने हमे 
गलत-फहमियों में डाल रखा है. 


काजल शायरी 2 लाइन

14
हम को तो जान से प्यारी है तुम्हारी आंखे,
हाय काजल भरी मदहोश ये प्यारी आंखे.

15
आंख से बिछड़े काजल को 
तहरीर बनाने वाले,

मुश्किल में पड़ जाएंगे 
तस्वीर बनाने वाले.

16
काजल लगाकर आप महफ़िल के 
अन्दाज़ को अपना बनाने लगे,

हम तो गाने लगे 
आपके लिए मोहब्बत में ग़ज़ल।

जैसे आप चाँद बनके 
हमारे लिए रोशनी फैलाने लगे.

17
होंठों की पंखुडियाँ गुलाब लगती हैं,
कजरारी तेरी आँखे शराब लगती हैं,

जिक्र करूँ क्या तेरी मधुर मुस्कान का,
तेरी बलखाती अदाऐं महताब लगती हैं.

18
तेरी आँखों में समा जाऊँगा 
काजल की तरह,

तू ढूँढती रह जायेगी 
मुझे पागल की तरह.

19
उसका लिक्खा हुआ 
हर शख्स नहीं पढ़ सकता,

वो मिला लेता है 
काजल में हमेशा आँसू.

20
वो जो अफसाना-ए-ग़म सुन सुन के
हंसा करते थे,

इतना रोए कि 
सब आंख का काजल निकला.

21
काँपती लौ, ये स्याही, ये धुआँ, ये काजल
उम्र सब अपनी इन्हें गीत बनाने में कटी,

कौन समझे मेरी आँखों की नमी का मतलब
ज़िन्दगी गीत थी पर जिल्द बंधाने में कटी.
नीरज

22
कजरारी आँखे 
क़यामत रहे सुर्ख गाल,

होली का बहाना 
मन बहका हरा नीला गुलाल.

23
उधार मांगा है हमने तुम्हारी 
आँखों का काजल अपनी शायरी के लिए

शर्त उसने भी रख दी 
शायरी मेरी आँखों पर ही होनी चाहिए.

24
तुम पुछते हो, 
मुझे तुझमें क्या पसंद है?

उसकी बातें पसंद हैं 
उसकी शरारतें पसंद हैं

उसकी कजरारी आँखें
उसके होंठों और उसकी मुस्कान पसंद है.

25
काजल लगे नैनो मे डोरे हुए गुलाबी,
कैफियते अंजाम तमाम शहर हुआ शराबी.

26
ज़रा सी बात है लेकिन हवा को कौन समझाए,
दिये से मेरी माँ मेरे लिए काजल बनाती है. 
मुनव्वर राना 

27
तेरे मासूम चहरे पर, अदा अच्छी लगती है,
जिस घडी तु हंस दे, वो दुआ सच्ची लगती है,

तेरी आँखों में काजल, इक लकीर सी बनाता है,
समंदर पर, ये नक्काशी अच्छी लगती है.

28
लग जाएगी नज़र दुनिया की, 
जान लो,

लगा लो काजल चेहरे पर, 
गुजारिश मान लो.

29
हाथ से मेहँदी न बिखरी, 
आँखों का काजल सलामत,

ये भी कोई बात थी, 
सखी पिया मिलन की रात थी.

30
होंठों की पंखुडियाँ गुलाब लगती हैं,
कजरारी तेरी आँखे शराब लगती हैं,

जिक्र करूँ क्या तेरी मधुर मुस्कान का,
तेरी बलखाती अदाऐं महताब लगती हैं.


31
काजल आँखें, होंठ सुर्ख , 
ज़ुल्फ असीरी , गाल पे तिल,

दिल ना देते तो जान से जाते, 
सामने हथियार बहुत थे.

32
आंखें ही, क्या कम थी,
उस पर, काजल भी लगाते हो,

इश्क  में, कत्ल  के तुम  भी,
क्या हुनर आजमाते हो.

33
उसकी आँख का काजल
मेरे दिल में इश्क़ के ख़ंजर उतारता है.




34
तुम्हारी कजरारी आंखे  
जब भी मेरी तरफ देखती है,

कसम से एक ख़त 
इश्क़ का लिख भेजती है.


काजल शायरी in Urdu

35
आईना नज़र लगाना चाहे भी तो कैसे लगाए,
काजल लगाती है वो आईने में देखकर.

36
एक मायने में आँखों की हद है ये काजल,
पर तुम्हारी आँखों में हसीन बेहद है ये काजल.

37
अलसायी सुबह, फैले हुए काजल में, 
बिखरे हुए आँचल में,

बचाते बचाते छिपाते छिपाते नुमायां होती है 
कविता कोई रात की.

38
गीले लब़ कातिल निगाहें 
गज़ब का काजल गुलाबी हो़ठ,

तु ही बता ये दिल 
तुम पे न मरता तो क्या करता?

39
बहुत रोई हुई लगती है आँखें
मेरी ख़ातिर ज़रा काजल लगा लो.

40
काजल बिंदियॉ, कंगन झुमके, 
ये मेरे ख़ज़ाने हैं,

दिल पंछी बनके उड़ जाता है, 
हम खोये खोये रहते हैं.

41
जो बरस जाये वही बादल अच्छे हैं,
जो निगाहों को सजा दे वही काजल सच्चे हैं,

सयानों ने कुछ इस कदर बर्बाद कर दी है दुनिया,
हमें पागल ही रहने दो हम पागल ही अच्छे हैं.

42
हाँ, एक और शाम रंगीन हुई है 
तुम्हारे आँचल की तरह,

और देखो, सुरमयी रंग सजा है 
तुम्हारे काजल की तरह.

43
जिसे भी देख लो तुम, 
वो हुआ एक पल में दीवाना,

तिलिस्मी है बहुत सनम, 
तुम्हारी आँखों का काजल. 

44
गुलाब से गुलाब का रंग 
तेरे गालों पे आया.

तेरे नैनों ने काली घटा का 
काजल लगाया.

जवानी जो तुम पर चढ़ी तो 
नशा मेरी आँखों में आया..

45
निकल आते हैं आँसू 
गर जरा सी चूक हो जाये,

किसी की आँख में काजल लगाना 
खेल थोड़े ही है.

Nikal Aate Hain Aansoo 
Gar Jara Si Chook Ho Jaye,

Kisi Ki Aankh Mein Kajal Lagana 
Khel Thode Hi Hai.

काजल शायरी Hindi

46
लगा लेना काजल 
अपनी आखो मे जरा,

ख्बाब बनकर दाखिल होने का 
इरादा है मेरा.

Laga Lena Kazal 
Apni Ankhon Me Jara,

Khwaab Bnakar Dakhil Hone Ka 
Iraada Hai Mera.

47
मोहब्बत के सपने दिखाते बहुत हैं,
वो रातों में हमको जगाते बहुत हैं,

मैं आँखों में काजल लगाऊं तो कैसे,
इन आँखों को लोग रुलाते बहुत हैं.

48
ये लाली, ये काजल
और ये जुल्फें खुली खुली,

अरे एसे ही  जान मांग लेते 
इतना इंतजाम क्यूँ किया?

Ye Lali, Ye Kajal 
Aur Ye Julfe Khuli Khuli,

Are Ese Hi Jaan Mang Lete, 
Itana Intzam Kyu Kiya❓


काजल शायरी 2 लाइन

49
संभालकर ज़रा रखियेगा कदम 
फूल बिखरे है मगर ठेस लग जायेगी,

ये काजल लगाने का क्या फायदा 
रूप ऐसा है नज़र लग जायेगी. 


काजल शायरी in Urdu

50
न रोओ आँख का काजल
निकल कर छूट जायेगा,
ये दिल तेरे अश्क बूंदों में, 
फिसल कर टूट जायेगा.

51
एक बार इशारा तो कर दे दिल 
और जिगर तो कुछ भी नहीं,

मै खुद को जला सकता हूँ, 
तेरी आँखों के काजल के लिये.


52
जो बनाई है तिरे काजल से तस्वीरे-मुहब्बत,
अभी तो प्यार के रंग से सजाया ही कहाँ है.

53
ये नैना ये काजल ये जुल्फे ये आँचल 
खूबसूरत सी हो तुम 

ग़ज़ल कभी दिल हो कभी धड़कन कभी शोला कभी शबनम
तुम्ही ही हो तुम मेरी हमदम.

54
उस की आँखों में भी काजल फैल रहा है
मैं भी मुड़ के जाते जाते देख रहा हूँ .
जावेद_अख़्तर

55
मुहब्बत की बेनूर ख्वाहिशें 
और तेरा गम,

हम बिखर से गये 
आँखों से काजल की तरह. 

56
काजल, आँखे ,जुल्फ़े, झुमका, चेहरा, बिंदिया
हाये दिल हार गए हम तुम्हे बेनकाब देखकर.


70+ काजल शायरी 2 लाइन - काजल Status 


57
कभी काजल कभी बिंदिया 
कभी चूड़ी कभी कजरा,

मुझे ज़ख़्मी किया ज़ालिम 
तेरे इन्ही हथियारो ने.

58
मेहंदी रची हथेली मेरी 
मेरे काजल वाले नैन रे,

पिया पल पल तुझे पुकारते 
होकर बैचेन रे.




59
पकड़कर मेरी कॉलर वो बोली
बात बात पर रुला देते हो मुझे,

काजल और मस्कारा क्या 
तुम्हारे बाप के पैसों से आता है?


60
काजल लगाया है, 
जो तुम्हारे कहने पर 

ये सजे रहे ऎसे बस,
तुम इतना ख्याल रखना.

61
हुस्न-ए-ख़ुमारी का आलम 
क्या पूछते हो,

गजरा, चूड़ी, काजल, बिंदी
फ्फ्फ तुम क्या पूछते हो.

62
तौबा वो तुम्हारे गीले होंठ
वो सुरमयी आंखें, ये काजल

तुम ही बताओ? 
ये दिल नही मरता तो क्या करता?

63
आंखें ही, क्या कम थी,
उस पर, काजल भी लगाते हो,

इश्क  में, कत्ल के तुम भी,
क्या हुनर, आजमाते हो.

64
फिर लगेगी नजर
उस पगली को,

देखो आज वो फिर से 
काजल लगाना भूल गई.

65
मैं अब सुपुर्दे ख़ाक हूँ मुझको जलाना छोड़ दे,
कब्र पर मेरी तू उसके साथ आना छोड़ दे,

हो सके गर तू खुशी से अश्क पीना सीख ले,
या तू आँखों में अपनी काजल लगाना छोड़ दे.

66
नैनों के नशे में सुई को डुबोकर,
होंठों के धागे से शरारतें सीती है.

उसके नैनों में इतना नशा आख़िर क्यूं ना हो,
सुना है उसकी आंखें आखिर काजल जो पीती है.

67
गीली मेंहदी रोई होगी, छुपके घर के कोने में,
ताजा काजल छूटा होगा, चुपके-चुपके रोने में.

68
बादलों से गिर के एक काजल का कतरा 
होठों पे तेरे तिल बन के सज गया.
=

दोस्तों आशा करता हूँ की " 70+ काजल शायरी 2 लाइन -  काजल Status " की पोस्ट आपको पसंद आयी होगी। आपने पढ़ा होगा काजल शायरी in Urdu, काजल Status Hindi, काजल शायरी 4 लाइन, पर बनी बेजोड़ शानदार शायरी को, यह पोस्ट पसंद आयी हो तो अपने दोस्तों में शेयर कीजियेगा.



No comments