55+ तड़प शायरी 2 लाइन - Tadap Status



55+ तड़प शायरी 2 लाइन - Tadap Status


दोस्तों हिंदी उर्दू शायरी के इस Post की  Topic "Tadap Shayari" हैं. इसमें आप पढ़ सकते हैं तड़प शायरी 2 लाइन, तड़प शायरी in Urdu, Tadap Status, तड़प शायरी 4 लाइन, पर बनी बेजोड़ शानदार तड़प शायरी को, मित्रो आशा करता हूँ कि यह पोस्ट आप सभी शायरी के चाहने वालो को बेहद पसंद आएगी.

Tadap-Shayari
Tadap Shayari 2 Line

दोस्तों आईये आज पढ़ते हैं "तड़प, तड़पाने, तड़पने, तड़पता" जैसे शब्दों से बनी शायरियों के बेजोड़ कलेक्शन को, जो आप को बेहद पसंद आएगी। दोस्तों इस पोस्ट में दी गयी अपनी मनपसंद शायरी को जरूर से अपने दोस्तों में शेयर करे ताकि इस पोस्ट का लुफ्त आपके दोस्त भी उठा सके. 

दिल तड़प-तड़प के कह रहा है आ भी जा तू हमसे आँख ना चुरा, तुझे कसम है आ भी जा    

1
वो भी तड़प ना जाये तो इस इश्क़ पे लानत,
बस मुझसे एक बार निग़ाह मिलाने की देर है।।



2
तड़प, बेचैनी, मदहोशी का, तूफ़ान कहर बरसायेगा, 
होगा अब यलगार-ए-इश्क, शोर दूर तलक जायेगा।।

3
काश तुझे सर्दी के मौसम मे लगे मोहब्बत की ठंड,
और तु तड़प के मांगे मुझे कंबल की तरह।।

4
ऐसा नही कि, 
मेरे इन्तजार की उन्हें खबर नही,
लेकिन तड़पाने की आदत तो उनकी 
फितरत में शुमार है।।

Aisa nahi ki, 
Mere Intzaar ki  Unhe Khabar nahi,
Lekin Tadpane ki Aadat To Unki 
Fitrat mein Shumaar hai..

5
बैठे थे अपनी मस्ती में कि अचानक तड़प उठे,
आकर तुम्हारी याद ने अच्छा नहीं किया.

तबीयत भी ठीक थी, दिल भी बेक़रार न था,
ये तब की बात है, जब किसी से प्यार न था।।

6
इश्क़ को भी इश्क़ हो तो फिर देखूं मैं इश्क़ को भी
कैसे तड़पे, कैसे रोये, इश्क़ अपने इश्क़ में।।

7
सोई हुई तड़प को फिर से जगा रहा है कोई,
कहता भी कुछ नही पर हमे सता रहा है कोई।।

8
सोये हुए थे सुकून से अचानक तड़प उठे,
यूँ आकर तेरे ख्याल ने अच्छा नहीं किया।।

9
तड़प कर गुजर जाएगी 
यह रात भी आखिर ,

तुम याद नहीं करोगे तो 
क्या सुबह नहीं होगी।।

10
तड़प रहे है हम तेरे एक अल्फाज के लिए,
तोड़ दे अपनी ख़ामोशी हमें जिन्दा रखने के लिए।।

11
बारिश की बूंदों जैसी तड़प है मेरे इश्क़ में, 
तूँ जमीं बन जा मैं तुझ में मिल कर खाक हो जांऊ।।


12
काश की मुझे मुहब्बत ना होती
काश की मुझे तेरी आरज़ू ना होती,

जी लेते यू ही ज़िंदगी को हम तेरे बिन
काश की ये तड़प हमे ना होती।।

13
दिल का क्या है तेरी यादो के सहारे भी जी लेगा
हैरान तो आंखे है जो तड़पती है तेरे दीदार को।।


____________________________________

14
सोए हुए थे सुकून से अचानक तड़प उठे,
यूँ आकर तेरे ख्याल ने अच्छा नहीं किया।।

Soye Huye The Sukun Se
Achanak Tadap Uthe,
Yun Aakar Tere Khayal Ne 
Achchha Nahin Kiya..

15
रात को जब चाँद सितारे चमकते हैं, 
हम हरदम फिर तेरी याद में तड़पते हैं

आप तो चले गए हो छोड़कर हम को, 
मगर हम मिलने को तरसते है।।

16
तुझे नाज है तु हुस्न है .तेरे गुलिस्ता की 
मुझे फक्र है मैं इश्क हूँ
तुझे तड़पा न दूं तो कमाल क्या।।

Tujhe Naaz Hai Tu Husn Hain Tere Gulista Ki
Mujhe Fakr Hai Main Ishq Hun
Tujhe Tadapa Na Du To Kamaal Kya..

17
तू ही मेरा दिल , तू ही मेरी धड़कन है,
तू ही मेरी साँसे , तू ही इसकी तड़पन है.

रखूंगी तुझे सदा इस दिल में संजोकर मैं,
यह जिंदगी अब तुझसे ही मेरे साजन है।।

Tu Hi Dil, Tu Hi Meri Dhadakan Hai,
Tu Hi Meri Sanse, Tu Hi Isaki Tadapan Hai.

Rakhungi Tujhe Sada Is Dil Me Sanjokar Main.
Yah Zindagi Ab Tujhse Hi Mere Saajan Hai।।

   तड़प शायरी   

18
मोहब्बत मुझे थी उसी से सनम, 
यादों में उसकी यह दिल तड़पता रहा

मौत भी मेरी चाहत को रोक न सकी, 
कब्र में भी यह दिल धड़कता रहा।।

Mohabbat Mujhe Thi Usi Se Sanam,
Yaadon Men Unaki Yah Dil Tadapata Raha,

Maut Bhi Meri Chahat Ko Rok Naa Saki.
Kabr Me Bhi Yah Dil Dhadakata Raha।।

   तड़प शायरी in Urdu   

19
राज दिल में छुपाये रहते हैं,
अपने आँखों से  छलकने नहीं देते,

क्या ज़ालिम अदा है उस हसीं की,
ज़ख्म भी देते हैं और तड़पने नहीं देते।।

Raaz Dil Me Chhupaye Rahate Hain,
Apane Ankhon Se Chhalakane Nahi Dete

Kya Zalim Aada Hai Us Haseen Ki,
Zakhm Bhi Dete Hain Aur Tadapane Nahi Dete..

20
तेरी याद के सहारे ही तो इश्क़ जिंदा है,
मर जाते तड़प क़े गर याद साथ न होती।।

   तड़प शायरी 4 लाइन   

21
तड़प कर देखो किसी के इंतजार में 
तब समझ आयेगा इंतजार क्या होता है.

बिना तड़पे ही मिल गये तो 
कैसे जान पाओगे सच्चा प्यार क्या होता है।।


22
प्यार की तड़प को दिखाया नही जाता
दिल में लगी आग को बुझाया नही जाता,

लाख जुदाई हो मगर ज़िन्दगी के
पहले प्यार को भुलाया नही जाता।।

   Tadap Status   

23
इश्क़ दीवाना हुस्न भी घायल 
दोनों तरफ़ इक  दर्द-ए-जिगर है,

दिल की तड़प का हाल न पूछो 
जितनी इधर है उतनी उधर है।।



____________________________________

24
यादें अपनी साथ ले जाओ 
मुझ को क्यो तड़पाती हैं,

मेरे ख्याल मेरे नस नस मे 
इस तरह कब्जा जमाती हैं।।

25
ये दिल है मुहब्बत का प्यासा , 
इस दिल का तड़पना क्या कहिये ,

मायूस है हम , मगरूर हो तुम, 
और इस दिल पर मिटना क्या कहिये।।

Ye dIL Hai Muhabbat Ka Pyaas
Is Dil Ka Tadapana Kya Kahiye,

Mayus Hai Ham Magarur Ho Tum
Aur Is Dil Par Mar Mitana Kya Kahiye।।

26
कहाँ की शाम और कैसी सहर, जब तुम नही होते,
तड़पता है ये दिल आठो पहर, जब तुम नही होते।।

Kanha Ki Sham Aur Kaisi Sahar, Jab Tum Nahi Hote,
Tadapata Hai Ye Dil Aatho Pahar, Jab Tum Nahi Hote..

27
सोचा याद न करके थोड़ा तड़पाऊं उनको,
किसी और का नाम लेकर जलाऊं उनको,

पर  चोट लगेगी उनको तो दर्द मुझको ही होगा,
अब ये बताओ किस तरह सताऊं उनको।।

28
वो नशा है तेरे जिस्म में,आग लगा दे पानी मे,
डूब जाऊ तेरी झील सी आंखों में,
आ प्यास भुझा दे इस तड़पती जवानी में

29
कुछ तो तरस खा मेरे तड़पते दिल पर ऐ  बेवफा,
मैंने मोहब्बत ही नहीं इबादत भी की है तेरी।।

30
जब दिल ने तड़पना छोड़ दिया,
जलवों ने मचलना छोड़ दिया,

पोशाक बहारों ने बदली,
फूलों ने महकना छोड़ दिया।।

Jab Dil Ne Tadapana Chhod Diya,
Jalawo Ne Machalana Chhod Diya.

Poshak Baharo Ne Badali, 
Foolo Ne Mahakana Chhod  Diya..

31
यूँ  पल-पल हमें सताया ना कीजिये,
इस तरह हमारे दिल को तड़पाया न कीजिये,

क्या पता कल हम हों ना  हों इस जहाँ में❓
यूँ हमसे आप नजरें चुराया न कीजिये।।

Yu Pal-Pal Hame Sataya Naa Kijiye,
Is Tarah Hamare Dil Ko Tadapaya Naa Kijiye,

Kya Pata Kal Ham Ho Na Ho Is Jahan Me ❓
Yu Hamse Aap Nazare Churaya Naa Kijiye..

   Tadap Shayari   

32
मुझे नफरत है इस मोहब्बत के नाम से,.
क्यूँ बिना कसूर तडपा तडपाकर मारा है मुझे।।

33
तड़प के जब मेरे इश्क़ में तू रोना चाहेगी है, 
मेरी याद तो आएगी मगर ये बेवफ़ा तू मुझे न पायेगी।।

34
दिलबर  मेरे कब तक मुझे ऐसे ही तड़पाओगे,
एक कान  के नीचे लगा दूंगी तो पल में सुधर जाओगे।।

Dilbar Mere Kab Tak Mujhe Yese Tadapaoge,
Ek Kaan Ke Neeche Laga Dungi To,
Ek-Pal Me Sudhar Jaoge..

35
बस दर्द अश्क तन्हाई और तड़प,
क्या करेगी मौत मेरी जिंदगी लेकर?

Bas Dard Ashk Tanhayi Aur Tadap,
Kya Karegi Maut Meri Zindagi Lekar?

   तड़प शायरी   

36
मेरे यार को मेरी तकलीफ और दर्द से 
कभी कुछ फर्क ही नहीं पड़ा.
मैं बेवकूफ की तरह खुद को तड़पा रहा हूं।।

   तड़प शायरी 4 लाइन   

37
दिन भी ठीक से नहीं गुजरता और
रात भी बडी तड़पाती है,
क्या करू यार तेरी याद ही जो इतनी आती है।।

Din Bhi Thik Se Nahi Guzarata Aur
Raat Bhi Badi Tadpati Hai
Kya Karu Yaar Teri Yaad Hi Jo Itani Aati Hai..

   तड़प शायरी in Urdu   

38
हमारी  तडप तो कुछ भी नही है हुजुर  सुना है 
आपके दीदार के लिऐ तो आईना भी  इंतजार करता है।।


39
कफन उठा कर ना दिखाना उसको चेहरा मेरा,
क्योकि उसको भी पता चले कि,

यार का दीदार ना हो तो 
कितनी तडप होती है ?

40
याद करने से किसी का दीदार नहीं होता,
युही किसी को याद करना प्यार नहीं होता.

यादों में किसी की हम भी तड़पते है,
बस उन्हें हमारे दर्द  का एहसास नहीं होता।।

   Tadap Status   

41
तेरे दीदार का नशा भी अजीब हैं,
तु ना दिखे तो दिल तडपता हैं.
और तु दिखे हैं तो नशा और चढता हैं।।

42
तड़प के देखो किसी की चाहत में,
तो पता चले कि इंतज़ार क्या होता है.

यूँ ही मिल जाये अगर कोई बिना तड़पे,
तो कैसे पता चले के प्यार क्या होता है ।।



____________________________________

43
तडप तेरे इंतजार मे ए मौहब्बत जो है
हमे बेकरारी ये दूर कब तक तन्हा यू रख पायेगी तुम्है।।

44
ये शायरीयाँ कुछ और नहीं बेइंतहा इश्क है, 
तड़प उनकी उठती है और दर्द लफ्जों में उतर आता है।।

45
वापस ले लो वो सारी यादे, तड़प और आंसु,
जुर्म कोई नही हे मेरा तो फिर ये सज़ा कैसी?

46
चूम कर कफ़न में लिपटें मेरे चेहरे को, उसने,
तड़प के कहा नए कपड़े क्या पहन लिए, 
हमें देखते भी नहीं।।

47
उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है 
उनके इंतजार में दिल तरसता है.

क्या कहें इस कम्बख्त दिल को 
अपना हो कर किसी और के लिए धड़कता है।।

48
सारी रात तड़पते रहेंगें हम आज,
फिर तेरी तस्वीर का दीदार जो कर लिया।।

Sari Raat  Tadapate Rahenge Ham Aaj
Fir teri Tasveer Ka Deedar Jo Kar Liya..

49
खुदा करे मोहब्बत के रेगिस्तान में 
तुझे लगे मेरे इश्क़ की प्यास, 
और तू तड़पे मेरे लिए प्यासे की तरह।।

Khuda Kare Mohaabt Ke Registaan Me
Tujhe Lage Mere Ishq Ki Pyaas
Aur Tu Tadape Mere Liye Pyaase Ki Tarah..

50
दिन भर तड़पती रही तेरी यादों के साथ,
किसी ने पूछा तो कहा  तबीयत ठीक नहीं।।

51
रात भर उन का तसव्वुर दिल को तड़पाता रहा,
एक नक़्शा सामने आता रहा जाता रहा।।
अख़्तर शीरानी 

Raat Bhar Un Ka Tasawur Dil Ko Tadapata Raha,
Ek Naksha Samane Aata Jata Raha..

52
काश वो समझते इस दिल की तड़प को
तोह हमें यु रुसवा ना किया जाता.

यें बेरुखी भी उनकी मंजुर थी हमें
एक बार बस हमें समझ  लिया होता।।

53
अगर पता होता कि इतना तड़पाती है मोहब्बत,
तो कसम से दिल लगाने से पहले हाथ जोड़ लेते।।

54
जो दे रहे हो हमें ये तड़पने की सज़ा तुम,
हमारे लिए ये सज़ा ऐ मौत से भी बदतर है।।

=
दोस्तों आशा करता हूँ की "   55+ तड़प शायरी 2 लाइन - Tadap Status  " यह भी पोस्ट पसंद आया होगा आप सभी को और आपने पढ़ा होगा "तड़प Shayari" तड़प शायरी in Urdu, तड़प Statue, तड़प शायरी 4 लाइन, के इस कलेक्शन को दोस्त अगर यह पोस्ट आपके दिल को छू लिया हो तो इसे जरूर से शेयर करे ताकि इस कलेक्शन को और भी दोस्त पढ़ सके. धन्यवाद आप सभी का आपने इस पोस्ट को अपना प्यार दिया.


No comments