Top 25 + जिगर शायरी 2 लाइन / जिगर Status


दोस्तों हिंदी उर्दू शायरी के इस Post की  Topic  "जिगर Shayariहैं. इसमें आप पढ़ सकते हैं जिगर शायरी 2 लाइन, जिगर शायरी in Hindi, जिगर शायरी Urdu, पर बनी बेजोड़ शानदार शायरी को जिगर Status का यह पोस्ट बेहद आप सभी को पसंद आएगा

 
Jigar-Shayari-2-Line
Jigar Shayari 2 Line


तो आईये पढ़ते हैं और इसका आंनद उठाते दोस्तों इस बेहतरीन जिगर शायरी 2 Line  के इस कलेक्शन को पढ़ने से पहले गुनगुनाते हैं एक प्यारे से नगमे की प्यारी सी लाइन को. 


ओ तुमसे अच्छा कौन है दिल लो, जिगर लो,  जान लो हम तुम्हारे है सनम तुम हमे पहचान लो


1
तकलीफ इस जिगर में बदन में थकान है,
ये जिन्दगी नही है गमों की दुकान है.

Takleef Is Jigar Me,
Badan Me Thakaan Hai.

Ye Zindagi Nahi Hain,
Gamo Ki Dukaan Hain.

2
आज की रात बचेंगे तो सहर देखेंगे
तीर-ए-नज़र देखेंगे, ज़ख़्म-ए-जिगर देखेंगे

Aaj Ki Raat Bachenge To,
Sahar Dekhenge.

Teer-E-Nazar Dekhenge, 
Zakhme-E-Jigar Dekhenge.

3
कमाल का जिगर रखते है कुछ लोग,
दर्द पढ़ते है और आह तक नहीं करते।

Kamaal Ka Jigar Rakhate Hai Kuchh Log
Dard Padhate Hai Aur Aah Tak Nahi Karate.

4
नज़र की  चोट जिगर में रहे तो अच्छा है,
ये बात घर की है, घर में रहे तो अच्छा है.
दाग देहलवी 

Nazar Ki Chot Zigar Me 
Rahe To Achchha Hai.

Ye Baat Ghar Ki Hai,
Ghar Me Rahe To Achchha Hai.


5
न आँखों को चैन 
जिगर को करार आया.

मेरे हिस्से मोहब्बत में, 
बस इंतजार आया.

Na Ankhon Ko Chain
Na Zigar Ko Karaar Aaya,

Mere Hisse Mohabbat Me,
Bas Intzaar Aaya.

6
नज़र घायल जिगर छलनी,
जुबां पर सौ सौ ताले है.

मोहब्बत करने वालों के,
मुकद्दर भी निराले हैं.

Nazar Ghayal Jeegar Chhalani,
Junba Par Sau-Sau Taale Hai.

Mohabbat Karane Walo Ke,
Mukddar Bhi Nirale Hai.

7
धर के हाथ अपने जिगर पर 
मैं वहीं बैठ गया.

जब उठे हाथ वो कल 
रख के कमर पर अपना.

8
हमसे भुलाया नही जाता 
एक शख्स का प्यार.

लोग जिगर वाले है
जो रोज़ नया महबूब बना लेते है.

Hamse Bhulaya Nahi Jata
Ek Shaks Ka Pyaar.

Log Jigar Wale Hai,
Jo Roz Naya Mahbub Bana Lete Hai.

9
अपने सितम को देख लेना खुद ही साक़ी तुम 
ज़ख्म-ऐ -जिगर तुमको दिखायेगें किसी रोज़

10
नज़र लगे न कहीं, 
उसके दस्त-ओ -बाज़ू को .

ये लोग क्यों, 
मेरे ज़ख्म-ऐ -जिगर को देखते हैं.
मिर्ज़ा ग़ालिब

Nazar Lage Na Kahi,
Usake Dast-O-Baazuu Ko. 

Ye Log Kyon,
Mere ZaKhm-E-Jigar Ko Dekhate Hain.

11
दिल से तेरी निगाह जिगर तक उतर गई, 
दोनों को एक अदा में रजामंद कर गई.

मारा ज़माने ने ‘ग़ालिब’ तुम को, 
वो वलवले कहाँ , वो जवानी किधर गई.
मिर्ज़ा ग़ालिब

Dil Se Teri Nigahe Jigar Tak Utar Gayi,
Dono Ko Ek Adaa Men Razamand Kar GAayi.

Maara Zamaane Ne "Galib" Tum Ko,
Wo Valvale Kaha, Wo Zawani Kidhar Gayi. 

12
फिर चोट खा गए हैं इस जख्मी जिगर पे,
 फिर आज रो रहे हैं हम गमगीन नजर से.

 ये रोज ही होता है कि तुम याद आते हो,
 दिल रोज कराहता है माज़ी के कहर से.

13
मोहब्बत करने वालों का यही हश्र होता है,
दर्द-ए-दिल होता है, दर्द-ए-जिगर होता है.

बंद होंठ कुछ ना कुछ गुनगुनाते ही रहते हैं,
खामोश निगाहों का भी गहरा असर होता है.

Mohabbat Karane Wale Ka Yahi Hashr Hota Hai,
Dard-E-Dil Hota Hai, Dard-E-Jeegar Hota Hai.

Band Hoth Kuchh Na Kuchh Gungunate Hi Rahate Hai,
Khamosh Nigaho Ka Bhi Ghara Asar Hota Hai..

14
वो जिसका तीर चुपके से जिगर के पार होता है,
वो कोई गैर क्या अपना ही रिश्तेदार होता है.

किसी  से अपने दिल की बात तू कहना ना भूले से,
यहाँ ख़त भी थोड़ी देर में अखबार होता है.

Wo jiska teer chupke se jigar ke paar hota hain
Wo koi gaer kya apna hi ristedaar hota hain.,

Kisi se apne dil ki baat tu kahna na bhule se,
Yaha khat bhi thodi der main akhbaar hota hain.

15
दिल‬ होना चाहिए जिगर होना चाहिए,
आशिकी के लिए हुनर होना चाहिए.

नजर से नजर मिलने पर ‪‎इश्क‬ नहीं होता,
‪नजर‬ के उस पार भी एक असर होना चाहिए.

16
माँ-बाप के जीवन में ये दिन भी आता हैं,
जिगर का टुकड़ा ही एक दिन दूर हो जाता हैं.

17
मैं तेरी मुहब्बत को पाना चाहता हूँ,
मैं तेरी निगाहों में आना चाहता हूँ.

दीवानगी मचल रही है तेरी जिगर में,
मैं तुमको जिन्दगी में लाना चाहता हूँ.

18
जिगर वाले का डर से, 
कोई वास्ता नहीं होता। 
मै वहा कदम रखता हूँ जहा कोई, 
रास्ता  नहीं होता।

19
मैं दुनिया  की सबसे खुशकिस्मत बन्दी हूँ,
क्योकि मेरे पास Six Pack वाला Boyfriend नही है. 
लेकिन. जिगर वाले कामचोर Friends है.

20
तुम्हारी लहराती ज़ुल्फ़ों ने, 
सर्जिकल स्ट्राइक कर मन को घायल कर दिया.

गोरे रंग में काली घटाओं ने दर्दे ज़िगर को,
हमेशा के लिए तेरा क़ायल कर दिया


21 
अपना तो एक ही इरादा हैं,
हंसो तो दिल से दोस्ती निभाओ तो जिगर से.

22
बन्दे के पास अगर जिगर हो तो,
बिना ट्रिगर के भी दुश्मनो की, 
Watt लगायी जा सकती है.

23
जिसके जिगर में ख़ून खोलता है,
वही हर हर महादेव बोलता है.

24
सियासत' तुम्हारे जिगर में, 
अगर हौसला होता,

लहू जवानों का, 
सड़कों पर यू नहीं पड़ा होता'.
जय  हिन्द

25
दर्दे जिगर ने मेरा हाल वो किया,
जान छुड़ा ली मैंने दिल दे दिया।

26
दर्दे दिल , दर्दे जिगर,
दिल मे जगाया आपने.

पहले तो मैं शायर था,
आशिक़ बनाया आपने.


No comments