Mota Hone Ke Liye Ayurvedic Dawa - मोटा होने के लिए आयुर्वेदिक दवा




Mota Hone Ke Liye Ayurvedic Dawa - मोटा होने के लिए आयुर्वेदिक दवा  


दोस्तों आज का यह पोस्ट Mota Hone Ki Ayurvedic Dawa 100% मोटा होने के लिए आयुर्वेदिक दवा पर आधारित हैं. Health के इस आर्टिकल में जान सकते हैं, Mota Hone Ka Powder,  Mota Hone Ke Liye Ayurvedic Dawa, हिंदी में जो आपका वजन गारंटी से बढ़ाएगा बिना किसी साइड इफेक्ट Natural Tarike से.


Mota-Hone-Ke-Liye-Ayurvedic-Dawa
Mota Hone Ke Liye Ayurvedic Dawa - मोटा होने के लिए आयुर्वेदिक दवा  


जैसा कि आज के समय में जितना दुखदायी अत्यधिक मोटा होना हैं उतना ही ख़राब पतला-दुबला होना हैं. बहुत से लोग अपने दुबलेपन के कारण अत्यंत दुखी और परेशान रहते हैं. और उनका शरीर सही तरीके से विकास नहीं कर पाता. और वे अपने बॉडी को हष्टपुष्ट स्वस्थ बनाने के लिए तमाम प्रकार के उपाय करते हैं लेकिन फिर भी उन्हें उससे कोई लाभ नहीं मिलता,

जिसके वजह से उनका (Confidence) बहुत Low होने लगता हैं किसी भी काम में उनका मन नहीं लगता. जिसके कारण शरीर धीरे-धीरे और भी कमजोर हो जाता. 


दुबलेपन से दुखी व परेशान होने की अब जरुरत नहीं हैं दोस्तों आज की इस पोस्ट में बतायेगे आपको Mota Hone Ke Liye Ayurvedic Dawa से शर्तियाँ इलाज. जिसका उपयोग करके आप अपने शरीर को मोटा और स्वस्थ कर सकते हैं. बिना किसी शारीरिक नुकसान के Jaldi Mota Hone Ke Upay.

शरीर का वजन बढाने के लिए दवा से जरुरी होता हैं रोजाना का पोष्टिक आहार (Healthy Diet)  जो एक अच्छा प्रोटीन युक्त हो जिससे आपके शरीर में पर्याप्त उर्जा मिले. प्रोटीन युक्त डाईट से Mota Hone Ke Upay पर  वाह हिंदी ब्लॉग द्वारा एक पोस्ट और भी लिखा गया हैं उसे जरुर पढ़े Mota Hone Ke Liye Ayurvedic Dawa का उपयोग करने से पहले 

  
तो आईये अब जानते हैं कैसे हम "Mota Hone Ke Liye Ayurvedic Dawa" मोटा होने के लिए आयुर्वेदिक दवा का उपयोग करे अपने वजन को तेजी के साथ बढाने के लिए. 

स्वास्थ्य के लिए आयुर्वेद का उपयोग हम प्राचीन काल से ही करते चले आ रहे हैं. जड़ी बूटियों से बनी आयुर्वेदिक दवाओं से हम जटिल से जटिल रोगों को दूर कर सकते हैं बिना किसी भी तरह के साइड इफेक्ट के. 



Mota Hone Ke Liye Ayurvedic Dawa


अश्वगंधा, Ashvagandha:

Jaldi Mota Hone Ke Upay में सबसे कारगर दवा के रूप में अश्वगंधा को माना गया हैं. इससे दुर्बल शरीर को बलशाली बनाने में पुरातन काल से ही उपयोग किया जाता हैं. यह शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को तेजी के साथ बढाता है. और शरीर को रोग मुक्त कर शक्तिशाली बनाता हैं.



महर्षि चरक के अनुसार "Ashvagandha अत्याधिक पौष्टिक व सर्वांग शक्ति से भरपूर हैं. यह वीर्यवर्धक, शरीर में ओज और कांति लाने वाला तथा लम्बे समय तक शरीर को जवान रखने वाला  बलवर्धक रसायन हैं. इसका उपयोग मोटा होने के जरुर से करे इससे शर्तिया मोटे होंगे और आप का वजन जल्द ही बढेगा.


उपयोग करने की विधि :-

अश्वगंधा खाने में कसेला (कडुवा) होता हैं इस लिए, 100 ग्राम अश्वगंधा के चूर्ण में  100 ग्राम मिश्री को अच्छी तरह मिक्स कर ले और रात्रि में सोते समय एक चम्मच दूध के साथ ले इससे वजन के साथ-साथ आप का शरीर बलशाली भी बनेगा और कई तरह के रोग भी दूर होंगे..


शतावरी Shatavari :-
शतावरी का उपयोग एक जड़ी-बूटी के रूप में सदियों से किया जाता हैं.  इसके भीतर Vitamin A, C, E, K B6, फोलेट (Folate), लोहा (Iron), तांबा (Copper), कैल्शियम (Calcium), प्रोटीन (Protein), और फाइबर (Fiber) जैसे विटामिन (Vitamin) और खनिजों की अधिकतम मात्रा पायी जाती हैं. जो हानिकारक कोशिकाओं के दुष्‍प्रभावों को ख़त्म कर देता हैं और साथ ही अनेकों प्रकार की बीमारियों को ठीक करने में मदद करता हैं.  

Shatavari के अन्दर एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidant) ग्लूटाथियोन (Glutathione) भी पाया जाता हैं  जो उम्र बढ़ने की  प्रक्रिया  को धीमा (Slow) कर देता हैं. जिसके कारण इंसान हमेशा जवान दिखता हैं. और यौवन में निखार लाता हैं. 


शतावरी की जड़ें, बीज और अर्क को विभिन्न प्रकार की बीमारियों में इस्तेमाल किया जाता हैं. यह प्राकृतिक रूप से चमत्कारिक औषधि हैं इसके उपयोग से आप अपना वजन भी बढ़ा सकते हैं. साथ ही यह औषधि शारीरिक शक्ति भी प्रदान करता हैं. 

उपयोग करने की विधि:- अश्‍वगंधा और शतावरी को बराबर मात्रा में मिलाकर रोजाना सुबह और शाम आधा चम्‍मच यानी लगभग 5 ग्राम चूर्ण गर्म दूध में मिलाकर पिएं इससे तेजी के साथ वजन बढेगा और साथ ही साथ शरीर बलशाली बनेगा. 






वसंत कुसुमाकर रस:-
शरीर को स्वस्थ, तंदुरुस्त और वजन बढाने के लिए जड़ी-बूटी के रूप में वसंत कुसुमाकर रस का भी उपयोग किया जाता हैं. इसके अन्दर 

  • स्वर्ण भस्म 
  • प्रवाल भस्म 
  • रससिंदूर 
  • रौप्य भस्म 
  • मोती पिष्टी
  • शतावरी
  • अभ्रक भस्म 
  • अडूसा स्वरस 
  • कमल के फूल
  • गन्ना
  • चंदन 
  • कस्तूरी 

जैसे चीजों के मिश्रण से बनाया जाता हैं.  यह दवा कई तरह की बीमारियों में भी काम आती हैं. इससे शरीर मजबूत बनता हैं पाचन क्रिया सही होती हैं वीर्य और वजन भी बढ़ता हैं. 

यष्टिमधु पाउडर:-
Mota Hone Ka Powder यष्टिमधु हैं जो प्राकृतिक रूप से 100 प्रतिशत शुद्ध पाउडर हैं. इसके अन्दर विटामिन B,  विटामिन E,  मैग्नीशियम, पोटेशियम और आयरन जैसे खनिजों की पर्याप्त मात्रा पायी जाती हैं. 

यह  एंटी-इंफ्लेमेटरी,  एंटी-बैक्टीरियल हैं. इसके पाउडर में फाइबर भरपूर मात्रा भी पायी जाती हैं, जो हमारे बॉडी को पोषक तत्व देता हैं.  वजन बढाने के काम आता हैं.

च्यवनप्राश (Chyawanprash):-
Mota Hone Ke Upay में च्यवनप्राश का भी उपयोग किया जाता हैं जो शरीर को स्वस्थ रखने के लिए इसमे तमाम प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं. जिससे हमारे बॉडी को अधिक मात्रा में उर्जा मिलती हैं. 

च्यवनप्राश को कई प्रकार की जड़ी-बूटियों से बनाया जाता हैं. Chyawanprash को दूध या जूस के साथ लेना चाहिए सुबह शाम. यह प्राकृतिक रूप से बॉडी में ताकत देता हैं और साथ ही वजन बढ़ता हैं. 

किरात (Gentian)
किरात भी एक औषधि हैं, यह खाने में कड़वी लगती हैं. यह औषधि भी वजन बढाने और शरीर को पूर्ण रूप से स्वस्थ रखने के लिए पेट का सही रखने के लिए कारगर दवा मानी गयी हैं. यह पेट को साफ़ रखता हैं. भूख बढ़ता हैं और अपच, गैस्ट्रिक जैसी समस्यायों से निजात दिलाता हैं. तथा Natural Tarike से हमारे शरीर को मोटा करता हैं. 




कैमोमाइल (Chamomile)
कैमोमाइल का स्वाद कड़वा नहीं होता यह दवा हमारी भूख को बढाता हैं, साथ ही हमारे खाने को अच्छी तरह से पचाने में मदद करता हैं. Mota Hone Ki Ayurvedic Dawa में यह बहुत ही कारगर औषधि  हैं. पतले दुबले लोगो के लिए, इसका भी सेवन अपने आप को मोटा करने के लिए कर सकते हैं.

मालिश (Massage):-
शरीर को तंदुरस्त बनाने के लिए अपने रोजाना दिनचर्या में मालिश (Massage) को जरुर शामिल करे इससे आप के शरीर की मांसपेशियों को मजबूती मिलती हैं और रक्त संचार सही ढंग से बॉडी में संचारित होता हैं. 
  • सरसों तेल 
  • जैतून के तेल 
  • बादाम तेल
  • नारियल तेल 
आप अपने शरीर की मालिश कर सकते हैं. मोटा होने के लिए दवाओं के साथ मालिश अपने शरीर की अवश्य करे. 

व्यायाम (Exercise):-
शरीर को मजबूत और स्वस्थ बनाने तथा वजन को बढाने के लिए दवाओं के साथ-साथ हमें व्यायाम भी करना जरुरी होता हैं क्युकि शरीर में मौजूद कैलोरी Exercise के द्वारा सही तरीके से अंगों में बट जाती हैं और मांसपेशियां मजबूत होती हैं और भूख अच्छे से लगती हैं पाचन क्रिया सही रहती हैं. और हमारी बॉडी स्वस्थ रहती हैं मांसपेशियों सुडौल बनती हैं. Vajan Badhane Ke Liye yoga करना Sports खेलना, तथा कसरत करना शामिल करे.


दोस्तों यह आर्टिकल कई किताबो और डॉ की सलाह से लिखा गया हैं अगर आप को इस पोस्ट से लाभ हुआ हो तो इसे अपने उन दोस्तों को भी शेयर करे जो दुबलेपन से परेशान हैं.  जो आपकी तरह ही नेट पर Mota Hone Ke Tarike - मोटे होने के तरीके को सर्च (Search) कर रहे हो. 

No comments