110+ शायरी दर्द (Shayari Dard) - Dard Bhari Shayari in Hindi Photo



 110+ शायरी दर्द  (Shayari Dard) 


Hello Friends: आज शायरी दर्द के इस पोस्ट में पढ़ेंगे दर्द भरी शायरी हिन्दी शेरो शायरी, के कलेक्शन को. जो आप के टूटे दिल पे  मरहम  की तरह काम करेगी।  ये  Dard Bhari Shayari की पोस्ट।

दोस्तों यह पोस्ट उन दर्द में डूबे लोगो के लिए हैं जिन्हे किसी की याद, किसी की बेवफाई या ज़माने से दर्द मिला हैं.  "शायरी दर्द" का यह कलेक्शन आप के दिल में  दर्द को शब्दों में बयां करेगी। दर्द भरी शायरी हिन्दी शेरो शायरी के पोस्ट को पढ़ कर आप  एक अलग सा एहसास होगा अपने ग़म में. 



  इस कलेक्शन में आप पढ़ सकते हैं   

  • शायरी दर्द 
  • दर्द भरी शायरी (Dard Bhari Shayari)
  • दर्द भरी शायरी हिन्दी शेरो शायरी
  • Dard Bhari Shayari in Hindi Photo

Shayari-Dard
Shayari Dard

ढेरो आप  लिए sad Sad 2  Line Shayari को संग्रह किया हैं अगल अगल सोशल मिडिया के माध्यम से ताकि इसे आप पढ़ सके और अपने दर्द को जुबां दे सके साथ शेयर कर पाए अपने उन लोगो को जिनसे आप को दर्द मिला। 


Sad-Shayari-Hindi
Sad Shayari Hindi

🔘
ख़ूब है शौक़ का ये पहलू भी,
मैं भी बर्बाद हो गया तू भी


Khub Hain Shauk Ka Ye Pahalu Bhi, Main Bhi Barbaad Ho Gaya Tu Bhi..


🔘
मोहब्बत की हक़ीक़त में,
ख़ामोशी आख़री सच है।।


Mohabbat Ki Haqeeqat Me,n, Khamoshi Aakhari Sach Hain,n..



Ishq-Me-Maine-Dard-Shayari
Ishq Me Maine-Dard-Shayari


🔘
इश्क़ में मैंने और तो कुछ नहीं किया 
बस अपनी हालत ख़राब कर ली हैं।।


Ishq Me Maine Aur To Kuchh Nahi Kiya, Bas Apani Halat Kharab Kar Li..


Roya-Hun-To-Apane-Dosto-Me
Roya Hun To Apane Dosto Me

🔘

रोया हूं तो अपने दोस्तों में,
पर तुझ से तो हंस के ही मिला हूं


Roya Hun To Apane Dosto Me, Par Tujh Se To Hans Ke Hi Mila Hun..


🔘

ये मुझे चैन क्यूँ नहीं पड़ता,
एक ही शख़्स था जहान में क्या?


Ye Mujhe Chain Kyu Nahi Padata, Ek Hi Shakhs Tha Jahaan Me Kya?



Zahar-Pee-Ke-Dawa-Se-Darate-Hai
Zahar Pee Ke Dawa Se Darate Hai

🔘

गुनाह करके सजा से डरते है,
ज़हर पी के दवा से डरते है


Gunaah Karake Saza Se Darate Hai, Zahar Pee Ke Dawa Se Darate Hai..


Mohabbat-Bhikh-Hain-Shayad-SAD
Mohabbat Bhikh Hain Shayad-SAD

🔘

मोहब्बत भीख है शायद,
बड़ी मुश्किल से मिलती है

Mohabbat Bhikh Hain Shayad, Badi Mushkil Se Milati Hain..

  शायरी दर्द   

Ansu-Kisi-Ki-Yaad-Ke-Kitane-Kareeb-SAD-Shayari
Ansu Kisi Ki Yaad Ke Kitane Kareeb-SAD-Shayari

🔘

आया ही था खयाल कि आँखें छलक पड़ीं, 
आँसू किसी की याद के कितने करीब हैं

Aaya Hi Khyaal Ki Ankhen Chhalak Padi, Ansu Kisi Ki Yaad Ke Kitane Kareeb Hain.


Naa Puchh Mere Sabra Ki Intha

🔘
ना पूछ मेरे सब्र की इन्तहा कहाँ तक है,
तू सितम कर ले तेरी ताक़त जहाँ तक है।।


Naa Puchh Mere Sabra Ki Intha Kaha Tak Hai, Tu Sitam Kar Le Teri Takat Jaha Tak Hain...

🔘

करीब आने की कोशिश तो मैं करूँ लेकिन,
हमारे बीच कोई फ़ासला दिखाई तो दे?

Kareeb Aane Ki Koshish To Main Karu Lekin, Hamare Beech Koi Fasalaa To Dikhayi De?

Cigarette-Ke-Dhuye-Me-Marham-Sad-Status
Cigarette Ke Dhuye Me Marham-Sad-Status

🔘

सिगरेट के धुएँ में मरहम ढूँढते-ढूँढते,
वो खुदको हजार दफे जलाना याद हैं

Cigarette Ke Dhuye Me Marham Dhundhate-Dhundhate, Wo Khud Ko Hazaar Dafe Jalaana Yaad Hain....

Nabz-Kati-To-Khoon-Laal-Hi-Nikala-Dard-Shayari
Nabz Kati To Khoon Laal Hi Nikala-Dard-Shayari

🔘

 नब्ज काटी तो खून लाल ही निकला
सोचा था सबकी तरह ये भी बदल गया होगा?

Nabz Kati To Khoon Laal Hi Nikala, Socha Tha sabaki Tarah Ye Bhi Badal Gaya Hoga?

Aaj-kal Zahar Dukaano Par Nakali

🔘
आजकल ज़हर दुकानों पर नकली,
और ज़ुबानों पर असली मिलता है।।


Aaj-kal Zahar Dukaano Par Nakali, Aur Zubaanon Par Asali Milata Hain....

  Read More ..  



🔘
ज़िंदगी हो तो कई काम निकल आते हैं,
याद आएँगे कभी हम भी ज़रूरत में उन्हें।।


Zindagi Ho To Kayi Kaam Nikal Aate Hai, Yaad Aayenge Kabhi Ham Bhi Jarurat Me Unhe...

Tujhe-Bhi-Khuda-Hafiz-Dard-Shayari
Tujhe Bhi Khuda Hafiz-Dard-Shayari

🔘
ए ज़िन्दगी ढूँढ कोई बिछड़ गया है मुझसे,
गर वो न मिला तो सुन तुझे भी ख़ुदा हाफ़ीज़।।


E Zindagi Dhundh Koi Bichhad Gaya Hai Mujhase, Gar Wo Naa Mila To Sun, Tujhe Bhi "Khuda Hafiz"...

🔘

मुसीबत में ये मत सोच,के अब कौन काम आऐगा?
बल्कि ये सोच, के अब कौन छोड के जाऐगा?

Musibat Me Ye Mat Soch, Ke Ab Kaun Kaam Aayega?Balki Ye Soch Ke Ab Kaun Chhod Ke Jayega?

110+ शायरी दर्द  (Shayari Dard) 


 Bahut-Der-Me-Barbaad-Kiya-Shayari-Sad
 Bahut Der Me Barbaad Kiya-Shayari-Sad

🔘
इसका रोना नहीं क्यों तुमने किया दिल बरबाद,
इसका ग़म है कि बहुत देर में बरबाद किया।।


Isaka Rona Nahi Kyu Tumane Kiya Dil Barbaad, Isaka Gham Hain Ki Bahut Der Me Barbaad Kiya....

Intzaar-Beshabri-Se-Usi-Ka-Karna
Intzaar Beshabri Se Usi Ka Karna

🔘

इंतज़ार  बेशब्री से उसी का करना,
जिसे तुम्हारे ज़ज़्बातों का ख्याल हो


Intzaar Beshabri Se Usi Ka Karna, Jise Tumhare Zazbaato Ka Khyal Ho....



Intzaar-Usi-Ka-Karana-Sayari-Dard
Intzaar Usi Ka Karana-Sayari-Dard

🔘

इंतज़ार से उसी का करना, 
जिसे तुम्हारी खुशियों  का ख्याल हो


Intzaar Usi Ka Karana, Jise Tumhare Khushiyo Ka Khyal Ho.



Tere-Intzaar-Me-Gahdi-Dekhi-Miss-u
Tere Intzaar Me Gahdi Dekhi-Miss-u

🔘
इतनी तो तेरी सूरत भी नहीं देखी मैने,

जितना तेरे इंतज़ार में घड़ी देखी है

Itani To Teri Surat Nahi Dekhi Maine, Jitana Tere Intzaar Me Gahdi Dekhi..

🔘

रात भर जागता हूँ एक एसे सख्श की खातिर,
जिसको दिन के उजाले मे भी मेरी याद नही आती


Rat Bhar Jagata Hun Ek Ese Shaks Ki Khatir, Jisako Din Ke Ujaale Me Bhi Meri Yaad Nahi Aati..



Meri-Maut-Se-Puchho-Very-Sad-Shayari
Meri Maut Se Puchho-Very-Sad-Shayari

🔘


मेरी मौत से पूछो,
अब उसे किस बात का इंतज़ार है


Meri Maut Se Puchhoo, Ab Use Kis Baat Ka Intzaar Hain..


🔘

हालात कह रहे हैं मुलाकात नहीं मुमकिन,
उम्मीद कह रही है थोड़ा इंतज़ार कर


Haalaat Kah Rahe Rahe, Mulakaat Nahi Mumkin, Ummid Kah Rahi Hai, Thoda Intzaar Kar..


🔘

कैसे करें बयाँ तुझसे दर्द की इन्तहा को, 
अपनी ही निगाहों की नमी देख कर रो पड़े आज हम।।


Kaise Kare Bayaan Tujhse Dard Ki Intaha Ko, Apani Nigahon Ki Nami Dekh Kar RO Pade..


 Koi-Wafa-Kar-Ke-Roya-Dard-Shayari
 Koi Wafa Kar Ke Roya-Dard-Shayari

🔘
बहुत अजीब सिलसिले है मोहब्बत इश्क मैं,

कोई वफ़ा के लिए रोया तो कोई वफ़ा कर के रोया


Bahut Ajeeb Silsile Hain Mohabbat ISHQ Main, Koi WAFA Ke Liye Roya, Koi Wafa Kar Ke Roya..

🔘
जो तार से निकली है वो धून सब ने सुनी,
जो साज़ पे गुजरी है- वो किस को पता है

Jo Taar Se Nikali Hain WO Dhun Sab Ne Suni, JO Saaz Pe Guzari Hai, Wo Kisi Ko Pata Hain..


Ye-Na-Puchh-KE-Shikayat-Kitani-Hain
Ye Na Puchh KE Shikayat Kitani Hain

🔘
ये ना पूछ के शिकायेतें कितनी है तुम से,
ये बता तेरा कोई और सितम बाकी तो नाही

Ye Na Puchh KE Shikayat Kitani Hain Tum Se, Ye Bata TERA Koi Aur Sitam Baki TO Nahi..

  दर्द भरी शायरी  

🔘
कुछ राज़ तो क़ैद रहने दो मेरी आँखों में,
हर किस्से तो शायर भी नहीं सुनाता है

Kuchh RAAZ To Kaid Rahane Do Meri Ankho Men. Har Kisse To Shayar Bhi NAHI Sunata..

🔘
आज मैंने तलाश किया उसे अपने आप में,
वो मुझे हर जगह मिला मेरी तकदीर के सिवा

Aaj Maine Talash Kiya USE Apane Aap Me, Wo Mujhe HAR Jagah Mila Meri Takdir Ke Siwa..

🔘
रोने से अगर मिलती चाहत इस ज़माने मैं,
तो आज एक सहर होता मुझ से वफ़ा निभाने के लिए

Rone Se Agar Milati Chahat Is Zamane Me, To Aaj Ek Sehara Hota MUJH Se WAFA Nibhane Ke Liye..


Neend-To-Dard-Ke-Bistar-PE-Shayari-Dard
Neend To Dard Ke Bistar PE-Shayari-Dard

🔘
नींद तो दर्द के बिस्तर पे भी आ सकती है,
उनकी आगोश में सर हो ये ज़रूरी तो नहीं

Neend To Dard Ke Bistar PE Bhi Aa Sakati Hai, Unaki Aagosh Me Sar HO Ye To Jaruri Nahi..

🔘
कौन कहता है नफ़रतों में दर्द है मोहसिन,
कुछ मोहब्बतें भी बड़ी दर्द नाक होती है

Kaun Kahata Hain Nafaraton Me Dard Hai Mosin, KUCHH Mohabbat Bhi Badi Dard-Naak Hoti Hain..


Mere-DARD-Me-Izaafaa-Sad-Shayari
Mere DARD Me Izaafaa-Sad-Shayari

🔘
और भी कर देता है मेरे दर्द में इज़ाफ़ा,
तेरे रहते हुए गैरों का दिलासा देना

Aur Bhi Kar Deta Hai Mere DARD Me Izaafaa, Tere RAHATE hUYE gairon Ka Dilasa Dena..


CHOT-Thi-Dil-Pe-Jo-Dikha-Na-Sake
CHOT Thi Dil Pe Jo Dikha Na Sake

🔘
इश्क़ ऐसा था कि उनको बता ना सके,
चोट थी दिल पे जो दिखा ना सके

ISHQ Esa Tha Unako Bata Na Sake, CHOT Thi Dil Pe Jo Dikha Na Sake..

  दर्द भरी शायरी हिन्दी शेरो शायरी  

Bharosha-Jitana-Kimati-Hota-Hain
Bharosha Jitana Kimati Hota Hain

🔘
भरोसा जितना कीमती होता है, 
धोखा उतना ही महँगा हो जाता है

Bharosha Jitana Kimati Hota Hain, Dhokha Utana Hi Mahnga Ho Jata Hain..

🔘
मेरी निगाहों में बहने वाला ये आवारा से अश्क,
पूछ रहे है पलकों से तेरी बेवफाई की वजह

Meri Nigaaho Me Bahane Wala Ye Aawara Se ASHK, Puchh Rahe Hain PALAKO Se Teri Bewafayi Ki Wazah..


Ek-Chahat-THI-Teri-Sath-Jeene-Ki
Ek Chahat THI Teri Sath Jeene Ki

🔘
एक चाहत थी तेरे साथ जीने की, 
वरना मोहब्बत तो किसी से भी हो सकती थी

Ek Chahat THI Teri Sath Jeene Ki, Warana Mohabbat To Kisi Se Bhi Ho Sakati Thi...


Ilzaam-Hazaro-Hain-Life-Sad-Shayari
Ilzaam Hazaro Hain-Life-Sad-Shayari

🔘
किसी को मेरे बारे में पता कुछ भी नही, 
इल्जाम हजारो है और खता कुछ भी नही

Kisi Ko Mere Baare Me Pata Kuchh Bhi Nahi, Ilzaam Hazaro Hain Aur Khata Kuchh Bhi Nahi..

  Dard Bhari Shayari in Hindi Photo  

🔘
लोग इंतजार करते रह गए की हमे टूटा हुआ देखे,
और हम थे की सहते सहते पत्थर के हो गए 

LOG Intzaar Karate Rah GAYE Ki Hame Tuta Hua Dekhe, Aur Ham The Ki Sahate Sahate Patthar Ke Ho Gaye..

🔘
एक ख्वाब सी होकर रह गयी हैं  रस्म ए मोहब्बत,
एक वहम सा हैं अब की मेरे साथ तुम भी थे

Ek Khwaab Si Hokar Rah Gayi Hai, Rasm-E-Mohabbat, Ek Vaham Sa Hain Ab, Mere Sath TUM Bhi The...


Tutane-Se-Na-Sahi-Bikharane-Se-Bacha-Lete
Tutane Se Na Sahi, Bikharane Se Bacha Lete

🔘
काश कुछ जिम्मा  तुम भी उठा लेते,
टूटने से ना सही  बिखरने से बचा लेते

Kash Kuchh Zimma Tum Bhi Utha Lete, Tutane Se Na Sahi, Bikharane Se Bacha Lete..

🔘
महसूस कर रहे हैं तेरी लापरवाही कुछ दिनों से,
याद रखना अगर हम बदल गये तो मनाना तेरे बस की बात नही

Mahasus Kar Rahe Hai Teri Laprwahiya Kuchh Dino Se, Yaad Rakhana Agar Ham Badal GAYE To Manaana Tere Bas Ki Baat Nahi..
🔘
लोग कहते है सच्ची मोहब्बत किसी को नहीं मिलती,
जरा ये बताओ आजकल सच्ची मोहब्बत करता कौन है

Log Kahate Hain Sachchi Mohabbat Kisi Ko Nahi Milati, Jara Ye Batao? Aaj-Kal Sachchi Mohabbat KARATA Kaun Hain

  दर्द भरी शायरी  

🔘
बहुत रो लिया  तुझे याद करके, 
अब मुस्कुराना चाहता हूँ 

BAHUT Ro Liya Tujhe Yaad Karke, Ab Muskurana Chahata Hun...


 Do-Ghut-MAAR-Ke-Jee-Lo
 Do Ghut MAAR Ke Jee Lo

🔘
घुट घुट कर मरने से अच्छा है,
दो घूँट मार के जी लो 

Ghut-Ghut KAR Marane Se Achchha Hain, Do Ghut MAAR Ke Jee Lo..


Kuchh-To-Bikhara-Bikhara-Sa-Hain
Kuchh To Bikhara-Bikhara Sa Hain

🔘
कुछ तो बिखरा-बिखरा सा है,
ख्याल, ख्वाहिश या मेरा मन

KuchhTo Bikhara-Bikhara Sa Hain, Khyal, Khwahish Ya Mera Man....

🔘
इन होंठो की भी न जाने क्या, मजबूरी होती है,
वही बात छुपाते है, जो कहना जरुरी होती है

In Hotho Ki Bhi N Jane Kya Majburi Hoti HAIN, Wahi Baat Chhupate Hain, Jo Kahana Jaruri Hoti hain...

🔘
कुछ तो हासिल हुआ होगा परवाने को शम्मा में जलकर,
महज़ मरने के लिए तो कोई मोहब्बत नहीं करता

Kuchh To Hasil Hua Hoga Parwane Ko Shamma Me Jalkar, Mahaz Marane ke Liye To Koi Mohabbat Nahi Karata..


Khwahisho-Ko-Aag-Lagate-Hain
Khwahisho Ko Aag Lagate Hain

🔘
मौसम बहुत सर्द है चल ऐ दिल,
कुछ ख्वाहिशों को आग लगाते हैं

Mausam Bahut Sard Hain E Dil, Kuchh Khwahisho Ko Aag Lagate Hain...

🔘
चल आ तेरे पैरो पर मरहम लगा दूं ऐ मुक़द्दर,
कुछ चोटे तुझे भी आई होगी, मेरे सपनो को ठोकर मारकर 

Chal Aa Tere Pairo Par Marham Laga Du E Mukaddar, Kuchh Chot Tujhe Bhi Aayi Hogi, Mere Sapanon Ko Thokar MAARKAR...

🔘
आहिस्ता आहिस्ता ज़िंदगी से नफ़रत हो रही है,
लगता है दुबारा इस दिल को मुहब्बत हो रही है

Ahista-Ahista Zindagi Se Nafarat Ho RAHI Hain, Lagata Hain Dubaara Is Dil Ko Mohabbat Ho RAHI Hain..


Tere-Baad-Naa-Jee-Payege-Shayari-Dard
Tere Baad Naa Jee Payege-Shayari-Dard

🔘
एक हम है जो तेरे बाद ना जी पायेंगे,
इक तुम हो के नया इश्क़ करोगे कल से

Ek Ham Hai Jo Tere Baad Naa Jee Payege, Ek Tum Ho Ke Naya Ishq Karoge Kal Se..


Udaas-Jab-Bhi-Yaar-Shayari-Sad
Udaas Jab Bhi Yaar-Shayari-Sad

🔘
अजीब हालात होते हैं इस मोहब्बत में दिल के,
उदास जब भी यार हो क़सूर अपना लगता है

Ajeeb Haalaat Hote Hai Is Mohabbat Me Dil Ke, Udaas Jab Bhi Yaar Ho Kasur Apana Lagata Hain..

🔘
अंजाम-ए-वफ़ा ये है जिसने भी मुहब्बत में,
मरने की दुआ माँगी उसने तन्हा जीने की सज़ा पाई

Anzaa,-E-Wafa Ye Hai Jisane Bhi Mohabbat Me, Marane Ki Dua Mangi, Usakle tanha Jeene Ki Saza Payi..


MAUT-Ke-Maaro-Ko-To-Sad-Life-Shayari
MAUT Ke Maaro Ko To-Sad-Life-Shayari

🔘
मौत के मारो को तो हजार कंधे मिल जाते है,
लेकिन कौन चलता है यहाँ वक़्त के मारो के साथ

MAUT Ke Maaro Ko To Hazaar kandhe Mil Jate Hain, Lekin Kaun Chalata Hain Yaha, Waqt Ke MAARO kE sATH..


iSHQ-Me-Aur-To-Kuchh-Na-Kiya
iSHQ Me Aur To Kuchh Na Kiya

🔘
इश्क में और तो कुछ नहीं किया मैंने,
अपनी हालत ख़राब कर ली हैं

iSHQ Me Aur To Kuchh Na Kiya Maine, Apani Halat Kharab KAR lI..

🔘
जला दिया हाथ की उन लकीरों को ही यारों,
रोज मुझसे कहा करती थी की वो तेरी किस्मत में नहीं है 

Jala Diya HATH Ki Un Lakiron Ko Hi Yaaro, Roz Mujhse Kaha Karati Thi Wo Teri Kisamat Me Nahi Hain..


Jaane-Wale-Yaha-Ke-the-Hi-Nahi
Jaane Wale Yaha Ke the Hi Nahi

🔘
उस गली ने ये सुन के सब्र किया,
जाने वाले यहाँ के थे ही नहीं

Us Gali Ne ye Sun Ke Sabr Kiya, Jaane Wale Yaha Ke the Hi Nahi..

🔘
मेरे हालात ने कर दिया था मुझे खामोश,
हम जरा चुप हुए तो तुमने याद करना ही छोड़ दिया 

Mere Halaat Ne Kar Diya Tha Mujhe Khamosh, Ham Jara Chup Huye To, Tumane Yaad Karana Hi Chhod Diya..

🔘
मुकाम ऐ मोहब्बत तूने समझा ही नहीं,
वरना जहाँ तक था तेरा साथ, वही तक थी ज़िंदगी मेरी

Mukaam-E-Mohabbat Tune Samjha Hi Nahi, Warana Janha Tak tha Tera Sath, Wahi Tak thi Zindagi Meri..


Mohabbat-Ka-Asal-Inmtihaan
Mohabbat Ka Asal Inmtihaan

🔘
मोहब्बत का असल इम्तिहान, 
ताल्लुक ख़तम होने के बाद होता है

Mohabbat Ka Asal Inmtihaan Talluk Khatm Hone Ke BAAD Hota Hain..

  दर्द भरी शायरी हिन्दी शेरो शायरी  

🔘
उनका अक्सर यकीन करता हूँ,
जिनकी बातों पर शक गुजरता है

Unaka Aksar Yakin Karata Hun, Jinaki Baato Par Shak Guzarata Hain..

🔘
कितना खुशनुमा होगा वो मेरे इंतजार का मंजर भी,
जब ठुकराने वाले मुझे पाने के लिए फिर से ऑसु बहायेंगें

Kitana Khushnuma Hoga Wo Mere Intzaar Ka Manzar Bhi? Jab Thukrane Wale Mujhe Pane Ke Liye Fir Se Ansu Bahayenge..

🔘
देखना एक दिन बदल जाऊगा पूरी तरह मैं,
तुम्हारे लिए न सही लेकिन तुम्हारी वजह से ही सही

Dekhana Ek Din Badal Jaunga Puri Tarh Main, Tumhare Liye Na Sahi Lekin Tumhari Wajah Se Hi Sahi..

  Dard Bhari Shayari in Hindi Photo  


Esa-Nahi-Ki-Shaks-Achcha-Nahi-Tha
Esa Nahi Ki Shaks Achcha Nahi Tha

🔘
ऐसा नहीं कि शख्स अच्छा नहीं था वो,
जैसा मेरे ख्याल में था बस वैसा नहीं था वो

Esa Nahi Ki Shaks Achcha Nahi Tha Wo, Jaisa Mere Khyaal Me Tha Bas Wesa Nahi Tha Wo..


Apane-Hi-Makaan-Me-Kiraye-Se-RAHE
Apane Hi Makaan Me Kiraye Se RAHE

🔘
सब कुछ रहा मेरा बस पराये से रहे,
अपने ही मकाँ में हम किराये से रहे

Sab Kuchh Raha Mera Bas Paraye Se RAHE, Apane Hi Makaan Me Kiraye Se RAHE...

🔘
माना की बहोत खूबसूरत हुश्न है तुम्हारा,
लेकिन काश दिल भी होता तो और ही बात होती

MANA Ki Bahut Khubsurat Husn Hain Tumhaara, Lekin Kash Dil Bhi Hota To Aur Hi BAAT Hoti....

  शायरी दर्द   

🔘
जो ज़हर पी चुका हूँ तुम्हीं ने मुझे दिया,
अब तुम तो ज़िंदगी की दुआएँ मुझे न दो

Jo Zahar Pee Chuka Hun Tumhi Ne Mujhe Diya Hain, Ab Tum To Zindagi Ki Duwaye Mujhe Na Do...

🔘
तुम पर भी यकीन है और मौत पर भी ऐतबार है,
देखें पहले कौन मिलता है , हमें दोनों का इंतजार है 

Tum Par Bhi Yakin Hain Aur Maut Par Bhi Etbaar, Dekhe Pahale Kaun Milata Hain, Hame Dono Ka Intzaar Hain..


110+ शायरी दर्द  (Shayari Dard) 


Meri-Ruh-Gulaam-Ho-Gayi-Hain
Meri Ruh Gulaam Ho Gayi Hain

🔘
मेरी रूह गुलाम हो गई है, तेरे इश्क़ में शायद,
वरना यूँ छटपटाना , मेरी आदत तो ना थी

Meri Ruh Gulaam Ho Gayi Hain, Tere Ishq Me Shayad, Warana U Chhatpatana, Meri Aadat To Na Thi..

🔘
दुश्मनों के साथ मेरे दोस्त भी आज़ाद हैं,
देखना है खींचता है मुझ पे पहला तीर कौन?

Sushamano Ke Sath Mere Dost Bhi Aazad hain, Dekhana Hain Kheechata Hain Mujhpe Pahala Teer Kaun?
🔘
कुछ इस अदा से मिरे साथ बेवफ़ाई कर,
कि तेरे बाद मुझे कोई बेवफ़ा न लगे

Kuchh Is Ada Se Mire Sath Bewafayi Kar, Ki Tere Baad Mujhe Koi Bewafa Na lAGE...

🔘
अकेला वारिस हूँ उसकी तमाम नफरतों का,
जो शख्स सारे शहर में प्यार बाटंता  है

Akela Varis Hun Usake Tamaam Nafaraton Ka, Jo Shks Sare Shahar Me Pyaar Batata Hain...

🔘
वो ना ही मिलते तो अच्छा  था,
बेकार में मोहब्बत से नफरत हो गयी

Wo Na Hi Milata To Achchha Tha, Bekaar Me Mohabbat Se Nafarat Hogayi....

  दर्द भरी शायरी  

🔘
मुझे इस बात का ग़म नहीं की तुम बेवफा निकले,
अफसोस तो इस बात का हैं कि लोग सच निकले

Mujhe Is BAAT Ka Gham Nahi Ki Tum Bewafa Nikale, Afasos To Is Baat Ka Hain Ki, Log Sach Nikale..

🔘
समझते थे मगर फिर भी न रखी दूरियां हमने,
चरागों को जलाने में जला ली उंगलियाँ हमने

Samjhate The Magar Fir Bhi Na Rakhi Duriya Hamane, Charagon Ko Jalane Me Jala Li Ungaliyan Hamne....


Patthar-DIL-Hote-Hain-In-Titliyon-Ke
Patthar DIL Hote Hain In Titliyon Ke

🔘
नर्म नर्म फूलों का रस निचोड़ लेती हैं,
पत्थर के दिल होते हैं इन तितलियों के 

Narm-Narm Phoolo Ka RAS Nichod Leti Hain, Patthar DIL Hote Hain In Titliyon Ke..

🔘
सदियो का रतजगा मेरी रातों मे आ गया,
मैं किसी हसीन शख्स की बातों मे आ गया

Sadiyo Ka Ratjaga Meri Raato Me Aa Gaya, Main In Hasin Shaks Ki Baato Me Aa Gaya...

🔘
नब्ज काटी तो खून लाल ही निकला,
सोचा था सबकी तरह ये भी बदल गया होगा

Nabj Kati To Khoon Laal Hi Nikala, Socha Tha Sabaki Tarah Ye Bhii Badal Gaya Hoga....


Ishq-Tabijon-Me-RAH-Gaya
Ishq Tabijon Me RAH Gaya

🔘
बेवफाई सर उठा कर घूमती रही,
और इश्क़ ताबीज़ों में रह गया

Bewafayi Sar Utha Kar Ghumati Rahi, Aur Ishq Tabijon Me RAH Gaya...

🔘
चालाकी कहाँ मिलती है कोई हमें भी बता दो, 
हर कोई ठग लेता है जरा सा मीठा बोलकर

Chalaki Kaha Milati Hai, Koi HameBhi Bata Do, Har Koi Thag Leta Hai Jara Sa Mitha Bolkar....

🔘
सरे बाज़ार निकलूं तो आवारगी की तोहमत,
तन्हाई में बैठू तो इलज़ाम-ऐ-मुहब्बत

Sare Bazaar Nikalu To Aawaragi Ki Tohamat, Tanhayi Main Baithu, To Ilzaam-E-Mohabbat...

🔘
जब तीर लगा था,तब इतना दर्द नहीं हुआ था,
जख्म का एहसास तो तब हुआ,जब कमान देखी अपनों के हाथों में

Jab Teer Laga Tha, Tab Ithana Dard Nahi Hua Tha, Zakhm Ke Ehasaas To Tab Hua, Jab Kamaan Dekhi Apanon Ke Hatho Me...

🔘
ज़रूरी नहीं की कुछ तोड़ने के लिए पत्थर ही उठाओ,
लहज़ा बदल कर बोलने से भी, अक्सर दिल टूट जाते है 

Jaruri Nahi Ki Kuchh Todane Ke Liye Patthar Hi Uthao., Lahaza Badal Kar Bolane Se Bhi, Aksar DIL Tut Jate Hain...

🔘
जिसे रौनक तेरे कदमों ने देकर छीन ली रौनक,
वो लाख आबाद हो, उस घर की वीरानी नहीं जाती

Jise Raunak Tere Kadamon Dekar Chhin Li Raunak, Wo Lakh Aabaad Ho, Us Ghar Ki Virani Nahi Jati...

  Dard Bhari Shayari in Hindi Photo  

🔘
तुम मुझसे छूटकर भी रहे सबकी निगाह में,
मैं तुमसे छूटकर किसी काबिल नहीं रहा

Tum Mujhse Chhutkar Bhi Rahe Sabaki Nigaah Me, Main Tumase Chhutakar Kisi Kabil Nahi Raha..


Khabar-Wo-Rakhenge-Kya-Kisi-Ka
Khabar Wo Rakhenge Kya Kisi Ka

🔘
खबर वो रखेंगे क्या किसी का,
उन्हें खुद अपनी खबर नहीं है

Khabar Wo Rakhenge Kya Kisi Ka, Unhe Khud Apani Khabar Nahi Hain....

🔘
आता नहीं खयाल अब अपना भी ऐ "जलील"
इक बेवफा की याद ने सब कुछ भुला दिया

Aata Nahi Khyal Ab APANA Bhi E "Jalil", Ek Bewafa Ki Yaad Ne Sab Kuchh Bhula Diya...

🔘
ज़िंदगी हो तो कई काम निकल आते हैं,
याद आएँगे कभी हम भी ज़रूरत में उन्हें

Zindagi Ho To Kayi Kaam Nikal Aate Hain, Yaad Ayenge Kabhi Ham Bhi Jarurat Me Unhe...

🔘
कसूर उनका नही…जो मुझसे दूरियाँ बना ली है,
रिवाज ही है दुनिया का…पढी किताबे न पढने का

Kasur Unaka NAHI Jo Mujhse Duriyan Bana Li Hain, Riwaj Hi Hai Duniya Ka, Padhi Kitaben Na Padhane Kaa....


Kuchh-Puraane-Khat-Dekhe-Jab-Mude-Huye
Kuchh Puraane Khat Dekhe Jab Mude Huye

🔘
कुछ पुराने ख़त देखे जब मुड़े हुए,
याद आया की कैसे हम थे जुड़े हुए 

Kuchh Puraane Khat Dekhe Jab Mude Huye, Yaad Aaya Ki Kaise Ham The Jude Huye...

🔘
क्या बताऊँ अपना हाल,
मुस्कुराते हुए भी खुश नही

Kya BATAU Apana Haal, Muskurate Huye Bhi Khush Nahi...

🔘
बेशक़ तुम्हारे बिना ज़िंदगी काट सकता हूँ,
मगर जी नहीं सकता

Beshak Tumhaare Bina Zindagi Kaat Sakata Hun, Magar Jee NAHI Sakata...

Friends: आशा  करता हूँ   110+ शायरी दर्द  (Shayari Dard)  - Dard Bhari Shayari in Hindi Photo  की  यह पोस्ट आप के दर्द को अपने शब्द दिए होंगे, जोकि आप सभी को  पसंद आया होगा।  और साथ ही इस पोस्ट में दर्द भरी शायरी (Dard Bhari Shayari) के साथ दर्द भरी शायरी फोटो को भी देखा। आप सभी को  धन्यवाद हमारे इस छोटे से ब्लॉग को अपना प्यार देने और दर्द भरी शायरी हिन्दी शेरो शायरी की पोस्ट  को पढ़ने के लिए... 


No comments