101 अच्छा पर शायरी - 101 Achchha Shayari

बेहतरीन अच्छा  पर बनी शायरी का बेहतरीन कलेक्शन 

नमस्कार दोस्तों आईये फिर से शुरुआत करते हैं आज के इस आर्टिकल "शब्दों के जाल" की और जानते हैं आज कौन से शब्द पर आधारित हैं ये आर्टिकल?

101-Achchha-Shayari

101-Achchha-Shayari


आज का यह आर्टिकल अच्छा शब्द से लिया गया हैं और इस पोस्ट में आप पा सकते हैं अच्छा पर बनी ढेरो शायरियों का बेजोड़ कलेक्शन. जोकि आप सभी शायरी के कद्रदानो को यह पोस्ट बेहद ही पसंद आएगा. 


तो देर कैसी आईये पढ़ते हैं "अच्छा पर शायरी" और अपने मनपसंद शायरी को शेयर करते हैं अपने दोस्तों और चाहने वालो को व्हात्सप्प और फेसबुक तथा अन्य सोशल मिडिया पर. 
बेहतरीन अच्छा पर शायरी के इस कलेक्शन को पढ़ने से पहले गुनगुनाते हैं एक प्यारे से नगमे की प्यारी सी लाइन को. 
ओ तुमसे अच्छा कौन है दिल लो, जिगर लो,  जान लो हम तुम्हारे है सनम तुम हमे पहचान लो
दोस्तों आशा करता हूँ यह कलेक्शन आपको बेहद पसंद आएगा धन्यबाद.

 1= 
 बड़े अच्छे लगते हैं ये धरती, 
 ये नदिया, ये रैना और तुम.  


 2= 
  कितना अच्छा लगता है ना जब मोहब्बत में कोई कहे,
 क्यूँ करते हो किसी और से बात, 
            मैं काफी नहीं आपके लिए. 
इन्हें भी पढ़े आप : मोहब्बत पर  शायरी - Mohabbat Par Shayari 
3= 
 कुछ रोज ही सही पर मेरे नाम का हिस्सा रहा है वो,
 अच्छा नही की अब उसे बदनाम करु

4= 
 इलाजे-दर्दे-दिल तुमसे मसीहा हो नहीं सकता, 
 तुम अच्छा कर नहीं सकते मैं अच्छा हो नहीं सकता..  
5= 
 कागजो से, मैं रोज़ तेरी शिकायत करती हूँ,
 लोग कहते है, "बड़ा अच्छा लिखती हूँ.
 6= 
 अजनबी बनकर निकल जाओ तो अच्छा है,
 सुलग जाती है उम्मीदें बेवजह.

7= 
 इस दौर में दूर से ही दुआ सलाम का रिश्ता अच्छा है,
 करीब आने पर अक्सर दूर हो जाते हैं लोग.  
8= 
 ख़्यालों की सियासत करते हों लोग जहाँ,
 वहाँ हम बेख़्याल रहें तो अच्छा है. 
इन्हें भी पढ़े आप : बेवफा शायरी  Bewafa 100 Status 
9= 
 चाँद बादल में अच्छा लगता है, 
 आधे रुख पर नक़ाब रहने दो.  
 11= 
 हल्की हल्की सी सर्द हवा जरा जरा सा दर्द-ए-दिल,
 अंदाज अच्छा है अए नवम्बर तेरे आने का.  
 12= 
 कुछ हसरतें अधूरी ही रह जाए तो अच्छा है, 
 पूरी हो जाने पर दिल कहीँ ठहर सा जाता है.  
13= 
 हल्की सी सर्द हवा, ज़रा सा दर्द-ए-दिल,
 अन्दाज अच्छा है दिसंबर तेरे आने का.
14= 
 अच्छा हुआ जो अब कोहरा पड़ने लगा,
 तुम्हारे इंतज़ार में नज़र दूर तक न जाएगी..  
15= 
 मेरी गलती करने की आदत नहीं, फिर भी करता हु,
 क्योकी अच्छा लगता हे तेरा प्यार से समझना.
 16= 
 ये तो अच्छा है कि मेरे हर ख़्वाब पूरे नहीं होते.,
 वरना मेरे दोस्त किस-किस को 
                       भाभी जी कहकर बुलाते.
17= 
 अच्छा हैं ये दिल अंदर होता हैं,
 बाहर होता तो, हमेशा पट्टियों में ही लिपटा रहता.
18= 
 अच्छे दोस्तो की तलाश तो कमजोर दिल वालो को होती है,
  बडे दिल वाले तो हर दोस्त को अच्छा बना लेते है. 
19= 
 चलिए जिंदगी का जश्न कुछ इस तरह मनाते है,
  कुछ अच्छा याद रखते है कुछ बुरा भूल जाते है. 
20= 
 लोग बहुत अच्छे होते हैं,
 अगर हमारा वक्त अच्छा हो तो.  
 21= 
 अच्छा हुआ तूने ठुकरा दिया मुझे,
  प्यार चाहिए था तेरा एहसान नही.  
 22= 
 अच्छा हुआ जो तुम किसी और के हो गए,
 खत्म तो हुआ फिक्र तुम्हें अपना बनाने की.
23= 
 अच्छा हुआ कि तूने हमें तोड़ कर रख दिया,
  घमण्ड भी तो बहुत था हमें तेरे होने का.

24= 
 कुछ हसरतें अधूरी ही रह जायें तो अच्छा है,
 पूरी हो जाने पर दिल खाली खाली सा हो जाता है.  
25= 
 टूट सा गया है मेरी चाहतों का वजूद,
 अब कोई अच्छा भी लगे तो हम इजहार नहीं करते.
 26= 
 पागल नहीं थे हम जो तेरी हर बात मानते थे,
 बस तेरी खुशी से ज्यादा कुछ अच्छा ही नही लगता था. 

27= 
 अच्छा है आँशुओ की किमत नही होती,
  वरना कुछ तकिये करोङो मे बिकते.
28= 
 जो दिल को अच्छा लगता है उसी को दोस्त कहती हूँ,
 मुनाफ़ा देखकर रिश्तों की सियासत नहीं करती मैं.
इन्हें भी पढ़े आप : दिल पर शायरी - Dil 110 Status
29= 
 मोहब्बत थी तो चाँद अच्छा था ,
 उतर गई तो दाग दिखने लगे.  
30= 
 दुनिया खरीद लेगी हर मोड़ पर तुझे,
 तूने जमीर बेचकर अच्छा नहीं किया.  

बेहतरीन अच्छा  पर बनी शायरी का बेहतरीन कलेक्शन 

 31= 
 अच्छा सुनो तुम अपना जरा ध्यान रखना,
 अभी मौसम बीमारी का भी हे और इश्क का भी.  
 32= 
 जो मुझसे रोज़ परियों की कहानी सुन कर सोते थे,
 अब उन बच्चों को मेरा बोलना अच्छा नहीं लगता.  
33= 
 मेरी गलती करने की आदत नहीं, फिर भी करता हु,
 क्योकी अच्छा लगता हे तेरा प्यार से समझना.
34= 
 चलो अच्छा हुआ, जो तुम मेरे दर पे नहीं आए,
 तुम झुकते नहीं और मैं चौखटें ऊँची कर नहीं पाता. 
35= 
 कितना अच्छा होता अगर ज़िन्दगी भी उस किताब की तरह होती...
 जिसके पिछले पन्नों पर सभी सवालों के जवाब लिखे होते है

इन्हें भी पढ़े आप : इंतज़ार पर शायरी  Intezaar Status 
 36= 
 मेरा झुकना और तेरा खुदा हो जाना,
 अच्छा नही इतना बड़ा हो जाना.
37= 
 दिल को जो अच्छा लगे उसी से प्यार करो,
 आँखों का क्या है उसे तो सब अच्छे लगते हैं. 
38= 
 इंसान खुद की गलती पर अच्छा वकील बनता है,
 दुसरो की गलती पर सीधे जज बन जाता हैं..
39= 
 पूरा नहीं हुआ , तो क्या हुआ,
 दिखाने वाले तेरा ख्वाब अच्छा था.  
40= 
 अहंकार" दिखाके किसी रिश्ते को तोड़ने से अच्छा है की,
 माफ़ी मांगकर वो रिश्ता निभाया जाये.  


 41= 
 कलम से लिख नहीं सकते उदास दिल के अफ़साने,
 हमारे साथ जो होता है बस अच्छा नहीं होता.
 42= 
 जिक्र तेरा हुआ तो हम महफ़िल छोड़ आये,
 हमें गैरों के लबों पे तेरा नाम अच्छा नहीं लगता.  
43= 
 हाथ में टच फ़ोन, बस स्टेटस के लिये अच्छा है,
 सबके टच में रहो, जींदगी के लिये ज्यादा अच्छा है.
इन्हें भी पढ़े आप : वादा शायरी Wada Shayari In Hindi
44= 
 जहाँ भूली हुई यादें दामन थाम लें दिल का...
 वँहा से अजनबी बन कर गुज़र जाना ही अच्छा.  
45= 
 चाहत के रंग उनके, कितने बदल गये,
 अच्छा हुआ कि हम भी, खुद ही संभल गए. 

 46= 
 अपनों से अच्छा तो ग़म है,
 कभी साथ ही नहीं छोड़ता. 
47= 
 किताबें इश्क की पढकर ना समझो खुद को आशिक़,
 ये दिल का काम, दिल वालों को करने दो तो अच्छा है.  
48= 
 ये साल अगर इतनी मुहलत दिलवा जाए तो अच्छा है,
 ये साल अगर हमसे हम को, मिलवा जाए तो अच्छा है. 
49= 
 दिल लगानें से अच्छा हैं, पेड़ लगाए,
 वो घाव नहीं कम से कम #छाँव तो देगे.  
50= 
 अब उजाला है और थोड़ा..बेशक वो रात थी,
 नया अच्छा है लेकिन पुराने में बात थी.
 51= 
 हो गई थी दिल को कुछ उम्मीद सी आपसे,
 खैर आपने जो किया अच्छा किया.  
 52= 
 सोये हुए थे सुकून से अचानक तड़प उठे,
 यूँ आकर तेरे ख्याल ने अच्छा नहीं किया.  
53= 
 न जाने क्या मासूमियत है तेरे चेहरे पर,
 तेरे सामने आने से ज़्यादा तुझे छुपकर देखना अच्छा लगता है.
54= 
 दिल पे ना लीजिये अगर कोई आपको बुरा कहे,
 ऐसा कोई नहीं है जिसे हर शख्स अच्छा कहे.  
55= 
 रोने की वजह भी न थी
 न हंसने का बहाना था
 क्यो हो गए हम इतने बडे 
 इससे अच्छा तो वो बचपन का जमाना था.
 56= 
 चलो अच्छा हुआ कि अब धुंध पड़ने लगी,
 दूर तक तकती थीं निगाहें तुझे. 
इन्हें भी पढ़े आप :  110 दोस्ती शायरी -110 Dosti Status
57= 
 यह भी अच्छा है की हम किसी को अच्छे नहीं लगते,
 चलो कोई रोयेगा तो नहीं हमारे मरने के बाद.  
58= 
 दोस्तो ने दिया है इतना प्यार यहाँ,
 तो दुश्मनी का हिसाब क्या रखें,
 कुछ तो जरूर अच्छा है.सभी में,
 फिर बुराइयों का हिसाब क्यों रखें. 
59= 
 कितना मुश्किल है जहाँ मे अच्छा दिलजानी होना,
 हुस्न के दौर में ईश्क का रूहानी होना. 

60= 
 ख़ुदकुशी करने वाले को इक भरम ये है,
 जो भी होगा उसके बाद सब अच्छा होगा.  
 61= 
 मेरे मरने का एलान हुआ तो, उसने भी यह कह दिया
अच्छा हुआ मर गयी, बहुत उदास रहती थी. 
 62= 
 कोई मुझे अच्छा तो कोई बुरा भी कहता है,
 इंसान कुछ नहीं कहता नज़रिया कहता है.  
63= 
 अच्छा लगता है तुम्हारे लफ्जों में खुद को ढूँढना,
 इतराती हूँ , मुस्कुराती हूँ और तुममें ढल सी जाती हूँ.
64= 
 चलता रहूँगा पथ पर,
 चलने में माहिर बन जाऊंगा,
 या तो मंजिल मिल जाएगी,
 या अच्छा मुसाफ़िर बन जाऊंगा.
65= 
 नसीब अच्छा न हो तो खूबसूरती का कोई फ़ायदा नहीं
 दिलों के शहंशाह अक्सर फ़क़ीर होते है.
 66= 
 फर्क होता है खुदा और फ़क़ीर में,
 फर्क होता है किस्मत और लकीर में,
 अगर कुछ चाहो और न मिले तो समझ लेना,
 कि कुछ और अच्छा लिखा है तक़दीर में. 
67= 
 बड़े अच्छे लगते हैं ये धरती, 
 ये नदिया, ये रैना और तुम हम तुम.   
68= 
 हथियार के दम पर रईस बनने से अच्छा हैं,
 की हुनर के दम पर काबिल बन जाओ.
69= 
 यहाँ तक आई हूँ तेरे प्रेम में,
 अच्छा बुरा सब छोड़ आई हूँ तेरे प्रेम में.

70= 
 जिसके लिए लिखता हूँ आज कल,
 वो कहती हैं अच्छा लिखते हो, उसको सुनाऊँगी. 
इन्हें भी पढ़े आप : 100+ बारिश शायरी / Barish 100 Status 
 71= 
 अच्छा है आँखों पर पलकों का कफन है,
 वरना तो इन आँखो में बहुत कुछ दफन है.  
 72= 
 ओ तुमसे अच्छा कौन है दिल लो, जिगर लो, 
 जान लो हम तुम्हारे है सनम तुम हमे पहचान लो. 
73= 
 न ख़ुशी अच्छी है ऐ-दिल न मलाल अच्छा है,
 यार जिस हाल में रक्खे वही हाल अच्छा है.

74= 
 मोहब्बत थी तो चाँद अच्छा था,
 उतर गई तो दाग भी दिखने लगे.  
75= 
 सच बोल देता हूँ,
 अच्छा नहीं अजीब हूँ मैं. 
 76= 
 बुरा नहीं हूँ मैं साहब,
 बस उसे अच्छा नहीं लगता.
77= 
 सब के लिए अच्छा माँगा करो,
 अपने लिए माँगने की ज़रूरत ही नहीं पड़ेगी.  
78= 
 सीने पे तीर खाके भी अगर कोई मुस्कुरा दे तो,
 निशाना लाख अच्छा हो मगर बेकार जाता है.
79= 
 पहले क्या था जो किया करते थे तारीफ़ मेरी,
 अब हुआ क्या जो बुरा हो गया अच्छा हो कर. 
80= 
 वो साईकिल  सैर सपाटा और वो चूरन सस्ता अच्छा था,
 स बोझ भरे जीवन से तो वो, स्कूल का बस्ता अच्छा था. 
 81= 
 ज़्यादा बोल कर हर लफ्ज़ का मातम करें ?
 उस से तो अच्छा है,
      की हम लोग बात ही कम करें.  
 82= 
 इकरार नामा मुहब्बत का लिए घूमते हैं,
 बस इक तेरे दस्तखत मिल जाते तो अच्छा था.  
83= 
 लोग आपके बारे में अच्छा सुनने पर शक करते हैं,
 लेकिन बुरा सुनने पर तुरंत यकीन कर लेते हैं.
84= 
 मुक्तसर सी इस जिन्दगी मे रखा क्या है,
 गर इश्क भी यहाँ ऐब है तो अच्छा क्या है. 
85= 
 हाँ मैं शर्मिंदा हूँ, मुझे अच्छा नहीं होना था,
 बहरूपियों के बीच मे, मुझे सच्चा नहीं होना था. 
 86= 
 तुम्हें पाने की ख्वाहिश में दोबारा फिर जनम लें हम, 
 बताओ इससे अच्छा ये नहीं हो जाओ मेरे तुम.
87= 
 मेरी आवारगी में कुछ दखल तुम्हारा भी है,
 क्यों की जब तेरी याद आती है तो घर अच्छा नही लगता. 
88= 
 दुनियाँ में अगर सबसे अच्छा सोचना है तो,
 सबसे पहले किसी का बुरा सोचना बँद करना होगा.
इन्हें भी पढ़े आप : आवाज़ पर शायरी - Aawaz Par Shayari
89= 
 जख्म कुरेदता है फिर मरहम लगाता है,
 वक्त बेरहम है पर हकीम सबसे अच्छा है.  
90= 
 एकांत दुनियाँ का सबसे अच्छा तोहफा है,
 और अकेलापन दुनियाँ की सबसे बड़ी सजा.  
 91= 
 अच्छे इंसान के अंदर भी एक बुरी आदत होती है,
 वो सभी इंसानों को अच्छा समझ लेता है.  

 92= 
 सबको गोली की तरह लगती है बातें मेरी,
 इस का मतलब है अच्छा है निशाना मेरा.  
93= 
 आँखें भिगोने लगी है अब तेरी बातें,
 काश तुम अजनबी ही रहते तो अच्छा होता.
94= 
 तेरी जुल्फों की ज़ंजीर मिल जाती तो अच्छा था,
 तेरे लबों की वो लकीर मिल जाती तो अच्छा था. 
95= 
 जिधर जाते हैं सब जाना उधर अच्छा नहीं लगता,
 मुझे पामाल* रस्तों का सफ़र अच्छा नहीं लगता,

 ग़लत बातों को ख़ामोशी से सुनना, हामी भर लेना,
 बहुत हैं फ़ायदे इसमें मगर अच्छा नहीं लगता.
 96= 
 यह ज़ुल्फ़ अगर खुल के बिखर जाये तो अच्छा है, 
 इस रात की तक़दीर सँवर जाये तो अच्छा है. 

 जिस तरह से थोड़ी सी ज़िन्दगी तेरे साथ कटी है, 
 बाकी भी उसी तरह गुज़र जाये तो अच्छा है .

 वैसे तो तुम्ही ने मुझे बर्बाद किया है ,
 इल्ज़ाम किसी और के सिर जाये तो अच्छा है.
97= 
 झील अच्छा, कँवल अच्छा के जाम अच्छा है,
 तेरी आँखों के लिए कौन सा नाम अच्छा है .
98= 
 तेरा बार बार रंग बदलना 
 बड़ा अच्छा लगता हैं.  

99= 
 वक़्त अगर ख़राब हो तो 
 घबराना नहीं चाहिए . 
इन्हें भी पढ़े आप : जुल्फों पर शायरी - Zulf Par Shayari 
100= 
  

अच्छा पर शायरी, Achchha Shayari, Achchha Status,  Achchha Status For Facebook Whatsapp,