Monday, 17 April 2017

Best Collection of 55+ Mohabbat Shayari / 55+ बेहतरीन मोहब्बत शायरी

Heart Touching Collection of 55 Mohabbat Shayari / Mohabbat Shayari For Facebook.

दोस्तों आज का यह आर्टिकल शब्दों के जाल से बना हैं, क्युकी शब्द ही हैं जो हर बात को बड़ी बारीकी से कह जाता हैं, और आज के इस शब्दों के जाल की शुरुआत मोहब्बत से की गयी हैं.. और आज इस ब्लॉग पोस्ट में मोहब्बत का शब्द लिया गया हैं,
top-55-Mohabbat-Shayari-list
top 55  Mohabbat Shayari list

दोस्तों इस आर्टिकल में आप को मोहब्बत से जुडी ढेरों शायरी मिलेंगी जो आप को बेहद पसंद आएँगी, पिछले पोस्ट 2 Line Shayri की तरह.... अगर आप ने पिछला पोस्ट नहीं पढ़ा तो जरुर पढ़िएगा..

सच ही कहा गया हैं जिस इंसान के दिल में जुबान में और उसके शब्दों में मोहब्बत ना हो वो इंसान पृथ्वी पर बोझ के सामान हैं.

तो देर कैसी आईये पढ़ते हैं मोहब्बत से जुडी ढेरो शायरी और शेयर करते हैं Facebook और Whatsapp पर अपने दोस्तों को


सोचते है, अब हम भी सीख ले यारों बेरुखी करना,
सबको मोहब्बत देते-देते, 
हमने अपनी कदर खो दी ..... 

Sochate Hain Ham Bhi Sikhle Yaaro Berukhi Karana,
Sabako Mohabbat Dete Dete,
Hamane Apani Kadar Kho Di....


मुस्कुराने से शुरू और रुलाने पे खतम,
ये वो जुल्म हैं,
जिसे लोग मोहब्बत कहते हैं....


Muskurane Se Shuru Aur Rulane Se Khatm,
Ye Wo Zulm Hain,
Jise Log Mohabbat Kahate Hain....

2 लाइन मोहब्बत शायरी

कमाल की मोहब्बत थी उसको हम से,
अचानक ही शुरू हुई और बिन बतायें ही ख़त्म..... 

Kanaal Ki Mohabbat Thi Usako Hamse,
Achanak Shuru Huyi, Aur Bin Bataye Khaym....


जाने कब उतरेगा कर्ज उसकी मोहब्बत का
हर रोज आँसुओं से इश्क की किस्ते  भरता हूँ


Naa Jane Kab Utarega Karz Usaki Mohabbat Ka,
Har Roz Anshuon Se Ishk Ki Kiste Bharata Hu...

Best Collection of 55 Mohabbat Shayari In Hindi


खत्म कर दी थी जिन्दगी की हर खुशियाँ तुम पर,
कभी फुर्सत मिले तो सोचना मोहब्बत किस ने की थी.....


Khatm Kar Di Thi Zindagi Ki Har Khushiyan Tum Par,
Kabhi Fursat Mile To Sochana Mohabbat Kisne Ki Thi...


ये दिल न जाने क्या कर बैठा,
मुझसे बिना पूछे ही फैसला कर बैठा,
इस ज़मीन पर टूटा सितारा भी नहीं गिरता,
और ये पागल चाँद से मोहब्बत कर बैठा..


Ye Dil Naa Jaane Kya Kar Baitha,
Mujhase Bina Puchhe Hi Faisala Kar Baitha,
Is Zamin Par Tuta Hua Sitara Bhi Nhai Geerata,
Aur Ye Chand Se Mohabbat Kar Baitha.....


तू मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है मुझसे,
अगर जिद होती तो शाम तक बाहों में होती.... 


Tu Mohabbat Hain Meri Isliye Dur Hain Mujhase,
Agar Zidd Hoti To Sham Tak Baahon Me Hoti...


ना पेशी होगी.. ना गवाह होगा,
जो भी उलझेगा मोहब्बत से वो सिर्फ तबाह होगा...


Naa Peshi Hogi Naa Gawah Hoga,
Jo Ulajhega Mohabbat Se Wo Sirf Tabah Hoga...


फिक्र ना करो कोई जंजीर नही है के पाव से लिपट जायेगे, 
हम तो मोहब्बत है राख बन के तेरी राहो मै बिखर जायगे...


Fikr Naa Karo Koi Zanjir Nahi Hain Ke Panv Se Lipat Jayenge,
Ham To Mohabbat Hain Rakh Ban Kar Teri Rahon Me Bikhar Jayenge...


मेरी मोहब्बत का अंदाजा, मत लगाना मेरी जान,
हिसाब मैं लूंगी नहीं,
और चुकता तुम कर नहीं पाओगे...


Meri Mohabbat Ka Andaza Mat Lagana Meri Jaan,
Hisab Mai Lungi Nahi,
Aur Chukata Tum Kar Nahi Paoge...


याद रखते हैं हम आज भी उन्हें पहले की तरह,
कौन कहता है फासले मोहब्बत की याद मिटा देते हैं...


Yaad Rakhate Hai Ham Aaj Bhi Unhe Pahale Ki Tarah,
Kaun Kahata Hain Faasale Mohabbat Ki Yaad Mita Deti Hain...

2 लाइन मोहब्बत शायरी

मिलने का दौर और बढ़ाइए मोहब्बत में … 
अब यादों से गुज़ारा नहीं होता।


Milane Ka Daur Aur Badhayiye Mohabbat Me,
Ab Yaadon Se Guzara Nahi Hota...

"Mohabbat Shayari" In Hindi

बहुत ही ​खूबसूरत ​लम्हा​ था वो …
जब उसने कहा था, ​
मुझे​ ​तुमसे​ ​मोहब्बत​ ​है​ ​और​ ​तुमसे​ ​ही​ ​रहेगी.....

Bahut Hi Khubsurat Lamha Tha Wo,
Jab Usane Kaha Tha,
Mujhe Tumase Mohabbat Hain, 
Aur Tumhi Se Hi Rahegi....


मोहब्बत की दास्ताँ लिखने का हुनर तो आ गया मुझमे,
पर महबूब को मनाने मेंअब भी नाकाम हूँ मैं....

Mohabbat Ki Dastan Likhane Ka Hunar To Aa Gaya Mujhame,
Par Mahbub Ko Manane Me Nakam Hu Main...


आग़ाज़-ए-मोहब्बत का अंजाम बस इतना है ,
जो  दिल की तमन्ना थी अब दिल में ही रह ग्स्यी...


Agaz-E-Mohabbat Ka Anzam Bas Itana Hain,
Jo Dil Ki Tamanna Thi, Ab Dil Me Hi Rah Gayi...


ये रात, उसकी यादे और नींद  का बोझ,
अगर हम मोहब्बत ना करते तो कब के सो गये होते....


Ye Raat, Usaki Yaad Aur Nind Ka Bojh,
Agar Ham Mohabbat Naa Karate To,
Kab Ke So Gaye Hote....

2 लाइन मोहब्बत शायरी


बेवजह है तभी मोहब्बत है,
वजह होती, तो साजिश होती...

Bevazah Hain Tabhi Mohabbat Hain,
Vazah Hoti, To Sazish Hoti...


इस अँग्रेजी की ''लव'' वाली दुनिया में..
मेरी उर्दू की 'मोहब्बत' को वो समझ ना सका .


Is Angreji Ki "Love" Wali Duniya Me,
Meri Urdu Ki "Mohabbat" Ko Wo Samjha Naa Saka..


कहने लगी है अब तो मेरी तन्हाई भी मुझसे,
मुझसे ही कर लो मोहब्बत मैं तो बेवफा भी नही..


Lagi Hain Ab To Meri Tanhayiya Bhi Mujhse,
Mujhse Hi Kar Lo Mohabbat,
Mai To Bewafa Bhi Nahi....


मोहब्बत वहाँ होती है जहाँ विश्वास होता है
शक की बुनियाद से ही मोहब्बत बरबाद होती है


Mohabbat Wahan Hoti Hai, Jaha Vishvas Hota Hai,
Shak Ki Buniyad Se Mohabbat Barbaad Hoti Hain...


ऐ सनम जिसने तुझे चाँद सी सूरत दी है...
उस ही मालिक ने मुझे भी तो मोहब्बत दी है...


Ye Sanam Jisane Tujhe Chand Si Surat Di Hai,
Us Hi Malik Ne Mujhe Bhi  To Mohabbat Di Hain..

Best Collection of "55 Mohabbat Shayari" In Hindi

लफ़्ज़ों से कहाँ लिखी जाती है ये बेचैनियां मोहब्बत की,
मैंने तो हर बार दिल की गहराईयो से पुकारा है तुम्हे...


Lafzo Se Kaha Likhi Jati Hai Ye Bechainiya Mohabbat Ki,
Maine To Har Baar Dil Ki Gaharayiyo Se Pukara Hain Tumhe..


एक बार दर्द-ए-दिल ख़तम कर दे ए खुदा,
वादा करता हु दुबारा मोहब्बत ना करूँगा..


Ek Baar Dard-E-Dil Khatm Kar De E Khuda,
Wada Karata Hu Dubara Mohabbat Naa Karunga...


सुना था मोहब्बत मिलती है मोहब्बत के बदले
जब हमारी बारी आयी तो रीवाज ही बदल गया


Suna Tha Mohabbat Milati Hain, Mohabbat Ke Badale,
Jab Hamari Baari Aayi To Rivaz Badal Gaya..

Mohabbat Shayari In Hindi

कुछ लोग पसंद करने लगे हैं अल्फाज मेरे,
मतलब मोहब्बत में बरबाद और भी हुए हैं...


Kuchh Log Pasand Karane Lage Hai Alfaaz Mere,
Matalab Mohabbat Me Barbaad Aur Bhi Huye Hain..


न जख्म भरे,न शराब सहारा हुई,
न वो वापस लौटी न मोहब्बत दोबारा हुई...


Naa Zakhm Bhare Naa Sharab Sahara Huyi,
Naa Wo Vaapas Lauti Naa Mohabbat Dobaara Huyi...


ऐ मोहब्बत, तुझे पाने की कोई राह नहीं,
तू तो उसे ही मिलेगी जिसे तेरी परवाह नहीं...


Ye Mohabbat Tujhe Paane Ki Koi Raah Nahi,
Tu To Use Hi Milegi Jise Teri Parwaah Nahi...


मोहब्बत की आजमाइश दे दे कर थक गया हूँ ऐ खुदा,
किस्मत मेँ कोई ऐसा लिख दे.
जो मौत तक वफा करे...


Mohabbat Ki Ajamayish De De Kar Thak Gaya Hu E Khuda,
Kisamat Me Koi Esa Likh De,
Jo Maut Tak Wafa Kare...


वो जिस दिन करेगा याद मेरी मोहब्बत को,
रोयेगा बहुत खुद को बेवफा कह कर


Wo Jis Din Karega Yaad Meri Mohabbat Ko,
Royega Bahut Khud Ko Bewafa Kar Kar...

मोहब्बत कैसी भी हो कसम से, 
सजदा करना सिखा देती है ....


Mohabbat Kaisi Bhi Ho Kasam Se,
Sajada Karana Sikha Deti Hain...

2 लाइन मोहब्बत शायरी

वादो से बंधी जंजीर थी जो तोड दी मैँने,
अब से जल्दी सोया करेंगे, 
मोहब्बत छोड दी मैँने.... 

Wado Ki Zanjjeere Thi Tod Di Maine,
Ab Soya Karenge, 
Mohabbat Chhod Di Maine...


मुहब्बत में झुकना कोई अजीब बात नहीं,
चमकता सूरज भी तो ढल जाता है चाँद के लिए... 


Mohabbat Me Jhukana Koi Ajeeb Baat Nahi,
Chamakata Suraj Bhi Dhal Jata Hain Chand Ke Liye...


मुझे तेरे साथ ही चाहत थी जीने के लिए, 
वरना मोहब्बत तो किसी से भी हो सकती थी....


Mujhe Tere Sath Hi Chahat Thi Jeene Ke Liye,
Warana Mohabbat To, Kisi Se Bhi Ho Sakati Thi...


चली आती है तेरी याद रातो में अक्सर,
तुझे हो ना हो तेरी यादो को जरूर  मोहब्बत है मुझसे.....


Chali Aati Hain Teri Yaad  Raato Ko Aksar, 
Tujhe Ho Na Ho, Teri Yaadon Ko Jarur Mohabbat Hain Mujhase...


कितनी छोटी सी है ये जन्नत मेरी,
एक मैं हूँ और एक महोब्बत मेरी....


Kitani Chhoti Si Hai Zannat Apani,
Ek Mai Hu Aur Ek Mohabbat Teri...


मुझें छोड़कर वो खुश हैं तो शिकायत कैसी,
अब मैं उन्हें खुश भी न देखूं तो मोहब्बत कैसी...


Mujhe Chhod Kar Khush Hain To Sikayat Kaisi,
Ab Mai Unhe Khush Bhi Naa Dekhu To Mohabbat Kaisi

Mohabbat Shayari In Hindi

मुहब्बत तो दिल देकर, की जाती है मेरे दोस्तों,
चेहरा देखकर तो लोग,सिर्फ सौदा करते हैँ ......


Mohabbat To Dil Dekar Ki Jati Hain Dosto,
Chaihara Dekhkar To Log Sirf Shauda Karate Hain..



कैसे ये कह दूं की तुमसे मोहब्बत नहीं,
मुँह से निकला झूठ.आँखों से पकड़ा जायेगा...


Kaise Kah Du Ki Tumase Mohabbat Nahi,
Munh Se Nikala Jhuth, Ankhon Se Pakada Jayega...


जब कभी सिमटोगे इन बाहो मे आ कर,
मोहब्बत की दास्तां हम नही हमारि धड़कने सुनाएंगी...


Jab Kabhi Simatoge Baanho Me Aa kar,
Mohabbat Ki Dastan Ham Nahi Hamari Dhadakane Sunayegi...


मोहब्बत क्या है चलो दो लब्ज़ों में बताते है,
तेरा मजबूर करना मेरा मजबूर हो जाना.....


Mohabbat Kya Hain Chalo Do Lafzo Me Batate Hain,
Tera Mazboor Karana, Mera Mazaboor Hona.....


ये सोचकर हमने ख़ुद को बेरंग रखा है,
सुना है सादगी ही मोहब्बत की रूह होती है..


Ye Soch Kar Hamane Khud Ko Berang Rakkha Hain,
Suna Hain Sadagi Hi, Mohabbat Ki Ruh Hoti Hain.....


मोहब्बत और भी बढ़ जाती है जुदा होने से,
तुम सिर्फ मेरे हो इस बात का ख्याल रखना...


Mohabbat Aur Badh Jati Hain Juda Hone Se,
Tum Sirf Mere Ho Is Baat Ka Khyal Rakhana....


जब हो जाये मेरी मोहब्बत पे एतबार.
तो लौट आना हम आज भी तेरे इन्तजार में हैं...


Jab Ho Jaye Mohabbat Pe Etabaar,
To Laut Aana Ham Aaj Bhi Tere Intzaar Me Hain....

Best Collection of 55 Mohabbat Shayari In Hindi

देख कर उसको तेरा यूँ पलट जाना,
नफरत बता रही है तूने गज़ब की मोहब्बत थी....

Dekh Kar Usako Tera U Palat Jana,
Nafarat Ye Bata Rahi Hain, Tune Gazab Ki Mohabbat Thi...


मेरी मोहब्बत की सच्चाई को तो देख,
अब मैं तेरे नाम वालो से भी मोहब्बत से पेश आता हूं ...

Meri Mohabbat Ki Sachchayi Ko To Dekh,
Ab Tere Naam Walo Se Bhi Mohabbat Se Pesh Aata Hu...


  अन्य चुनिन्दा रोमांटिक, सेड, 2 लाइन शायरी  और पिक्चर शायरी पोस्ट के लिए नीचे दिए गए लिंक पर जाए....
Previous Post
Next Post

About Author

0 comments: