Bhagwan Mahavir 25 Quotes In Hindi - Wahh Hindi Blog

wahh hindi blog

Tuesday, 9 May 2017

Bhagwan Mahavir 25 Quotes In Hindi

भगवान महावीर स्वामी के 25 अनमोल उपदेश

जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर महावीर स्वामी का जन्म करीब ढाई हजार साल पहले (ईसा से 599 वर्ष पूर्व), वैशाली के गणतंत्र राज्य क्षत्रिय कुण्डलपुर में हुआ था. महावीर स्वामी अहिंसा प्रतीक थे. उनका सम्पूर्ण जीवन तपस्या में व्यतीत हुआ उन्हें कई नामो से जाना जाता था जैसे महावीर, 'वर्धमान', वीर', 'अतिवीर' और 'सन्मति'...
Bhagwan-Mahavir-25-Quotes-In-Hindi
Bhagwan Mahavir 25 Quotes In Hindi 

महावीर स्वामी जी जब तीस वर्ष की आयु के हुए तो उन्होंने अपने घर को त्याग दिया. और धर्म के मार्ग पर निकल पड़े. और उन्होंने एक लँगोटी तक का परिग्रह नहीं रखा.. उन्होंने हमेशा लोगो को सत्य अहिंसा का पाठ पढाया क्युकी उस समय हिंसा, पशुबलि, जात-पात का भेद-भाव काफी बढ़ गया, तीर्थंकर महावीर स्वामी ने अहिंसा को सबसे उच्चतम नैतिक गुण बताया.

महावीर स्वामी जी जैन धर्म के पंचशील सिद्धांत बताए जिसमे अहिंसा, सत्य, अपरिग्रह, अचौर्य (अस्तेय) और ब्रह्मचर्य था. और उन्होंने अपने उपदेशो (प्रवचनों ) के द्वारा  हमेशा इस दुनिया को सत्य की राह दिखाई और सत्य के मार्ग पर चलने की बात सिखाई... ज्यादा जानने के लिए Yaha क्लिक करे..

आईये आज पढ़ते हैं महावीर स्वामी जी द्वारा दिए गए कुछ अनमोल उपदेशो को और उन उपदेशो से अपने जीवन में बदलाव लाते हैं.

भगवान महावीर स्वामी के 25 अनमोल उपदेश 



 आपकी आत्मा से परे कोई भी शत्रु नहीं है,
 असली शत्रु आपके भीतर रहते हैं, वो शत्रु हैं क्रोध, 
 घमंड, लालच, आसक्ति और नफरत..


 Apki Atma Se Pare Koi Bhi Shatru Nahi Hai,
 Ashli Shatru Apke Bhetar Rahte Hai Vo Shatru Hai Krodh,
 Ghamnd ,Lalach, Astit Aur Nafrat....

Lord Mahavira Quotes In Hindi 

 भगवान् का अलग से कोई अस्तित्व नहीं है,
 हर कोई सही दिशा में सर्वोच्च प्रयास कर के देवत्त्व प्राप्त कर सकता  है..


 Bhagwan Ka Alg Se Koi Astitva Nahi Hai,
 Har Koi Sahi Disha Me Sarvocch  Pryas Kar Ke Devatva Kar  Sakta Hai..

भगवान महावीर स्वामी के अनमोल उपदेश 

 सभी मनुष्य अपने स्वयं के दोष की वजह से दुखी होते हैं, 
 और वे खुद अपनी गलती सुधार कर सुखी हो सकते हैं..


 Sabhi Manusya Apne Svam Ke Dosh Ki Vajh Se Dukhi Hote  Hain,
 Aur Ve Khud Apni Galti Sudhar Kar Shukhi Ho Sakte  Hain..

भगवान महावीर स्वामी के ढेरो अनमोल उपदेश 

 किसी के अस्तित्व को मत मिटाओ. 
 शांतिपूर्वक जियो और दूसरों को भी जीने दो..


 Kisi Ke Astitva Ko Mat Mitao ,
 Shanti Purvak Jiyo Aur Dusron Ko Bhi Jine Do...


 शांति और आत्म-नियंत्रण अहिंसा है..


 Shanti Aur Atma - Niyantran Ahinsha Hai.....


 सभी जीवित प्राणियों के प्रति सम्मान अहिंसा है.


 Sabhi Jivit Praniyon Ke Prati Samman Ahinsha Hai..


 सुखी जीवन जीने के लिए दो बातें हमेशा याद रखें :-
 (1) अपनी मृत्यु
 (2) भगवान


 Shuki Jivan Jene Ke Liye Do Bate Hamesha Yad Rakhe :
 (1)  Apni Martyu
 (2)  Bhagwan
Lord Mahavira Quotes In Hindi 

 हर एक जीवित प्राणी के प्रति दया रखो,
 घृणा से विनाश होता है..


 Har Ek Jivit Prani Ke Prati Daya Rakho,
 Ghrana Se Vinash Hota Hai..


 स्वयं से लड़ो , बाहरी दुश्मन से क्या लड़ना ? 
 वह जो स्वयम पर विजय कर लेगा उसे आनंद की प्राप्ति होगी..


 Svam Se Lado Bhari Dushman Se Kya Ladna,
 Wah Jo Svam Par Vijay Kar Lega Use Anand Ki Prapti  Hogi...

 खुद पर विजय प्राप्त करना,
 लाखों शत्रुओं पर विजय पाने से बेहतर है.


 Khud Par Vijay Prapt Karna,
 Lakhon Shatruo Par Vijay Pane Se Bhetar Hai....

भगवान महावीर स्वामी के अनमोल उपदेश 

 दुख को जो दुख न माने,पर पीड़ा में सदय न हो,
 सब कुछ दो पर प्रभु किसी को,
जग में ऐसा हृदय न दो..


 Dukh Ko Jo Dukh Na Mane Par Peda Me Sday Na Ho,
 Sab Kuch Do Par Prabhu Kisi Ko Jag Me,
 Yesa Harday Na Do...


 आत्मा अकेले आती है अकेले चली जाती है, 
 न कोई उसका साथ देता है न कोई उसका मित्र बनता है..


 Atma Akele Aati Hai Akeli Chali Jati Hai,
 Na Koi Uska Sath Deta Hai Na Koi Uska Mitra Banta Hai..


 हर जीवित प्राणी के प्रति दयाभाव ही अहिंसा है. 
 घृणा से मनुष्य का विनाश होता है. 
 सभी जीवित प्राणियों के प्रति सम्मान अहिंसा है...


 Har Jivit Prani Ke Prati Dyabhav Ki Ahinsha Hai,
 Gharna Se Manusya Ka Vinash Hota Hai 
 Sabhi Jivit Praniyon Ke Prati Samman  Ahinsha Hai....


 सभी मनुष्य अपने स्वयं के दोष की वजह से दुखी होते हैं, 
 और वे खुद अपनी गलती सुधार कर प्रसन्न हो सकते हैं..


 Sabhi Manushy Apne Svam Ke Dos  Ki Vajha Se Dukhi  Hote Hai,
 Aur Ve Khud Apni Galti Sudhar Kar Prashnn Ho Shakte Hai...


अहिंसा सबसे बड़ा धर्म है..


 Ahinsha Sabse Bada Dhram Hai..


 प्रत्येक आत्मा स्वयं में सर्वज्ञ और आनंदमय है,
 आनंद बाहर से नहीं आता..


 Prtyek  Aatma Svam Me Sarvgya Anandmay Hai.,
 Anand Bahar Se Nahi Aata.....

भगवान महावीर स्वामी के अनमोल उपदेश 

 किसी आत्मा की सबसे बड़ी गलती अपने असल रूप को ना पहचानना है , 
 और यह केवल आत्म ज्ञान प्राप्त कर के ठीक की जा सकती है..


 Kisi Aatma Ki Sabse Badi Galti Apne Asal Rup Ko Na  Phachanna Hai,
 Aur Yah Keval Aatm Gyan Prapt Kar Ke Ke Thi Ki Ja Shakti Hai....


 एक व्यक्ति जलते हुए जंगल के मध्य में एक ऊँचे वृक्ष पर बैठा है,
  वह सभी जीवित प्राणियों को मरते हुए देखता है.
  लेकिन वह यह नहीं समझता की जल्द ही उसका भी यही हश्र  होने  वाला है,
  वह आदमी मूर्ख है..


 Ek Vykit Jalte Huy   Jangal Ke Madhya Me Ek Unche  Vraksha Par Betha Hai,
 Wah Sabhi Jivit Praniyon Ko Marte Huye Dhekta Hai,
 Lakin Wah Yah Nahi Samjhta Ki Jald Hi Uska Bhi Yahi  Hasra Hone Vala Hai,
 Wah Admi Murkh Hai...


 किसी के अस्तित्व को मत मिटाओ,
 शांतिपूर्वक जिओ और दुसरो को भी जीने दो.


 Kisi Ke  Astitva  Ko Mat Mitao,
   Shantipurvak Jio Aur Dusro Ko Bhi Jene Do...

भगवान महावीर स्वामी के ढेरो अनमोल उपदेश 

 प्रत्येक जीव स्वतंत्र है, 
 कोई किसी और पर निर्भर नहीं करता..

 
Prtyek Jiv Svatantra Hai,
 Koi Kisi Aur Par Nirbhar Nahi Karta......
Lord Mahavira Quotes In Hindi 

 आपात स्थिति में मन को डगमगाना नहीं चाहिये..


 Aapat Sithti Me Man Ko Dagmgana Nahi Chahiye....

 Note: दोस्तों बहुत सावधानी बरतने के बावजूद यदि ऊपर दिए गए किसी भी वाक्य या Quote में आपको कोई त्रुटि मिले तो कृपया हमें क्षमा करें और comments के माध्यम से अवगत कराएं ताकि उन त्रुटियों को सुधार सके हम. आशा हैं की आप हमारा साथ देंगे  धन्यवाद  
 विश्व प्रसिद्द लेखकों और विद्वानों द्वारा लिखे गए और बोले गए अनमोल विचार एवं कथनों को और ज्यादा पढ़ने और जानने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर जाते..




No comments:

Post a Comment