Thursday, 1 June 2017

110 प्यार भरी शायरी 110 Best Love Status for Whatsapp Facebook

110 Best Love Status for Whatsapp Facebook
दोस्तों अज का यह व्हाट्सएप्प और फेसबुक स्टेट्स का विशाल संग्रह खास कर उन दोस्तों के लिए हैं जिन्हें प्यार हैं. अपनी ज़िन्दगी से ज्यादा अपनी बेपनाह मोहब्बत से प्यार है.
110-Best-Love-Status-for-Whatsapp-Facebook
110 Best Love Status for Whatsapp Facebook 

आज के इस ब्लॉग पोस्ट में  रोमांटिक शायरी, लव स्टेट्स, दिल को छू लेने वाली शायरी, प्यार और मोहब्बत से भरी शायरी, और साथ ही कुछ खट्टे मिट्ठे स्टेट्स जो उन मोहब्बत करने वालो के लिए जिनके लिए प्यार ही ज़िन्दगी हैं.

आप इस पोस्ट में एक से बढ़ कर एक प्यार मोहब्बत से जुड़े दिल को छू लेने वाली शायरियो का संग्रह किया गया जोकि खास आप के लिए जिसे आप Copy कर के Whatsapp और  Facebook पर Share कर सकते हैं.

तो देर कैसी आईये पढ़ते हैं बेपनाह मोहब्बत से जुडी एक से बढ़ कर एक शायरियों के कलेक्शन को और अपने प्यार को करते हैं शेयर सोशल मिडिया के माध्यम से .
110 प्यार भरी शायरी 110 Best Love Status for Whatsapp Facebook 

 1= हम नींद से उठकर, इधर-उधर ढूंढते हैं तुझे,
 क्यों ख्वाबों में मेरे, इतने करीब चले आते हो तुम


 Ham Nind Se Uthakar, Idhar Udhar Dhundhate Hain Tujhe,
 Kyu Khwabon Me Mere, Itane Kareeb Chale Aate Ho ❓


 2= सबको प्यारी है अपनी ज़िन्दगी,
 पर तु मुझे ज़िन्दगी से भी प्यारी है.


 Sabako Pyari Hain Apani Zindagi,
 Par Tu Mujhe Zindagi Se Bhi Pyari Hai.


 3= प्यार करना सिखा है नफरतो की कोई जगह नही,
 बस तु ही तु है इस दिल  मे, दूसरा कोई और नही


 Pyar Karana Sikha Hain,
 Nafarato Ki Koi Jagah Nahi.
 Bas Tu Hi Tu Hai Is Dil Me, Dusara Koi Aur Nahi..


 4= बदल जाती है ज़िंदगी की हक़ीक़त,
 जब तुम मुस्कुराकर कहते हो तुम बहुत प्यारे हो


 Badal Jati Hai Zindagi Ki Haqikat,
 Jab Tum Muskura Kar Kahate Ho, Tum Bahut Pyare Ho.


 5= ना जाने क्यों❓ तुझे देखने के बाद भी,
 तुझे ही देखने की चाहत रहती है.


 Na Jane Kyu ❓ Tujhe Dekhane Ke Baad Bhi,
 Tujhe Hi Dekhane Ki Chahat Rahati Hai.


 6= यूँ सामने आ कर आप बैठा ना कीजिये, 
 सब्र तो सब्र ही है, हर बार नहीँ होता.


 Yun Samane Aa Kar Aap Baitha Naa Kijiye,
 Sabr To Sabr Hi Hai, Har Baar Nahi Hota.


 7= कैसे बदल दूं मैं फितरत ये अपनी,
 मुझे तुम्हें सोचते रहने की आदत सी हो गई है..


 Kaise Badal Du Main Fitarat Ye Apani,
 Mujhe Tumhe Sochate Rahane Ki Aadat Si Ho Gayi Hai.


 8= में तेरी ज़ुल्फ़ों और आँखो में खोया सा रहता हूँ,
 बस इसी तरह ज़िंदगी को जीना चाहता हूँ.


 Mai Teri Julfo Aur Ankhon Me Khoya Sa Rahata Hun,
 Bas Isi Tarah Zindagi Ko Jeena Chata Hun. 


 9= दिल को छु जाती है,
 एक तुम और एक बाते तुम्हारी


 Dil Ko Chhu Jati Hai,
 Ek Tum Aur Ek Baate Tumhari.

 10= हमे क्या  मालूम था इश्क होता क्या है❓
 बस तुम मिले और जिन्दगी मोहब्बत बन गई


 Hame Kya Malum Tha Ishk Hota Kya Hai❓ 
 Bas Tum Mile Aur Zindagi Mohabbat Ban Gayi..


 11= कमबख्त आईने को भी तुझसे, इश्क हो गया है, 
 देखो उसे  भी हर पल तेरे, दीदार का ही इन्तजार रहता है


 Kambakht Aayine Ko Bhi, Tujhase Ishk Ho Gaya Hai.
 Dekho Use Bhi Har Pal Tere, Deedar Ka Intzaar Rahata Hai.
  

 12= वैसे तो दिखे लाखों हसीन चेहरे,
 मगर तेरे सिवा कोई जंचा ही नहीं.


 Vaise To Dikhe Lakho Hasin Chehare,
 Magar Tere Siwa Koi Jancha Hi Nahi.

 13= ना जाने कौन सी दौलत है तेरे लफ़्जों में❓
 बात करते हो तो दिल खरीद लेते हो..


 Naa Jane Kaun Si Daulat Hai Tere Lafzo Me❓
 Baat Karate Ho To Dil Kharid Lete Ho. 


 14= अब तो आँखों  के डॉक्टर भी मरीज हो गये, 
 तेरी जादू भरी आँखों को  देखा हैं ज़ब से.. 


 Ab To Ankhon Ke Dr. Bhi Marij Ho Gaye,
 Teri Jadu Bhari Ankho Ko Dekha Hain Jab Se.


 15= नादानियां झलकती है अभी भी मेरी आदतो से,
 मैं खुद हैरान हूँ मुझे इश्क़ हुआ तो हुआ कैसे


 Nadaniyan Jhalakati Hai Abhi Bhi Meri Aadato Se,
 Mai Khud Pareshan Hun, 
 Mujhe Ishk Hua To Hua Kaise ❓


 16= बाज़ार के रंगों से मुझे रंगने की ज़रूरत नही,
 तेरी याद आते ही ये चेहरा गुलाबी हो जाता है.


 Baazar Ke Rangon Se Mujhe Rangane Ki Jarurat Nahi,
 Teri Yaad Aate Hi Ye Chaihara Gulabi Ho Jata Hain.


 17= ऐसा भी क्या रिश्ता है तुमसे❓
 गुफ्तगू ना हो तो बेचैन  से रहते है हम. 


 Yesa Bhi Kya Rishta Hai Tumase❓
 Guftgu Na Ho To Baichain Se Rahate Hai Ham. 


 18= अच्छा लगता है मेरे होठों पर रख कर अपनी उंगली,
 जब  बोलते हो तुम, अब चुप भी रहो तुम. 


 Aachchha Lagata Hain Mere Hotho Par Rakh Kar,
 Apani Ungali, 
 Jab Bolate Ho Tum Ab Chup Bhi Raho Tum.


 19= होठो पे होठ रख कर सो गए है, 
 यह कह कर गर्मी की रात है कहीं प्यास ना लग जाए


 Hotho Pe Hoth Rakh Kar So Gaye Hai,
 Yah Kah Kar, 
 Garmi Ki Raat Hai Kahi Pyaas Naa Lag Jaye❓ 


 20=  उनके लबो  में भी क्या खूब नशा है, 
 लगता है  की उनके  जूठे  पानी से ही शराब बनती है


 Unake Labo Me Bhi Kya Khub Nasha Hai,
 Lagata Hain Ki, 
 Unake Juthe Pani Se Hi Sharab Banati Hai❓


 21= तेरी याद क्यूँ आती है ये  मालुम नहीं,
 लेकिन जब भी आती है अच्छा लगता है.


 Teri Yaad Kyu Aati Hai Ye Malum Nahi,
 Lekin Jab Bhi Aati Hai Achchha Lagata Hai.

 32= ये मत पुछ कि मैं तुमसे कितना प्यार करता हूँ❓
 बस इतना जान लो कि, 
 बस तुमसे करता हूँ और बेपनाह करता हूँ.


 Ye Mat Puchh Ki Mai Tumase Kitana Pyar Karata Hun❓
 Bas Itana Jaan Lo Ki
 Bas Tumase Karata Hun Aur Bepanah Karata Hun.


 23= भूलने का तो सवाल ही पैदा नहीं होता,
 मैंने नहीं मेरे दिल ने चुना है तुम्हें.


 Bhulane Ka To Sawaal Hi Paida Nahi Hota,
 Maine Nahi Mere Dil Ne Chuna Hai Tumhe.


 24= मैने रंग दिया हर पन्ना तेरे नाम से , 
 मेरी किताबों से पूछ इश्क किसे कहते हैं. 


 Maine Rang Diya Har Panna Tere Naam Se,
 Meri Kitabon Se Puchh Ishk Kise Kahate Hai.


 25= कोई पुछ रहा है  मुझसे  मेरी जीन्दगी की कीमंत, 
 मुझे याद आ रहा है तेरा हल्के से मुस्कुराना.


 Koi Puchh Raha Hai Mujhase Meri Zindagi Ki Kimat,
 Mujhe Yaad Aa Raha Hai Tera Halke Se Muskurana.


 26= कभी सीने से लगा कर मेरे दिल की
 धड़कन तो सुन,
 हर पल तुम्हारा ही नाम लेती है.


 Kabhi Seene Se Laga Kar Mere Dil Ki
 Dhadakan To Sun,
 Har Pal Tumhara Naam Leti Hai.


 27= इक झलक जो मुझे आज तेरी मिल गयी,
 मुझे  फिर से आज जीने की वजह मिल गयी.


 Ek Jhalak Jo Mujhe Aaj Teri Mil Gayi,
 Mujhe Fir Se Aaj Jeene Ki Wazah Mil Gayi.


 28= मुझे लत तुम्हारी लगी है. . .
 और इल्जाम मोबाइल पर आता है


 Mujhe Lat Tumhaari Lagi Hai,
 Aur Ilzaam Mobile Par Aata Hai.

 29= शक नहीं रखना मोहब्बत का
 तुम्हारे बिना भी हम तुम्हारे रहते है


 Shak Nahi Rakhana Mohabbat Ka,
 Tumhare Bina Ham Tumhare Hi Rhate Hai.


 30= धूप मायूस लौट जाती है,
 छत पे कपड़े  सुखाने तो आया करो.


 Dhoop Mayus Ho Ke Kaut Jati Hai,
 Chhat Pe Karade Sukhane To Aaya Karo.


 31= पाँव लटका के दुनिया की तरफ,
 आओ बैठे किसी सितारे पर.


 Panv Lataka Ke Duniya Ki Taraf,
 Aao Baithe Kisi Sitare Par.


 32= क्यो ना करूं गुरूर मै अपने आप पर,
 मुझे उसने चाहा जिसके चाहने वाले हजार थे.


 Kyu Naa Karu Gurur Mai Apane Aap Par,
 Mujhe Usane Chaha Jisake Chahane Wale Hazaro The.


 33= सोने दो मुझे,
 तुम्हारे ख्वाब भी तो देखने हैं.


 Sone Bhi Do Mujhe,
 Tumhare Khwab Bhi To Dekhane Hai.


 34= कुछ और भी तुम को आता है क्या❓
 जब देखो याद आते हो..

 Kuchh Aur Bhi Tum Ko Aata Hai Kya❓
 Jab Dekho Tab Yaad Aate Ho..


 35= सुबह का मतलब मेरे लिए सूरज निकलना नही, 
 तेरी मुस्कराहट से दिन शुरू होना है .


 Subah Ka Matalab Mere Liye Suraj Nikalana Nahi,
 Teri Muskurahato Se Din Shuru Hota Hai.


 36= एक दूसरे को उसी में देख लेंगे,
 तेरे शहर का चाँद मेरे शहर में भी निकलता है.


 Ek Dusare Ko Usi Me Dekh Lenge,
 Tere Shahar Ka Chand Mere Shar Me Bhi Nikalata Hai.


 37= तेरी आँखों में शरारत सी है,
 बताओ दिल लेना चाहते हो या जान 


 Teri Ankhon Me Shararat Si Hai,
 Batao Dil Lena Chahate Ho Ya Jaan❓


 38= कल तक सिर्फ़ एक अजनबी थे तुम,
 आज दिल की एक एक धड़कन पर हुकूमत है तुम्हारी


 Kal Tak Sirf Ek Ajanabi The Tum,
 Aaj Dil Ki Ek-Ek Dhadakan Par Hukumat Hai Tumhari.


 39= ख़्वाहिश ए ज़िंदगी बस इतनी सी है के,
 साथ तुम्हारा हो और  ज़िंदगी कभी ख़त्म ना हो.


 Khwahishe-E-Zindagi Bas Itani Si Hai Hai Ke,
 Sath Tumhara Ho Aur Zindagi Kabhi Khatm Naa Ho.


 40= वो जो लाखों में एक एक  होता है ना,
 बस मेरे लिए तुम वही हो.


 Wo Jo Lakho Me Ek Hota Hain Naa,
 Bas Mere Liye Tum Wahi Ho.


 41= मुस्कुरा जाता हूँ अक्सर गुस्से में भी तेरा नाम सुन कर,
 तेरे नाम से इतनी मोहब्बत है तो सोच तुझसे कितनी होगी.


 Muskura Jata Hu Hun Aksar Gusse Me Bhi,
 Tera Naam Sun Kar,
 Tere Naam Se Itani Mohabbat Hai,
 To Soch❓ Tujhase Kitani Hogi.


 42= साँसे मेरी, जिन्दगी मेरी और मोहब्बत भी मेरी,
 मगर हर चीज मुकम्मल करने के लिए जरुरत तेरी है. 


 Sanse Me, Zindagi Meri Aur Mohabbat Bhi Meri,
 Magar Har Chiz Mukammal Karane Ke Liye Jarurat Teri Hai.


 43= तेरी चाहत तो मुक्कदर है मिले ना मिले
 दिल को सुकुन जरुर मिलता है तुझे अपना सोचकर


 Teri Chahat To Mukaddar Hai To Mile Naa Mile,
 Dil Ko Sukun Jarur Milata Hai Tujhe Apana Soch Ke.


 44= मेरे दिल से उसकी हर गलती माफ़ हो जाती है, 
 जब वो मुस्कुरा के पूछती है, नाराज हो क्या 


 Mere Dil Se Usaki Har Galati Maaf Ho Jati Hai,
 Jab Wo Muskura Ke Puchhati Hai,
 Naraz Ho Kya❓


 45= काश दिल की आवाज़ मै इतना असर हो जाये..
 हम याद करें,और उनको खबर हो जाये.


 Kash Dil Ki Aawaz Me Itana Asar Ho Jaye,
 Ham Yaad Kare, Aur Unako Khabar Ho Jaye.


 46= लाख समजाया उसको कि दुनिया शक करती है,
 मगर उसकी आदत नहीं गयी मुस्कुरा कर गुजरने की.


 Lakh Samjhaya Usako Ki Duniya Shak Karati Hai,
 Magar Usaki Aadat Nahi Gayi,
 Muskura Kar Guzarane Ki.


 47= हमारी तडप तो कुछ भी नहीं है हुजुर,
 सुना है कि उसके दिदार के लिए तो आइना भी तरसता है.


 Hamari Tadap To Kuchh Bhi Nahi Hai Hazur,
 Suna Hai Ki Usake Deedar Ke Liye To,
 Aayina Bhi Tarasata Hai.

 48= हम तो मोहब्बत के नाम से भी अनजान थे,
 एक शख्स की चाहत ने पागल बना दिया.


 Ham To Mohabbat Ke Naam Se Bhi Anjaan The,
 Ek Shakhs Ki Chahat Ne Pagal Bana Diya.


 49= मैं जानता हूँ फिर भी पूछता हूँ 
 तुम आईना देख कर बताओ मेरी पसंद कैसी है


 Mai Janata Hun Fir Bhi Puchhata Hu,
 Tum Aayina Dekha Kar Batao, Meri Pasad Kaisi Hai ❓


 50= तेरे वजूद में मै काश यूं उतर जाऊ,
 तू देखे आइना और मै, तुझे नज़र आऊ.


 Tere Wajud Me Mai Kash Yu Utar Jau,
 Tu Dekhe Aayina Aur Mai,
 Tujhe Nazar Aaun.

 51= कल रात भर मैं ख्वाब में उसके आगोश में रहा,
 ख्वाब ही सही, मगर कुछ पल तो मैं उसका रहा.


 Kal Raat Bhar Mai Khwabo Me Usake Agosh Me Raha,
 Khwab Hi Sahi,
 Magar Kuchh Pal To Mai Usaka Raha.


 52= हिसाब अपनी मोहब्बत का मै क्या दूँ❓
 तुम अपनी हिचकियो को बस गिनते रहना.


 Hisab Apani Mohabbat Ka Mai Kya Du❓
 Tum Apani Hichakiyan Ko Bas Ginate Rahana.


 53= जाने लोग मोहब्बत को क्या क्या नाम देते है,
 हम तो तेरे नाम को ही मोहब्बत कहते है. 


 Jane Log Mohabbat Ko Kya-Kya Naam Dete Hai,
 Ham To Tere Naam Ko Hi Mohabbat Kahate Hai.


 54= थाम लूँ तेरा हाथ और‪ तुझे‬ इस दुनिया से दूर ले जाऊं,
 जहाँ तुझे देखने वाला‪ मेरे सिवा‬ कोई और ना हो


 Tham Lu Tera Hath Aur Tujhe Is Duniya Se Dur Le Jau,
 Janha Tujhe Dekhane Wala Mere Siwa Koi Aur Naa Ho.


 55= हर बार हम पर इल्ज़ाम लगा देते हो मोहब्बत का,
 कभी खुद से भी पूछा है इतने हसीन क्यों हो


 Har Baar Ham Par Ilzam Laga Dete Ho Mohabbat Ka,
 Kabhi Khud Se Bhi Puchha Hai,
 Itane Haseen Kyu Ho ❓

 56= तेरी याद से ही शुरू होती है मेरी हर सुबह.


 Teri Yaado Se Hi Shuru Hoti Hai Meri Har Subah.


 57= अक्सर सोचता हूँ देख कर तस्वीर तेरी
 जो तुमसे मोहब्बत ना होती तो क्या होती ज़िन्दगी मेरी


 Akasar Sochata Hu Dekh Kar Tasveer Teri,
 Jo Tumase Mohabbat Naa Hoti,
 To Kya Hoti Zindagi Meri ❓


 58= जिंदगी की कसम,
 मेरी जिंदगी  तुमसे है.


 Zindagi Ki Kasam, 
 Meri Zindagi Tumase Hai.


 59= किस तरह छुपाऊँ तुम्हें मैं,
 मेरी मुस्कान में भी नजर आने लगे हो तुम.


 Kis Tarah Chhupaun Tumhe Mai,
 Meri Muskaan Me Bhi Nazar Aane Lage Ho.


 60= आँख खुलते ही याद आ जाता हैं तेरा चेहरा,
 दिन की ये पहली खुशी भी कमाल होती है.


 Ankhn Khulate Hi Yaad Aa Jata Hai Tera Chaihara,
 Din Ki Pahali Khushi Bhi Kamaal Hoti Hai.


 61= गलत सुना था कि इश्क आँखों से होता है,
 दिल तो वो भी ले जाते है जो पलकें तक नही उठाते.


 Galat Suna Tha Ki Ishk Ankho Se Hota Hai.
 Dil Wo Bhi Le Jaate Hai,
 Jo Palake Tak Uthate Nahi.


 62= बहक न जाए कहीं आईने की नीयत,
 वक़्त बे वक़्त यूँ खुद को सँवारा न करो. 


 Bahak Na Jaye Kahi Aayine Ki Niyat,
 Wakt Be Wakt Yun Khud Ko Sanwara Na Karo.


 63= बड़ी दिलचस्प है..तेरी यादो का सिलसिला
 कभी एक पल कभी पल-पल कभी हर पल.


 Badi Dilchasp Hai, Teri Yaado Ka Silsila,
 Kabhi Ek Pal Kabhi Pal-Pal Kabhi Har Pal.


 64= काश  मेरा  घर तेरे घर  के करीब होता,
 मोहब्बत ना सही देखना तो नसीब होता.


 Kash Mera Ghar Tere Ghar Ke Kareeb Hota,
 Mohabbat Naa Sahi Dekhana To Nasib Hota.


 65= काश मेरा घर तेरे घर के करीब होता,
 तू ना आती तो तेरी आवाज़  तो आती.

 Kash Mera Ghar Tere Ghar Ke Kareeb Hota,
 Tu Naa Aati Teri Awaz To Aati.


 66= मैं लफ़्ज़ो में कैसे बंया करूँ❓
 जो शख़्स खुशबुओ सा लगता हो.


 Mai Lafzo Me Kaise Bayan Karu❓
 Jo Shakhs Khushbuo Sa Lagata Ho.

 67= यूँ गुमसुम मत बैठो पराये लगते हो,
 मीठी बातें नहीं है तो चलो झगड़ा ही कर लो.


 Yu Gumsum Mat Baitho Paraye Lagate Ho,
 Mithi Baate Nahi Hai To,
 Chalo Jhagada Hi Kar Lo.


 68= बेशक तुम्हें गुस्सा करने का हक है मुझ पर,
 पर नाराजगी में कहीं ये मत भूल जाना की, 
 हम बहुत प्यार करते हैं तुमसे.


 Beshak Tumhe Gussa Karane Ka Haq Hai Mujh Par,
 Par Narazagi Me Kahi Ye Mat Bhul Jana Ki,
 Ham Bahut Pyaar Karate Hai Tumase.

 69= ख़ुशी दे, या गम दे दे मग़र देते रहा कर,
 तू उम्मीद है मेरी तेरी हर चीज़ अच्छी लगती है


 Khushi De Ya Gam De-De Magar Dete Raha Kar,
 Tu Ummid Hai Meri Teri Har Chiz Achchi Lagti Hai.


 70= पागल उसने कर दिया, एक बार देखकर,
 मै कुछ भी ना कर सका लगातार देखकर.


 Pagal Usane Kar Diya, Ek Baar Dekh Kar,
 Mai Kuchh Bhi Kar Saka Lagataar Dekh Kar.


 71= तेरी याद ने मेरा बुरा हाल कर दिया,
 तन्हा मेरा जीना मुहाल कर दिया 
 सोचा जो अब तुम्हे याद न करुँ,
 तो दिल ने धडकने से इन्कार कर दिया.


 Teri Yaadon Ne Mera Bura Haal Kar Diya,
 Tanha Mera Jeena Muhaal Kar Diya,
 Socha Tha Ab Tumhe Yaad Naa Karu,
 To Dil Ne Dhadakane Se Inkaar Kar Diya.


 72= मुझको थाम रखा है तेरे इश्क ने इस कदर,
 कई जन्मों से हम हमसफर हो जैसे.


 Mujhako Tham Ke Rakha Hai Tere Ishk Ne Is Kadar,
 Kai Janmo Se Ham Safar Ho Jaise.


 73= तेरी खुशुबू से लिपट कर, बितायी है सारी रात
 आज सब मेरे महकने का सबब पूछेंगे.


 Teri Khushabu Se Lipat Kar, Bitayi Hai Sari Raat,
 Aaj Sab Mere Mahakane Ka Sabab Puchhenge.


 74= उसने तारीफ़ ही कुछ इस अंदाज से की मेरी,
 अपनी ही तस्वीर को सौ बार देखा मैंने. 


 Usane Tarif Hi Kuchh Is Andaz Me Se Ki Meri,
 Apani Hi Tasveer Ko Sau Baar Dekha Maine.


 75= उसके होंठों को चूमा तो अहसास ये हुआ,
 एक पानी ही ज़रूरी नहीं प्यास बुझाने के लिए.


 Usake Hotho Ko Chuma To Yesahas Ye Hua,
 Ek Pani Hi Jaruri Nahi, Pyas Bujhane Ke Liye.


 76= ज़िन्दगी में ऐसे बहुत  से लोग होते है,
 जो कोई वादा नहीं करते पर निभा सब कुछ लेते है.


 Zindagi Me Yese Bahut Se Log Hote Hai,
 Jo Wada Nahi Karate Par Nibha Dete Hai.


 77= नहीं पसंद मोहब्बत में मिलावट मुझको,
 अगर वो मेरा है तो ख्वाब़ भी मेरे देखे..


 Nahi Pasand Mohabbat Me Milawat Mujhako.
 Agar Wo Mera Hai To Khwab Bhi Mere Dekhe.


 78= खूबसूरत होते हैं वो पल, जब पलकों में सपने होते हैं 
 चाहे जितने भी दूर रहें, अपने तो अपने होते हैं.


 Khubsurat Hote Hai Wo Pal,
 Jab Palako Me Sapane Hote Hai.
 Chahe Jitane Bhi Dur Rahe, Apane To Apane Hote Hai.


 79= मैं हुस्न हूँ, मेरा रूठना लाजिमी है,
 तुम इश्क़ हो, ज़रा अदब में रहा करो.


 Mai Husn Hun, Mera Ruthana Kazami Hai,
 Tum Ishk Ho, Jara Adab Se Raha Karo.


 80= मुझे सुकून चाहिए मतलब तुम.


 Mujhe Sukun Chahiye Matalab Tum.


 81= हमेँ कँहा मालूम था क़ि इश्क़ होता क्या है❓
 बस एक तुम मिले और ज़िन्दगी मुहब्बत बन गई.


 Hame Kya Malum Tha Ki Ishk Hota Kya Hai❓
 Bas Ek Tum Mile Aur Zindagi Mohabbat Ban Gayi.


 82= सुनो अपना ख्याल रखा करो मेरे लिए,
 बेशक़ सांसे तुम्हारी चलती है,
  लेकिन तुम में जान तो हमारी बसती है


 Suno Apana Khyal Rakha Karo Mere Liye,
 Beshak Sanse Tumhari Chalati Hai,
 Lekin Tum Me Jaan Hamari Basati Hai. 


 83= हमारे इश्क को यूँ ना आजमाओ सनम,
 पथ्थरों को भी धड़कना सिखा देते है हम..


 Hamare Ishk Ko Yun Naa Aazamao Sanam,
 Pattharo Ko Bhi Dhadakana Sikha Dete Hai.


 84= जिसे याद करने से होंठों पर मुस्कुराहट आ जाए,
 एक ऐसा खूबसूरत ख़याल हो तुम.


 Jise Yaad Karane Se Hotho Par Muskurahat Aa jaye,
 Ek Yesa Khubsurat Khyal Ho Tum/


 85= एक जरुरी काम है लेकिन रोजाना भूल जाती हूँ
 मुझे तुमसे मुहब्बत है ये बताना भूल जाती हूँ.


 Ek Jaruri Kaam Hai Lekin Rozana Bhul Jati Hu,
 Mujhe Tumase Mohabbat Hai, Ye Batana Bhul Jati Hu.


 86= मैं ताउम्र हिचकियों में गुज़ार सकता हूँ,
 जानम बशर्ते तुम याद किया करो.


 Mai Taumr Hichakiyo Me Guzaar Sakata Hun,
 Janam Basharate Tum Yaad Kiya Karo.


 87= हमने पूछा 'दीवानगी' क्या होती है❓
 वो बोले दिल तुम्हारा और हक़ूमत हमारी.


 Hamane Puchha Deewanagi Kya Hoti Hai❓
 Wo Bole Dil Tumhara Aur Hukumat Hamari.


 88= अब तो बिना शक्कर की चाय भी मीठी लगती है
 जब तुम मेरे सामने आँखों में आँखें
 डालकर बात करती हो.


 Ab Bina Shakkar Ki Chay Bhi Mithi Lagati Hai,
 Jab Tum Mere Samane Ankhon Me Ankhen,
 Daal Kar Baat Karati Ho.


 89= नशा था उनके प्यार का, जिसमें हम खो गए ,
 उन्हें भी पता नहीं चला कि कब हम उनके हो गए.


 Nasha Tha Unake Pyar Ka, Jisame Ham Kho Gaye.
 Unhe Bhi Pata Nahi Chala Ki,
 Kab Ham Unake Ho Gaye.


 90= खुदा का शुक्र है कि ख्वाब बना दिए,
 वरना तुम्हें देखने की तो हसरत दिल में ही रह जाती.


 Khuda Ka Shukr Hai Ki Khwab Bana Diya,
 Warana Tumhe Dekhane Ki Hasarat
 Dil Me Hi Rah Jati.


 91= वो मौहब्बत ही क्या जिसमें आप ना हो❓
 वो आप ही क्या जिसमें हम ना हो.


 Wo Mohabbat Hi Kya Jisame Aap Na Ho❓
 Wo Aap Hi Kya Jisame Ham Na Ho.

 92= इश्क मुहब्बत क्या है❓ मुझे नही मालूम ? . 
 बस तुम्हारी याद आती है, सीधी सी बात है.


 Ishk Mohabbat Kya Hai❓ Mujhe Nhi Malum❓
 Bas Tumhari Yaad Aati Hai, Sidhi Si Baat Hai.


 93= जुबां कह न पाई मगर,
 आँखे बोलती ही रही,
 कि मुझे सांसो से पहले तेरी जरूरत है..


 Juba Kah Na Payi Magar,
 Ankhe Bolati Hi Rahi.
 Ki Mujhe Sanso Se Pahle Teri Jarurat Hai.


 94= कैसे कहूँ कि, 
 इस दिल के लिए कितने खास हो तुम.
 फासले तो कदमों के हैं,
 पर, हर वक्त दिल के पास हो तुम.

 Kaise Kahu Ki,
 Is Dil Ke Liye Kitane Khas Ho Tum.
 Fasale To Kadamo Ke Hai,
 Par Har Waqt Dil Ke Paas Ho Tum.


 95= अब तो इन आँखों से भी जलन होती है मुझे,
 खुली हों तो तलाश तेरी, बंद हों तो ख्वाब तेरे. 


 Ab To In Ankhon Se Bhi Jalan Hoti Hai Mujhe,
 Khuli Ho To Talash Teri,
 Band Ho To Khwab Tere.


 96= मैं वक्त बन जाऊं, तु बन जाना कोई लम्हा, 
 मैं तुझमे गुजर जाऊं,तु मुझमे गुजर जाना

 Mai Waqt Ban Jau, Tu Ban Jana Koi Lamha,
 Mai Tujhame Guzar Jau, Tu Mujhame Guzar Jana.


 97=  ये आईने नही दे सकते तुझे तेरे हुस्न की ख़बर, 
 कभी मेरी इन आँखों से आकर पूछ तुम कितनी हसीन हो


 Aap Kaa Kaam 

 98= आँखों पर तेरी निगाहों ने दस्तख़त क्या किए...
 हमने साँसों की वसीयत तुम्हारे नाम कर दी 


 Ankho Par Teri Nigaho Ne Dastakhat Kya Diye,
 Hamane Sanson Ki Vasihat Tumhare Naam Kar Di.


 99=  दिल  धड़कता है तो डर सा लगा  रहता है,
 कोई  सुन ना ले,   मेरी  धड़कन मे नाम  तेरा.

 Dil Dhadakata Hai To Dar Sa Laga Rahata Hai,
 Koi Sun Naa Le, Meri Dhadakan Me Naam Tera.


 100= लफ्ज़ बीमार से पड़ गये है आज कल,
 एक खुराक तेरे दीदार की चाहिए.


 Lafz Bimar Se Pad Gaye Hai Aaj Kal,
 Ek Khurak Tere Deedar Ki Chahiye.


 101= लाजमी नहीं के तुझे आँखों से देखूं ,
 तुझे सोचना भी तेरे दीदार से कम नहीं.


 Lazami Nahi Ke Tujhe Ankhon Se Dukhu,
 Tujhe Sochana Bhi Tere Deedaar Se Kam Nahi.


 102= अचानक‬ चौँक उठे "नींद' से हम,
 किसी ने ‪‎शरारत‬ से कह दिया
 सुनो.. 
 वो मिलने ‪‎आयी‬ हैं.


 Achanak Chauk Uthe Need Se Ham,
 Kisi Ne Shararat Se Kah Diya
 Suno Wo Milane Aayi Hai.


 103= मेरी आँखों में मत ढूंढा करो खुद को 
 पता है ना दिल में रहते हो खुदा की तरह

 Meri Ankho Me Mat Dhundha Karo Khud Ko,
 Pata Hain Na Dil Me Rahate Ho Khuda Ki Tarah.


 104= खुद से भी बढ़कर मैने तेरी चाहत की है
 हाँ प्यार नहीं, ईश्क नहीं, ईबादत की है.


 Khud Se Bhi Badhkar Maine Teri Chahat Ki Hai,
 Ha Pyar Nahi, Ishk Nahi, Ibadat Ki Hai.


 105= तुम्हारी फ़िक्र हे मुझे शक नहीं, 
 तुम्हे कोई और देखे ये किसी को हक़ नहीं.


 Tumhari Fikr Hai Mujhe Shak Nahi,
 Tumhe Koi Aur Dekhe Ye Kisi Ko Haq Nahi.


 106= मेरे होठों पे उँगलियाँ  क्यूँ रख दी तुमने सनम,
 चुप ही कराना था तो होठ रख देती.


 Mere Hotho Pe Ungali Kyu Rakh Di Tumane Sanam,
 Chup Hi Karana Tha To Hoth Rakh Deti.


 107= मुझे अभी किसीने याद किया क्या ❓
 बहुत हिचकी आ रही है.


 Abhi Kisi Ne Yaad Kiya Kya ❓
 Bahut Hichaki Aa Rahi Hai.


 108= वो नादाँ इतना भी नही जानते❓
 सीने से लगा कर पूछते है 
 की धड़कने तेज क्यू है.

 Wo Nadan Itana Bhi Nahi Janate❓
 Seene Se Laga Kar Puchhate Hai
 Ki Dhakane Tez Kyu Hain

 109= जाने क्या कशिश है उसकी मदहोंश आँखों में,
 नजर अंदाज जितना करो नज़र उस पे ही पड़ती है.


 Jane Kyu Kashish Hai Usaki Madahosh Ankhon Mem
 Nazar Andaaz Jitana Karo Nazar Us Pe Hi Padati Hai,


 110= उस शख्स में बात ही कुछ ऐसी थी,
 दिल नहीं देते तो जान चली जाती.


 Us Shakhs Me Baat Hi Kuchh Yesi Thi,
 Dil Nahi Dete To Jaan Chali Jati.



110 Best Love Status for Whatsapp Facebook, Romantic Status for Whatsapp Facebook, Whatsapp Love Status, 110 प्यार पर शायरी, 110 लव शायरी, रोमांटिक शायरी, Love Shayari,

Previous Post
Next Post

About Author

0 comments: