51+ दुश्मन / दुश्मनी पर शायरी - Dushaman Par Shayari In Hindi

बेहतरीन  दुश्मन-दुश्मनी  पर शायरी - Dushaman-Dushamani  Par Shayari In Hindi 

शुरुआत करते हैं "Dushaman-Dushamani Par Shayari" के इस  आर्टिकल की,  जोकि "शब्दों के जाल" से लिया गया हैं. जहा आप पा सकते हैं अपने मन पसंद शब्द दुश्मन-दुश्मनी  पर शायरी   का विशाल संग्रह. 
Dushaman-Dushamani-Par-Shayari-In-Hindi

51+ दुश्मन / दुश्मनी पर शायरी - Dushaman Par Shayari In Hindi

जो शायरी के कद्रदानों है तथा व्हाट्स अप और फेसबुक के चाहने वालो को जो हमेशा सोशल मिडिया के प्लेटफॉर्म पर खुबसुरत शायरियो को शेयर करते हैं.


आज का यह आर्टिकल दुश्मन-दुश्मनी  और दीवानगी शब्द से लिया गया हैं और इस पोस्ट में आप पा सकते हैं ढेरो दुश्मन-दुश्मनी  पर शायरियों का बेजोड़ कलेक्शन. जोकि आप सभी शायरी के कद्रदानो को बेहद ही पसंद आएगा. 

तो देर कैसी आईये पढ़ते हैं "Dushaman-Dushamani Par Shayari" और अपने मनपसंद शायरी को शेयर करते हैं अपने दोस्तों और चाहने वालो को व्हात्सप्प और फेसबुक तथा अन्य सोशल मिडिया पर
बेहतरीन दुश्मन-दुश्मनी  पर शायरी के इस कलेक्शन को पढ़ने से पहले गुनगुनाते हैं  एक प्यारा से नगमे की प्यारी सी  लाइन को. 
दुश्मन ना करे दोस्त ने जो काम किया हैं, उम्र भर का गम हमें इनाम दिया हैं. 

51+ दुश्मन / दुश्मनी पर शायरी - Dushaman Par Shayari In Hindi

 1= 
 ये कह कर मुझे मेरे  ✒  दुश्मन हँसता छोड़ गए,
 तेरे दोस्त काफी हैं तुझे रुलाने के लिए.
 अहमद फ़राज़  
 2= 
 मेरे  ✒  दुश्मन भी, मेरे मुरीद हैं शायद,
 वक़्त बेवक्त मेरा नाम लिया करते हैं,

 मेरी गली से गुज़रते हैं छुपा के खंजर,
 रुबरु होने पर सलाम किया करते हैं.  
3= Best  Dushaman-Dushamani Shayari
 ✒  दुश्मन और सिगरेट को जलाने के बाद,
 उन्हे कुचलने का मज़ा ही कुछ और होता है.
इन्हें भी पढ़े: अरमान पर शायरी - Armaan Shayari 
4= दुश्मन-दुश्मनी स्टेटस,
 तुझसे अच्छे तो मेरे ✒  दुश्मन निकले,
 जो हर बात पर कहते हैं.. ‘तुम्हें नहीं छोड़ेंगे. 
5= 
 मेरी नाराज़गी पर हक़ मेरे अहबाब का है बस,
 भला ✒  दुश्मन से भी कोई कभी नाराज़ होता है.
 6= 
 जो दिल के करीब थे वो जबसे ✒  दुश्मन हो गए
 जमाने में हुए चर्चे हम मशहूर हो गए. 
7= 
 यूँ तो मैं  ✒  दुश्मनों के काफिलों से भी सर उठा के गुजर जाता हूँ,
 बस, खौफ तो अपनों की गलियों से गुजरने में लगता है 
  कि कोई धोखा ना दे दे.
  
 कितने झूठे हो गये है हम बच्चपन में 
  अपनों से भी रोज रुठते थे आज दुश्मनों से भी मुस्करा के मिलते है. 
8= दुश्मन-दुश्मनी हिंदी शायरी,
 मुझसे दोस्ती ना सही तो  ✒  दुश्मनी भी ना करना
 क्यूंकि में हर रिश्ता पूरी शिददत से निभाता हूँ .
9= 
 जगह ही नही दिल में अब  ✒  दुश्मनों के लिए,
 कब्ज़ा दोस्तों का कुछ ज्यादा ही हो गया है . 
10= 
 मैं हैराँ हूँ कि क्यूँ उस से हुई थी दोस्ती अपनी,
 मुझे कैसे गवारा हो गई थी दुश्मनी अपनी.
 11= 
  पूछा है ग़ैर से मिरे हाल-ए-तबाह को,
  इज़हार-ए-दोस्ती भी किया ✒  दुश्मनी के साथ. 
 12= 
 वैसे  ✒  दुश्मनी तो हम -कुत्ते- से भी नहीं करते है,
 पर बीच में आ जाये तो -शेर- को भी नहीं छोड़ते. 
इन्हें भी पढ़े: अदा पर शायरी - Ada Shayari  
13= Dushaman-Dushamani Hindi Shayari,
 जब जान प्यारी थी तब  ✒  दुश्मन हज़ार थे,
अब मरने का शौक है तो कातिल नहीं मिलते.
14= 
 ✒  दुश्मन भी मेरे मुरीद है शायद  
 वक़्त बे वक़्त मेरा नाम लिया करते है

 मेरे गली से गुजरते है छुपा के खन्जर 
 रू-ब-रू होने पर सलाम किया करते है.
15= 
 बिना मकसद बहुत मुश्किल है जीना​,
 खुदा आबाद रखना ✒  दुश्मनों को​ मेरे.
 16= 
 हम तो  ✒  दुश्मनी भी दुश्मन की औकात देखकर करते है
 बच्चो को छोड देते है और बडो को तोड देते है.
17= 
 कुछ न उखाड़ सकोंगे तुम हमसे  ✒  दुश्मनी करके,
 हमें बर्बाद करना चाहते हो तो हमसे मोहब्बत कर लो.  
18= 
 देखा तो वो शख्स भी मेरे ✒  दुश्मनो में था,
 नाम जिसका शामिल मेरी धड़कनों में था. 
इन्हें भी पढ़े:  बेवफाई पर शायरी - Bewfayi Shayari
19= Dushaman-Dushamani whatsapp status in hindi,
 जिस खत पे ये लगाई उसी का मिला जवाब,
 इक मोहर मेरे पास है  ✒  दुश्मन के नाम की.  
20= दुश्मन-दुश्मनी हिंदी शायरी,
 कितने झूठे हो गये है हम,
 बच्चपन में अपनों से भी रोज रुठते थे,
 आज  ✒  दुश्मनों से भी मुस्करा के मिलते है.  
 21= दुश्मन-दुश्मनी स्टेटस,
 आँखों से आँसुओं के दो कतरे क्या निकल पड़े,
 मेरे सारे  ✒  दुश्मन एकदम खुशी से उछल पडे़.
 22= Best  Dushaman-Dushamani Shayari
 हाथ में खंजर ही नहीं आँखों में पानी भी चाहिए,
 ऐ खुदा  ✒  दुश्मन भी मुझे खानदानी चाहिए.  
23= 
 हम से पूछो ना दोस्ती का सिला
 ✒  दुश्मनों का भी दिल हिला देगा
 सुदर्शन फाकिर
24= Dushaman-Dushamani Hindi Shayari,
 ✒  दुश्मनों से क्या ग़रज़ दुश्मन हैं वो
 दोस्तों को आज़मा कर देखिए.
25= 
 ✒  दुश्मन को कैसे खराब कह दूं ,
 जो हर महफ़िल में मेरा नाम लेते है.
 26= 
 मुझे मेरे दोस्तों से बचाइये राही
 ✒  दुश्मनों से मैं ख़ुद निपट लूँगा.
 सईद राही 

27= 
 हर क़दम पे नाकामी हर क़दम पे महरूमी,
 ग़ालिबन कोई  ✒  दुश्मन दोस्तों में शामिल है.
 अमीर क़ज़लबाश  
28= 
 तड़पते है नींद के लिए तो यही दुआ निकलती है,
 बहुत बुरी है मोहबत, किसी  ✒  दुश्मन को भी ना हो.
इन्हें भी पढ़े: बहाने पर शायरी -  Bahane  Shayari 
29= 
 जाती हुई मय्यत देख के भी वल्लाह तुम उठ कर आ न सके,
 दो चार क़दम तो ✒  दुश्मन भी तकलीफ़ गवारा करते हैं.
30= 
 एक भी मौका न दो जो दोस्त हैं  ✒  दुश्मन बनें,
 दुश्मनों को लाख मौके दो तुम्हारे हो सकें.
 31= 
 दोस्तो ने दिया है इतना प्यार यहाँ...
 तो ✒  दुश्मनी का हिसाब क्या रखें...

 कुछ तो जरूर अच्छा है.सभी में...
 फिर बुराइयों का हिसाब क्यों रखें.
 32= 
 ✒  दुश्मनी हो जाती है मुफ्त में सैंकड़ों से,
 इंसान का बेहतरीन होना ही गुनाह है.
33= Dushaman-Dushamani Facebook status,
 एक नाम क्या लिखा तेरा साहिल की रेत पर
 फिर उम्र भर हवा से मेरी  ✒  दुश्मनी रही.
34= 
 मै रिश्तों का जला हुआ हूँ
 ✒  दुश्मनी भी फूँक - फूँक कर करता हूँ.
35= 
 ✒  दुश्मनी लाख सही ख़त्म न कीजे रिश्ता
 दिल मिले या न मिले हाथ मिलाते रहिए
 निदा फ़ाज़ली 
 36= 
 मुझसे दोस्ती ना सही पर  ✒  दुश्मनी भी ना करना क्योंकि,
 नैन  हर रिश्ता पुरी शिद्दत से निभाता हूँ.
37= 
 दोस्ती या  ✒  दुश्मनी, नहीं निभाता है आईना,
 जो उसके सामने है, वही दिखाता है आईना.

38= 
 तेरी गलियों में आने जाने से  ✒  दुश्मनी हो गयी ज़माने से,
 सोके दीदार दे रहा है सज़्जा मिलने आजा किसी बहाने से.
39= 
 इतनी चाहत से न देखा कीजिए महफ़िल में आप
 शहर वालों से हमारी दुश्मनी बढ़ जाएगी. 
इन्हें भी पढ़े: बाते पर शायरी - Baate Par Shayari 
40= 
 ✒  दुश्मनों ने जो दुश्मनी की है
 दोस्तों ने भी क्या कमी की है
 हबीब जालिब 
 41= दुश्मन-दुश्मनी स्टेटस,
  करें हम  ✒  दुश्मनी किससे, कोई दुश्मन नहीं अपना,
 मोहब्बत ने नहीं छोड़ी, जगह दिल में अदावत की.
 42= 
 शेर‬ का शिकार किया नहीं जाता 
 राजा‬ को दरबार में मारा नहीं जाता

 ✒  दुश्मनी‬ अपनी औकात वालों से कर 
 क्यूंकि खेल बाप‬ के साथ खेला नहीं जाता.  
43= Dushaman-Dushamani Hindi Shayari, 
 हम तो  ✒  दुश्मनी भी दुश्मन की औकात देखकर करते है
 बच्चो को छोड देते है और बडो को तोड देते हे.
44= 
 चार दिन की बात है क्या दोस्ती क्या दुश्मनी,
  काट दो इनको खुशी से यार हँसते-हँसते.
इन्हें भी पढ़े:  बात पर शायरी - Baat Par Shayari 
45= दुश्मन-दुश्मनी हिंदी शायरी,
 इलाही क्यों नहीं उठती कयामत माजरा क्या है,
 हमारे सामने पहलू में वो ✒  दुश्मन बन के बैठे हैं.
 46= Dushaman-Dushamani Facebook status,
 प्यार, एहसान, नफरत, दुश्मनी जो चाहो वो मुझसे करलो,
 आप की कसम वही दुगुना मिलेगा.
47= Dushaman-Dushamani whatsapp status in hindi,
 ✒  दुश्मनी जम कर करो लेकिन ये गुंजाइश रहे,
 जब कभी हम दोस्त हो जाएँ तो शर्मिंदा न हों.
 बशीर बद्र
48= 
 ऐ नसीब जरा एक बात तो बता,
 तु सबको आजमाता हैँ या मुझसे ही  ✒ दुश्मनी हैँ .
49= 
 ✒  दुश्मनी का सफ़र इक क़दम दो क़दम
 तुम भी थक जाओगे हम भी थक जाएँगे. 
इन्हें भी पढ़े: आवाज़ पर शायरी - Aawaz Par Shayari
50= Best  Dushaman-Dushamani Shayari
 मेरी दोस्ती का फायदा उठा लेना, क्युंकी,
 मेरी  ✒  दुश्मनी का नुकसान सह नही पाओगे.
 51= 
 इधर आ रक़ीब मेरे, मैं तुझे गले लगा लूँ
 मेरा इश्क़ बे-मज़ा था, तेरी ✒ दुश्मनी से पहले. 

Best  Dushaman-Dushamani Shayari,   Dushaman-Dushamani Hindi Shayari, 2 Line  Dushaman-Dushamani Shayari In Hindi,  Dushaman-Dushamani Facebook status,  Dushaman-Dushamani hindi Status, Hindi Shayari on  Dushaman-Dushamani,  Dushaman-Dushamani whatsapp status in hindi, Large collection of   Dushaman-Dushamani Shayari Status in Hindi, 
दुश्मन-दुश्मनी हिंदी शायरी, दुश्मन-दुश्मनी स्टेटस, दुश्मन-दुश्मनी व्हाट्स अप स्टेटस, दुश्मन-दुश्मनी पर शायरी, दुश्मन-दुश्मनी पर शेर,