70+ चाहत शायरी 2 लाइन - Chahat Status



दोस्तों फेसबुक शायरी के इस Post की Topic  "Chahat Shayari"  हैं. इसमें आप पढ़ सकते हैं चाहत शायरी 2 लाइन, चाहत शायरी in Urdu, Chahat Status, चाहत शायरी 4 लाइन, पर बनी बेजोड़ शानदार चाहत शायरी को, मित्रो आशा करता हूँ कि यह पोस्ट आप सभी शायरी के चाहने वालो को बेहद पसंद आएगी. 

Chahat-Shayari
चाहत शायरी - Chahat Status

दोस्तों आईये पढ़ते अब "चाहत शायरी" के कलेक्शन को और लुफ्त उठाते हैं चाहत पर बानी शायरी का जो खास आप के लिए हैं जिसे संग्रह किया गया हैं अलग अलग सोशल मिडिया के प्लेटफॉर्म से. 



आँखें तो प्यार में दिल की जुबां होती हैं, चाहत तो सदा ही बेजुबां होती है, प्यार में दर्द भी मिले तो कैसा घबराना, सुना है दर्द से ही तो चाहत और जवां होती है 

70+ चाहत शायरी 2 लाइन - Chahat Status


1
गले लगा कर प्यार से फना कर दो मुझे
मोहब्बत में फिर कोई चाहत ना रहे बाकी

2
बनाकर रख लो मुझे कैदी अपनी चाहत का
बिछड़कर तुमसे मुझे जीना नहीं आता

3
बहुत गुमनाम है चाहत के रास्ते
तू भी लापता मैं भी लापता

4
मैं दिल हुँ, तुम साँसे, मैं जिस्म हुँ
तुम जान, मैं चाहत हुँ, तुम इबादत
मैं नशा हुँ, तुम आदत

5
इस महफिल में
किसी को महसूस मत होने देना

कि तुम्हारी चाहत से मेरी 
साँसे चलती है

Is Mahafil Me
Kisi Ko Mahasus Mat Hone Dena

Ki Tuhaari Chaahat Se Meri
Sanse Chalati Hai

6
जहर भी खा लो और मोत भी ना हो
ऐसी चाहत हो तो इश्क कर लो कोई मुझसे

7
मेरी चाहत को मेरे हालात के 
तराजू में कभी मत तोलना

मैंने वो ज़ख्म भी खाए है, 
जो मेरी किस्मत में नहीं थे

8
बड़े ही बेदर्द निकले हमारे चाहने वाले
चाहत के दिए जलाकर अंधेरों की लत लगा दी

9
चाहत फिक्र इम्तेहान सादगी वफा
मेरी इन्हीं आदतों ने मुझे मरवा दिया

10
हमें शायर समझ के यूं नजर अंदाज न करिये
नजर हम फेर ले तो तेरी चाहतों का बाजार गिर जायेगा

11
वजूद शीशे का हो तो पत्थरों से मोहब्बत नहीं करते
एहसास-ए-चाहत ना मिले तो हस्ती बिखर जाती है

Wajood Sheeshe Ka Ho Toh Pattharon Se Mohabbat Nahi Karte
Ehsaas-e-Chahat Na Mile Toh Hasti Bikhar Jati Hai

12
इतनी चाहत के बाद भी तुझे एहसास ना हुआ
जरा देख तो ले दिल की जगह पत्थर तो नहीं

Itni Chaahat Ke Baad Bhi Tujhe Ehsaas Na Hua
Jara Dekh Toh Le Dil Ki Jagah Patthar Toh Nahi

13
तु भी तलाशे कभी खुद को मुझमे
इस फागुन तेरे रंग में यूं रँगने की 
फ़क़त चाहत सी हैं

14
सँवर जाऊँ गर तू मेरा हाथ थाम ले, 
बिखर जाऊँ खुशबू सी गर तू एक बार देख ले
हो जाए मुकम्मल चाहत मेरी भी गर, 
मेरी बिंदिया और मेहंदी में तू अपना नाम लिख ले

15
इतु सी चाहत. इतु सी ख़ुशी इतु सी ख्वाहिश
इतु सी उमंग. इतु सी तेरी प्यास. और औरऔर ढेर सारी तेरी यादे

Ittu Si Chahat Ittu Si Khushi Ittu Si Khwahish
Ittu Si Umang Ittu Si Teri Pyaas Aur-Aur-Aur Dher Sari teri Yaade

16
बेखुदी में बस एक इरादा 
कर लिया

इस दिल की चाहत को हद से 
ज्यादा कर लिया

जानते थे वो इसे निभा न सकेंगे पर
उन्होंने मजाक और हमने 
वादा कर लिया

Bekhudi Me Bas Ek Irada
Kar Liya

Is Dil Ki Chahat Ko Had Se
Jyaada Kar Liya

Janate The W Ise Nibha Naa Sakenge Par
Unhone Mazak Aur Hamane
Wada Kar Liya

  चाहत शायरी in Urdu  

17
चाहत से फतेह कर लो 
नजरों से करम फरमाओ

इश्क़ इबादत है मेरी 
हर दुआ में तुम नज़र आओ

Chahat Se Fateh Kar Lo 
Nazaron Se Karam Farmao

Ishq Ibadat Hai Meri 
Har Duwa Me Tum Nazar Aao

18
जर मिली और फसाना हो गया.
दिल उसकी चाहत का दीवाना हो गया

जब से आए है वो जिन्दगी मे
अंदाज हमारा शायराना हो गया

  चाहत शायरी  

19
ना जाने क्यों तुझे देखने के बाद भी
तुझे ही देखने की चाहत रहती है

Naa Jaane Kyu Tujhe Dekhane Ke Baad Bhi
Tujhe Dekhane Ki Chahat Rahati Hai

20
गुलाब की खुशबू भी फीकी लगती है,
कौन सी खूशबू मुझमें बसा गई हो तुम

जिंदगी है क्या तेरी चाहत के सिवा,
ये कैसा ख्वाब आंखों में दिखा गई हो तुम

Gulaab Ki Khushabu Bhi Fiki Lagati Hai,
Kain Si Khushabu Mujhame Basaa Hayi Ho Tum

Zindagi Hai Kya Teri Chahat Ke Siwa,
Ye Kaisa Khwaab Ankho Me Dikha Gayi Tum

21
इतनी चाहत से न देखा कीजिए 
महफ़िल में आप

शहर वालों से हमारी दुश्मनी 
बढ़ जाएगी

Itani Chahat Se Na Dekha Kijiye 
Mahafil Me Aap

Shahar Walo Se Hamaari Dushamani 
Badh Jaayegi

22
धोखा ना देना कि तुझपे ऐतबार बहुत है,
ये दिल तेरी चाहत का तलबगार बहुत है

तेरी सूरत ना दिखे तो दिखाई कुछ नहीं देता,
हम क्या करें कि तुझसे हमें प्यार बहुत है

Dhokha Naa Dena Ki Tujhpe Etbaar Bahut Hai,
Ye Dil Teri Chahat Ka Talbdaar Bah Hai

Teri Surat Naa Dikhe To, Dikhayi Kuchh Nahi Deta,
Ham Kya Kare Ki Tujhse Hame Pyaar Bahut Hai
23
तुम्हारी पसंद हमारी चाहत बन जाऐ,
तुम्हारी मुस्कुराहट दिल की राहत बन जाऐ

खुदा खुशियाों से इतना खुश कर दे आपको,
कि आपको खुश देखना हमारी आदत बन जाऐ

Tumhaari Pasand Hamaari Chahat Ban Jaaye,
Tumhari Muskurahat Dil Ki rahat Ban Jaaye

Khuda Shushiyo Se Itana Khush Kar De Aapko
Ki Aapko Khush Dekhana Hamari Aadat Ban Jaaye

24
तेरी चाहत तो मुक़द्दर है, मिले न मिले
राहत ज़रूर मिल जाती है, तुझे अपना सोच कर

Teri Chahat To Mukddar Hai, Mile Naa Mile
Raahat Jarur Mil Jati Hai, Tujhe Apana Soch Kar

25
मेरी चाहत देखनी है तो, 
मेरे दिल पर अपना दिल रखकर देख

तेरी धडकने न बढ़ जाये दिलबर, 
तो मेरी महोब्बत ठुकरा देना

Meri Chahat Dekhani Hai To,
Mere Dil Par Apana Dil Rakh Kar Dekh

Teri Dhadakane Na Badh Jaye Dilbar,
To Meri Mohabbat Thukara Dena

70+ चाहत शायरी 2 लाइन - Chahat Status


26
एक चाहत थी,तेरे साथ जीने की
वरना, मोहब्बत तो किसी से भी हो सकती थी

Ek Chahat Thi Tere Sath Jeene Ki
Warana Mohabbat To Kisi Se Bhi Ho Sakati Thi

  Chahat Status  

27
लबों से चाहत की खुशबू चुरायेगें
बहुत हो गई दूरियाँ चलो अब पास आयेगें

28
कब तलक रहियेगा दूर की चाहत बनकर
दिल में आ जाईये ना इकरार -ए- मोहब्बत बनकर

29
तुझे पाने की उम्मीद नहीं फिर भी इंतज़ार है
चाहत अधूरी ही सही पर तेरे लिए बेशुमार है

30
रंग में तेरे रंग जाने की चाहत,
बाँहों में तेरी आ कर थम जाने की चाहत

प्यार कर बेइन्तहा तुझको.
है चाहत तेरी बन जाने की चाह

31
गम ना कर ज़िंदगी बहुत बड़ी है,
चाहत की महफ़िल तेरे लिए सजी है

बस एक बार मुस्कुरा कर तो देख,
तक़दीर खुद तुझसे मिलने बाहर खड़ी है

Gam Na Kar Zindagi Bhaut Badi Hai,
Chahat Ki Mahafil Tere Liye Saji Hai

Bas Ek Baar Muskura Kar To Dekh
Taqdir Khud Tujhase Milane Bahaar Khadi Hai 

32
दिल में उसकी चाहत और लबों पे उसका नाम है
वो वफ़ा करे ना करे जिन्दगी अब उसी के नाम है

33
हमारी मुहब्बत में मनमर्जियाँ तुम्हारी हैं
मेरी चाहत की परवाह तुम्हें कहाँ है

Hamari Mohabbat Me Manmarjiyan Tumhaari Hai
Meri Chahat Ki Parwaah Tumhe Kanha Hai 

34
एक तो मेरी चाहत 
और दुसरा इश्क का बुखार

शहर का तापमान 
50 डिग्री ना हो तो क्या हो?

Ek To Teri Chahat
Aur Dusara Ishq Ka Bukhaar

Shahar Kaa Taapmaan 
50 Degree Na Ho To Kya Ho?

35
मुक्कमल इश्क की तलबगार नहीं हैं आँखें
थोड़ा-थोडा ही सही, रोज़ तेरे दीदार की चाहत है

Mukkamal Ishk Ki Talbdaar Nahi Hai Ankhe
Thoda-Thoda Hi Sahi Roz Tere Deedaar Ki Chahat Hai

36
तेरी चाहत का रंग चढ़ा है  मुझ पर
बो उतरे तो  खेलूं होली

37
ना चाहतों का ना ही  ये दौलतों का रिश्ता है
ये तेरा मेरा तो बस रूह का रिश्ता है

Naa Chahaton Ka Naa Hi Daulaton Ka Rishata Hai
Ye Tera Mera To Bas Ruh Ka Rishta Hain

  चाहत शायरी in Urdu  

38
गर मेरी चाहतों के मुताबिक
जमाने में हर बात होती

तो बस मैं होता वो होती, 
और सारी रात बरसात होती

Agar Meri Chahato Ke Mutabik, 
Zamaane Me Har Baat Ho

To Bas Mai Hota Wo Hoti,
Aur Saari Raat Barsaat Hoti

  चाहत शायरी  

39
हाथ की लकीरें पढने वाले ने तो मेरे होश ही उड़ा दिये
मेरा हाथ देख कर बोला तुझे मौत नहीं किसी की चाहत मारेगी

40
तुम लाख छुपाओ चेहरे से एहसास हमारी चाहत का
दिल जब भी तुम्हारा धड़का है आवाज़ यहां तक आयी है

41
बस एक एहसास की कमी है उसमें
वरना चाहत में बेमिसाल है वो

Bas Ek Ehasaas Ki Kami Hai Usame
Warana Chahat Me Bemishaal Hai Wo

42
किसी के पैगाम को ज़रा प्यार से पढ़ा कीजिये
किसी की चाहत का एहसास किया कीजिये

Kisi Ke Paigaam Ko Jara Pyaar Se Padha Kijiye
Kisi Ki Chahat Ka Ehasaas Kiya KIjiye

43
तेरी चाहत मेरी आँखों में है, 
तेरी खुशबू मेरी सांसो में है

मेरे दिल को जो घायल कर जाए, 
ऐसी अदा सिर्फ तेरी बातो में है

Teri Chahat Meri Ankho Me Hai
Teri Khushabu Meri Sanso Me Hai

Mere Dil Ko Jo Ghayal Kar Jaaye
Esi Ada Sirf Teri Baato Me Hai

44
किसी की चाहत और मोहब्बत पर दिल से यकीं करना
दिल टुटे न उसका इतनी फिक्र करना

Kisi Ki Chahat Aur Mohabbat Par Dil Se Yakin Karana
Dil Tute Na Usaka Itani Fikar Karana

45
टूट सा गया है मेरी चाहतों का वजूद
अब कोई अच्छा भी लगे तो हम इजहार नहीं करते

  Chahat Status  

46
अपने होने पर इतना भी ना इतरा 
लत हैं तू, चाहत नहीं

47
किसी के ज़ख़्म पर चाहत से पट्टी कौन बांधेगा
अगर बहनें नहीं होंगी तो राखी कौन बांधेगा?

48
चाहतो से दिल में गम बहुत हैं,
जिन्दगी में मिले जख्म बहुत हैं

मार ही डालती दुनिया कब की हमें,
मगर दोस्तों की दुआओं में दम बहुत हैं

49
आरज़ू मेरी, चाहत तेरी,
तमन्ना मेरी, उल्फत तेरी

इबादत मेरी, मोहब्बत तेरी,
बस तुझ से तुझ तक है दुनिया मेरी

50
अकेले वारिस हो तुम
मेरी बेशुमार चाहतों के

51
कातिल नजरो से जो कत्ल किया तो 
इश्क की चाहत उभर आई है

मोहब्बत को छुपालूँ दिल में 
आँखें तो हरजा़ई है

52
इन निगाहों से ओझल न होना,
मेरे दिल की इबादत हो तुम

तुम ही तुम हो हर धड़कनों में,
इन धड़कनो की चाहत हो तुम

53
कदर कर लो उनकी जो तुम से 
बिना मतलब की चाहत करते है

दुनिया में ख्याल रखने वाले कम 
और तकलीफ देने वाले ज्यादा होते है

54
दर्द की चाहत किसे होती है मेरे यारो
ये तो मोहब्बत के साथ मुफ़्त में मिलता है

55
मुझे क़ुबूल है तेरी चाहत में
हर दर्द, हर तक़लीफ़
क्या तुझे क़ुबूल है मुहब्बत मेरी?

56
मेरा वजूद मिट रहा है इश्क़ में तेरे
अब यह ना कहना की जिस्म की चाहत है मुझे

57
वफ़ा का लाज हम वफ़ा से निभाएंगे,
चाहत के दीप हम आँखों से जलाएंगे

कभी जो गुज़ारना हो तुम्हे दुसरे रास्तो से,
हम फूल बनकर तेरी राहो में बिखर जायेंगे


____________________________________

58
लम्हों का इश्क नही, सदियों की इबादत है
कैसे करें शिकायत, हर साँस को तेरी चाहत है

Lamho Ka Ishk Nahi, Sadiyo Ki Ibadat Hai
Kaise Kare Shikayat, Har Sans Ko Teri Chahat Hai

59
एक दिन जब मेरी साँस थम जाएगी 
मत सोचना चाहत कम हो जाएगी

फ़र्क सिर्फ़ इतना होगा आज हम आपको याद करते हैं
कल मेरी याद आपको रुलाएगी

60
आरजू बस इतनी सी है, जो चाहत थी वो बस एक
बार फिर से मिले यही बस, एक आरजू दिल में बसी है

  चाहत शायरी in Urdu  

61
तड़प के देखो किसी की चाहत में,
तो पता चले कि इंतज़ार क्या होता है

यूँ ही मिल जाये अगर कोई बिना तड़पे,
तो कैसे पता चले के प्यार क्या होता है

62
मोहब्बत मुझे थी उसी से सनम, 
यादों में उसकी यह दिल तड़पता रहा

मौत भी मेरी चाहत को रोक न सकी, 
कब्र में भी यह दिल धड़कता रहा

Mohabbat Mujhe Thi Usi Se Sanam,
Yaadon Men Unaki Yah Dil Tadapata Raha

Maut Bhi Meri Chahat Ko Rok Naa Saki.
Kabr Me Bhi Yah Dil Dhadakata Raha

63
वक्त चाहत नही होती तो तेरे करजज़ार होते 
एक पल के लिए भी हम तलाबदार न होते

64
सीख जाओ वक्त पर,
किसी की चाहत की कदर करना

कहीं कोई थक ना जाये तुम्हें 
एहसास दिलाते दिलाते

65
सनम तेरी नफरत में वो दम नहीं 
जो मेरी चाहत को  मिटा दे

ये मोहब्बत है कोई खेल नहीं 
जो आज हंस के  खेला और कल रो कर  भुला दे

66
तूने देखी कहां,मेरी चाहतों की दुनियां
समंदर इश्क़ का,तेरे लिए अभी सूखा नहीं है

67
अधूरी रहें इश्क की दास्तानँ,, वहीं चाहत कहलाती है
समंदर से मिलनें के बाद तो,,नदी भी समंदर कहलाती है

68
गुस्सा करने के बाद भी कोई तुमसे प्यार करे
तो यही मोहाबत है यही चाहत है

69
तेरे हर गम को अपनी रूह में उतार लूँ
ज़िन्दगी अपनी तेरी चाहत में संवार लूँ


दोस्तों आशा करता हूँ की "  70+ चाहत शायरी 2 लाइन - Chahat Status  " यह भी पोस्ट पसंद आया होगा आप सभी को और आपने पढ़ा होगा "Chahat Shayari" चाहत शायरी in Urdu, Chahat Statue, चाहत शायरी 4 लाइन, के इस कलेक्शन को दोस्त अगर यह पोस्ट आपके दिल को छू लिया हो तो इसे जरूर से शेयर करे ताकि इस कलेक्शन को और भी दोस्त पढ़ सके. धन्यवाद आप सभी का आपने इस पोस्ट को अपना प्यार दिया.


No comments