जाने चुकंदर खाने के फायदे और नुकसान - Benefits of Beetroot in Hindi



जाने क्या हैं चुकंदर खाने के फायदे और नुकसान  - Beetroot Benefits And Side Effects in Hindi

दोस्तों  Health Benefits Of Fruits का यह आर्टिकल  Benefits of  Beetroot  पर आधारित हैं इसमे जान सकते हैं, ढेरो  चुकंदर खाने के फ़ायदे, और साथ ही जान सकते हैं  Halth Benefits of Beetroot in Hindi,  चुकंदर खाने के फायदे और साथ ही चुकंदर खाने के नुकसान  के बारे में.  Beetroot Benefits For Men, Beetroot Benefits For Womens.   


Benefits-of-Beetroot-in-Hindi
जाने चुकंदर खाने के फायदे और नुकसान  - Benefits of Beetroot in Hindi




Chukandar फल ही नहीं एक औषधि भी हैं. इसके अन्दर शरीर को तंदुरस्त रखने  के तमाम चमत्कारी गुण मौजूद हैं. जो हमें प्राकृतिक तरीके से तमाम प्रकार की बिमारियों से बचाता हैं. 


दोस्तों आज की इस पोस्ट में जानते हैं चुकंदर के आयुर्वेदिक गुणों को जो हमारे शरीर को स्वस्थ को मजबूत बनाता हैं. यह फल लाल रंग का होता हैं. इसको यह रंग बेटानिन नामक तत्व के कारण मिलता हैं. यह फल हमें भरपुर उर्जा देता हैं.

आईये अब जानते हैं सबसे पहले इसमे पाए जाने वाले विटामिन और पोषक तत्वों के बारे में जो हमें अनेकों प्रकार की बीमारी से बचाता और हमें स्वस्थ व बलशाली शरीर देता हैं.

  • विटामिन सी (Vitamin C)
  • कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrate)
  • एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidant)
  • फाइबर (Fiber)
  • पोटेशियम (Potassium)
  • फोलेट (Folate)
  • आयरन (Iron)
  • कैल्शियम (Calcium)
  • मैंगनीज (Manganese)
  • मैग्नीशियम (Magnesium)
  • फास्फोरस (Phosphorus)
  • जिंक (Zinc)
  • कॉपर (Copper)
  • क्लोरीन (Chlorine)
  • नाइट्रेट (Nitrate)
  • आयोडीन (Iodine)
  • सोडियम (Sodium)
यदि हम एक बार में 100 ग्राम चुकंदर का अपने भोजन में करते हैं तो हमें प्राप्त होता हैं. उससे 

  • Vitamin C (3.6 मिलीग्राम)
  • Vitamin B6 (0.067 मिलीग्राम)
  • Vitamin B1 (0.031 मिलीग्राम)
  • Vitamin B2 (0.027 मिलीग्राम)
  • Vitamin B3 (0.331 मिलीग्राम)
  • Vitamin B5 (0.145 मिलीग्राम)
  • Carbohydrate "9.96 ग्राम" 
  • Sugar  "7.96 ग्राम"
  • Fiber (2.0 ग्राम),
  • Phosphorus (38 मिलीग्राम)
  • Magnesium (23 मिलीग्राम)
  • Potassium (305 मिलीग्राम)
  • Sodium (77 मिलीग्राम)
  • Zinc (0.35 मिलीग्राम) 
  • Iron (0.79 मिलीग्राम)
  • Calcium (16 मिलीग्राम)
  • Fat(0.18 ग्राम)
  • Protein (1.68 ग्राम)

जाने चुकंदर खाने के फायदे और नुकसान  - Beetroot Benefits in Hindi


कैंसर के इलाज :- में चुकंदर का भी उपयोग किया जाता हैं. क्युकि वॉशिंगटन की हावर्ड विश्वविद्यालय में कैंसर पर हुए  एक अध्ययन से पता चलता हैं कि,  फेफड़े और त्वचा के कैंसर जैसी खतरनाक बिमारी का जोखिम काफी हद तक  कम हो जाता हैं.  क्युकि इसमे इसमे बेटासायनिन (Betacyanin) की मात्रा पायी जाती है जो कैंसर सेल को बढ़ने से रोकते हैं. जो कई और शोध व रिपोर्टों में भी यह प्रमाणित हो चुका है. 

ह्रदय रोग की समस्या :-
Beetroot के उपयोग से ह्रदय रोग जैसी बिमारी से बचा जा सकता हैं. इसमे पाए जाने वाले पोषक तत्वों के कारण हमें हृदय रोग व स्ट्रोक जैसी बिमारी में बहुत लाभ मिलता हैं. 

चुकंदर के अदंर घुलनशील फाइबर (Fiber) की भरपूर मात्रा पायी जाती हैं. जो ह्रदय के लिए लाभदायक होती हैं. साथ इसमे हानिकारक कोलेस्ट्रॉल LDL को कम करने के लिए बीटा सियानिन तथा बेटानिन नामक एंटीऑक्सिडेंट भी पाए जाते हैं. जो हानिकारक कोलेस्ट्रॉल LDL को धमनियों में जमने से बचाता हैं. और साथ-ही साथ मांस पेशियों तक ऑक्सीजन पहुंचाने का कार्य करता हैं. इससे हृदय से संबंधित रोग में काफी लाभ मिलता हैं.


Sex-Samasya-Aur-Samadhan
Sex Samasya Aur Samadhan



यौन सम्बन्धित समस्या :-  और कमजोरियों को चुकंदर दूर करता हैं. और उसे मजबूत कर हमारे सेक्स लाइफ को मजेदार बनाता हैं. और इसी कारण चुकंदर को प्राकृतिक वियाग्रा (Viagra) भी  कहा जाता है.  

क्युकि इसमे नाइट्रिक ऑक्साइड (Nitric Oxide) की मात्रा पाई जाती हैं जो हमारी नसों को फैला देता हैं जिससे कारण रक्त लिंग में आसानी से प्रवाह होता हैं. और इसी कारण हमारे गुप्तांग में पर्याप्त  रक्त की मात्रा पहुचती हैं.  जिससे  महिला  या पुरुष के यौन अंग स्वस्थ रहते हैं. साथ ही इसमे बोरा की भी भरपूर मात्रा पायी जाती हैं. जो हमारे सेक्स हारमोन को बढाता हैं. और इससे सेक्स का भरपूर आनंद मिलता हैं इसी कारण इस फल को "Natural Viagra" के रूप में इस्तेमाल किया जाता हैं.


Mahwari-Ki-Samasya-Aur-Samadhan
Mahwari Ki Samasya Aur Samadhan


माहवारी की समस्या:- से अधिकतर महिलाए परेशान रहती हैं इस पीरियड में उन्हें कमर दर्द , पीठ दर्द, तथा कमजोरी रहती हैं साथ ही अधिक रक्तस्राव  होने  के कारण खून की कमी हो जाती हैं. और इसे वजह से कई समस्याओं का सामना करना पड़ता हैं. 

चुकंदर  के सेवन से खून की कमी पूरी होती हैं और मासिक धर्म के दौरान रक्तस्राव खुल कर आता है, साथ ही माहवारी के दौरान होने वाली सुस्ती  कमजोरी, दर्द सहित अनेकों समस्याओं से निजात मिलता हैं 

गर्भ के दौरान :-  प्रेगनेंसी (Pregnancy) के समय चुकंदर को खाने से अधिक लाभ मिलता हैं. क्युकि इसमे   फॉलिक एसिड (Folic Acid) की भरपूर मात्रा पायी जाती हैं. और यह पोषक तत्व गर्भवती महिला और पेट में पल रहे शिशु के लिए उर्जा प्रदान करता हैं व लाभदायक होता हैं, साथ ही गर्भ में पल रहे शिशु के स्पाइनल कोर्ड के निर्माण करने में मदद करता हैं.

खून की समस्या :- :- 
यह फल शरीर के अन्दर खून की हो रही कमी को दूर करता हैं और एनीमिया (खून की कमी ) जैसी बिमारी से हमें बचाता हैं. क्युकि इसके अन्दर आयरन  तथा फोलेट (Folateकी भरपूर मात्रा पायी जाती हैं, फोलेट के कारण हमारे अन्दर फॉलिक एसिड (Folic Acid) का निर्माण होता हैं और इसके कारण हमारे खून में हो रही लाल रक्त कणों में कमी को दूर करता हैं. और Blood का निर्माण करता हैं. इसके सेवन से हमारा हिमोग्लोबिन बढाता हैं और हमारे रक्त को शुद्ध करता है. 

  • खून की कमी दूर करने के लिए लगभग एक कप Beetroot Juice सुबह शाम रोजाना पीये, इससे एनीमिया (Anemia) की बिमारी दूर होती हैं.


जाने चुकंदर खाने के फायदे और नुकसान 

सुन्दर त्वचा के लिए:- 
अपनी चेहरे की खूबसूरती बढाने और कुदरती गुलाबी त्वचा पाने के लिए इस फल का उपयोग कर सकते हैं इससे Natural Pink Look मिलता है. साथ ही त्वचा मे चमक आती हैं. चेहरे पर दिखने वाली झुर्रियां भी खत्म हो जाती हैं. क्युकि विभिन्न शोधों के दौरान पता चला हैं की Beetroot को तीन माह तक लगातार खाने या इसके जूस पीने से चेहरे पर भरपूर निखार आता हैं और चेहरे की त्वचा पर आई झुरिया समाप्त हो जाती आप युवा दिखने लगते हैं.  

उपयोग की विधि:- 
  • 1 कप टमाटर का रस (Tomato juice) और उसमे एक कप चुकंदर का रस और उसमे 2 चम्मच हल्दी पाउडर को मिक्स करे और फिर उस रस को पीये यह रोजाना 15 से 20 दिनों तक करे इससे आपको बहुत लाभ मिलेगा त्वचा की कुदरती तरीके से. सुन्दरता बढाने में 
  • ताज़े Chukndar को काट चेहरे पर उससे मसाज करे हल्के हल्के हाथों से इससे भी आपकी त्वचा गुलाबी और चमकदार बनेगी.   
How-To-Remove-Pimples-in-Hindi-At-Home
How To Remove Pimples in Hindi At Home - 100% कील -मुंहासो का घरेलु उपाय 


कील मुहाँसे का इलाज:- भी इसमे छिपा हुआ हैं क्युकि इसके अन्दर बीटन नामक तत्व पाया जाता हैं जो कील मुहाँसे और फोड़े फुंसी को रोकता हैं अगर हम चुकंदर का जूस पीते हैं तो इससे कील मुहाँसे और फोड़े फुंसी नहीं होते साथ ही खून साफ़ रहता हैं.

आंखों की सुन्दरता:- को आप बढ़ाना चाहते हैं तो चुकंदर का सेवन करे  इससे आपकी आँखों के नीचे आये काले धब्बे दूर होंगे.  


वज़न कम करने का इलाज़ :- भी इसमे छिपा हुआ हैं क्युकि इसमे कैलोरी की कम मात्रा पायी जाती हैं. साथ इसमे एंटीक्सीडेंट और फाइ की अधिक मात्रा पायी जाती हैं. और इसके कारण हम अपना वजन कम कर सकते हैं. 

पाचन तंत्र की समस्या :-
हमारी पाचन क्रिया को सही रखने के लिए चुकंदर का इस्तेमाल कर सकते हैं इसमे मौजूद घुलनशील फाइबर हमारी आंतों को साफ़ रखता हैं तथा हानिकारक तत्वों को ख़त्म करता हैं और पाचन तंत्र को मजबूत करता हैं.

गैस की समस्या :- से छुटकारा पाने के लिए एक चम्मच शुद्ध शहद में दो से तीन चम्मच चुकंदर का रस मिला कर रोजाना पिए इससे गैस जैसी समस्या में लाभ मिलता हैं. गैस्ट्रिक अल्सर की प्रॉबल्म में भी इसके जूस में एक चम्मच नीबू के रस को मिला कर पी सकते हैं. 

कब्ज और बवासीर:-  जैसी समस्या में भी लाभ पहुचता हैं यह फल, अगर बवासीर के मरीज इसके जूस का सेवन रोजाना कुछ दिनों तक सोते समय करे तो इससे उन्हें काफी फायदा मिलेगा. और इस बिमारी से निजात मिलेगी.

लीवर की समस्या :-
लीवर में पथरी की समस्या से परेशान हैं तो चुकंदर के जूस को पीये रोजाना कुछ दिनों तक लगभग 30 से 40 ग्राम दिन भर में तीन से चार बार इससे पथरी निकल जायेगी. साथ ही लीवर की सूजन भी कम होगी.

ब्लडप्रेशर की समस्या :-
चुकंदर में हाईब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) जैसे रोग की समस्या को दूर करने के कई प्राकृतिक गुण मौजूद हैं. Chukandar के पत्तो में फोलेट जैसे तत्व पाए जाते हैं. जो उच्च रक्तचाप और अल्जाइमर जैसी बिमारी को ठीक करने में मदद करते हैं.

ब्लड शुगर की समस्या से भी निजात दिलाता हैं यह फल क्युकि इसमे नाइट्रेट्स (Nitrates) की भरपूर मात्रा पायी जाती हैं.  जो नाइट्रिक ऑक्साइड्स (Nitric Oxides) में बदल जाता हैं. जो हमारी धमनियों को चौड़ा करने में मदद करता हैं और यह ब्लड प्रेशर को कम करता हैं. 

शोधकर्ताओं के अनुसार अगर हम लगभग पांच सौ ग्राम चुकंदर को खाते हैं तो छ घंटे के अन्दर ही ब्लड प्रेशर कम हो जाएगा. डायबिटीज़ (Diabete) के रोगियों के लिए भी यह काफी फायदेमंद होता हैं. 

रूसी का इलाज :- 
चुकंदर के रस को ले और उसमे सिरका (Vinegar) को मिक्स कर के उसे अपने बालो में लागाये इससे रुसी ख़त्म होगी और बालो में चमक आएगी.

और दूसरा उपाय यह की अदरक के टुकड़े को कूट ले और उसे चुकंदर के जूस में भिगोकर रख दे और उसे रात में सोते समय बालो में तेल की तरह अच्छे से मालिश करे और उसे सुबह बाल धो ले इससे भी रुसी की समस्या दूर होगी.

पीलिया का इलाज :- भी इस से कर सकते हैं. Jaundice के रोग से ग्रसित रोगी को चुकंदर का जूस दिन-भर में तीन से चार बार एक-एक कप कर के पिलाये इससे . Jaundice के रोगी को आराम मिलेगा.
ध्यान दे:- एक कप से अधिक एक बार में ना पिलाये जूस को पीलिया के रोगी को.


जाने चुकंदर खाने के फायदे और नुकसान 

दिमाग को तेज़ करे :- 
याददाश्त को तेज़ करने के लिए लोग कई तरह के उपाय करते हैं लेकिन सबसे सरल और कुदरती उपाय चुकंदर में छिपा हैं क्युकि इसके अन्दर कोलिन नामक पोषक तत्व पाया जाता हैं जो हमारे दिमाग को तेज़ करता हैं साथ ही याद रखने की छमता को बढाता हैं. साथ इसके अन्दर ऑक्सीज़न की भी भरमार होती हैं जो हमारे मस्तिक तक सुचार रूप से प्रवाह करता हैं. 

दांत :- को मजबूत और स्वस्थ बनता हैं चुकंदर इसमे सिलिका नामक खनिज पाया जाता हैं जो हमारे शरीर में कैल्शियम के अवशोषण में हेल्प करता हैं. इससे हमारे दांत मजबूत बनते हैं और दांतों में लग रहे कीड़े मर जाते हैं. 

-: इन्हें भी पढ़े :-


मुंह में दुर्गंध की समस्या:-  को लेकर बहुत से लोग  परेशान रहते हैं. अगर इस समस्या को दूर करना चाहते हैं तो रोजाना थोड़े से चुकंदर को अच्छे से चबा-चबा कर खाए इससे मसूड़े और दांत भी स्वस्थ व मजबूत होंगे साथ ही मुह से आती दुर्गन्ध भी ख़त्म होगी.  

उल्टी-दस्त की समस्या:- से भी हमें बचाता हैं यह कुदरती फल अगर आप उल्टी या दस्त की समस्या से परेशान हैं तो चुटकी भर नमक को ले और उसे चुकंदर के रस में मिलाकर पी ले इससे आपको उल्टी-दस्त में आराम मिलेगा साथ ही पेट में बन रही गैस भी ख़त्म होगी. 


Chukandar Ke Nuksan In Hindi


जैसा की आपने ऊपर पढ़ा और जाना चुकंदर को खाने और उसके जूस पीने के फायदे को और साथ ही किन-किन बीमारियों से  हमें बचाता हैं यह कुदरती फल. अब जानते हैं  चुकंदर को खाने के कुछ नुकसान के बारे में और साथ ही कुछ सावधानियों के बारे में?

चुकंदर का सेवन करना बहुत ही लाभदायक होता हैं लेकिन यह अधिक मात्रा में खाया जाए तो हमें यह नुकसान पहुचाता हैं इस लिए चुकंदर का खाने में इस्तेमाल एक निश्चित मात्रा में ही करे.


  • अगर आपका रक्तचाप कम रहता है तो इसका खाने में उपयोग ना करे क्युकि चुकंदर का जूस ब्लडप्रेशर के स्तर को कम करता हैं इस लिए Low Blood Pressure के रोगी इसका  सेवन ना करे.
  • Chukandar का जूस का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं तो आपके पेशाब और मल  का रंग लाल या गुलाबी हो जाता हैं. और इस क्रिया को विटुरिया के नाम से जानते हैं. क्युकि इसमे बीटानिन नामक तत्व पाया जाता हैं और इसी  कारण यूरिन का रंग बदल जाता हैं. इससे घबराने की कोई जरुरत नहीं यह अपने आप सही हो जाता हैं एक से दो दिन के अन्दर अगर यह ठीक नहीं होता तो डॉक्टर से सलाह ले.
  •  अगर आपको यूरिन में पथरी की शिकायत हैं तो इसके जूस का सेवन ना करे, क्युकि इसके अन्दर ऑक्सलेट की मात्रा पायी जाती हैं.  यह एक ऐसा  कम्पाउण्ड है जो किडनी के अन्दर  स्टोन बनाने की क्रिया को तेज़ करता हैं. इस लिए Kidney Stone के रोगी चुकंदर के जूस का सेवन ना करे.
  • शुगर की समस्या से अगर ग्रसित हैं तो Chukandar का उपयोग कम से कम मात्रा में करे क्युकि इसमे शुगर की मात्रा भी पायी जाती हैं. अगर हम 100 ग्राम चुकंदर के जूस को लेते हैं तो उसमे 7 ग्राम के लगभग Sugar होता हैं.
  • अगर हम चुकंदर के जूस को अधिक मात्रा में पीते हैं तो हमें पेट में दर्द या पेट खराब होने की शिकायत हो सकती हैं. क्युकि इसमे कुछ विशेष प्रकार के कार्बोहाइड्रेट पाए जाते हैं. जिसके कारण यह समस्या उत्पन्न हो जाती हैं.
जाने चुकंदर के पत्तों में मौजूद विशेष गुण:-
अधिकतर हम चुकंदर के फल को खाने या उसके जूस में इस्तेमाल करते हैं और हम उसके पत्तो को फेक देते हैं क्या आप को पता हैं इसके पत्तो में भी बहुत से आयुर्वेदिक गुणों के भण्डार पाए जाते हैं जो  पोषक तत्व से भरपूर होते हैं.



चुकंदर के पत्तो को जूस  बना कर पी सकते हैं. इसका स्वाद पालक जैसा ही होता हैं. इसकी तासीर ठंडी होती हैं. 


-: इन्हें भी पढ़े :-

अगर इसके पत्तियों का रस हम पीते हैं तो इसमे मौजूद आयरन, केल्शियम, और विटामिन जैसे कई पोषक तत्वों के कारण हमारे शरीर में रोग प्रतिरोधक की क्षमता बढ़ जाती हैं. और चेहरे पर निखार आता हैं साथ ही हमारे शरीर में खून की कमी दूर होती हैं. 

  1. इस फल की पत्तियां जिन्हें खून की अधिक कमी रहती हैं. उनके लिए कुदरत का दिया हुआ अनमोल उपहार हैं. इसमे अन्दर भरपूर मात्रा में आयरन पाया जाता हैं. और यह तत्व हमारे शरीर के अन्दर लाल रक्त के कणों को तेज़ी के साथ निर्माण करता हैं.
  2. इस फल के पत्तो में अधिक मात्रा में कैल्शियम पाया जाता हैं. 100 Gram चुकंदर के पत्तियों में 99 Milligram कैल्शियम होता हैं . और यह हमारे शरीर की हड्डियों का विकास करता हैं. और उसे मजबूत बनाता हैं.
  3. मेहंदी के पत्तो के साथ अगर चुकंदर के पत्तों को पीस कर बालो में लगाते हैं तो, बालो का झड़ना कम हो जाएगा और बालों का विकास होगा. 
  4.  Dandruff की समस्या से भी हमें निजात दिलाता हैं. इस फल के पत्तों को पानी में उबाल ले और उसे ठंडा करके अपने बालो को अच्छी तरह से धोये इससे कुछ ही दिनों में आपके बालो से Dandruff और जुएँ समाप्त हो जायेंगे . 
  5. दाद, खाज, खुजली :- में भी बहुत ही फायदेमंद होता हैं यह फल अगर हम इसके पत्तो के रस को शुद्ध शहद में मिलाकर दाद, खाज, खुजली वाले स्थान पर लगाते हैं तो वह जल्दी ही ठीक हो जाती हैं.
  6. मोच में राहत :- जल्द दिलाता हैं चुकंदर के पत्ते अगर हम इसके पत्तो को पीस कर मोच पर बांधते हैं तो मोच सही होता हैं और मोच का दर्द भी कम हो जाता हैं. 
जितना चुकंदर हमें फायदा पहुचता है उसी तरह यह फल शुओं के लिए भी अधिक लाभदायक हैं. अगर इसे सीजनल पशु आहार के  रूप में  खिलाया जाय तो इससे पशुओं का  स्वास्थ ठीक रहेगा, दूध की मात्रा बढ़ेगी साथ ही   बांझपन जैसी समस्या दूर होगी. 



जाने कैसे बनता हैं Beetroot Juice?
सबसे पहले 2 चुकंदर ले उसे पानी में धोकर अच्छे से  साफ़ कर ले और फिर उसे छोटे-छोटे पीस में काट ले या कद्दूकस पर घीस ले और उसे Juicer Mixer में डाल दे और साथ इसमे डाले अदरख के कुछ टुकड़े और आधा चम्मच नीबू का रस फिर Mixer के अन्दर मिक्स करके जूस निकाल ले. और यह काफी पौष्टिक भरा जूस होगा जो आपके स्वास्थ के लिए लाभदायक होगा.

ध्यान रखे :- प्रतिदिन Beetroot Juice को ना पीये क्युकि यह हानिकारक भी हो सकता हैं. इसे हप्ते (Week) में तीन से चार बार ही पीये, साथ ही यह भी ध्यान रखे की जूस को अधिक मात्रा में भी ना पीये. और Chukandar  के जूस को रात के समय नहीं पीये. 

चुकंदर के रस में हमेशा कोई ना कोई फल का रस जरुर मिलाये उसके बाद ही पीये. इसमे अनार, गाजर, सेब आदि का जूस मिला सकते हैं.  

दोस्तों जैसा की आपने जाना Benefits of Beetroot in Hindi आर्टिकल में चुकंदर से जुडी ख़ास बाते कैसे यह फल आपको अच्छी सेहत देता हैं. इसमे पाए जाने वाले तमाम पोष्टिक तत्वों के कारण आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती  हैं. जिसकी वजह से हमें कई तरह की बीमारियों में राहत मिलती हैं. 


आशा करता हूँ आपको हमारे द्वारा लिखी गयी "जाने चुकंदर खाने के फायदे और नुकसान"  - Beetroot Benefits in Hindi की यह पोस्ट आप के सेहत के लिए फायदेमंद साबित हुयी होगी और Benefits of  Beetroot पोस्ट से आपको अवश्य ही लाभ मिला होगा अगर आप को यह आर्टिकल असंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों को भी जरुर शेयर करे .


चुकंदर खाने के फायदे और नुकसान  - Beetroot Benefits in Hindi की यह पोस्ट कई किताबो और स्वास्थ सम्बन्धित वेब साईट को अध्यन कर सावधानी पूर्वक लिखा गया हैं. अगर इस पोस्ट में कोई त्रुटी हुयी हो तो छमा कीजियेगा और अपनी राय हमें अवश्य दीजियेगा. आप सभी पाठको का धन्यवाद.

No comments